23.1 C
New Delhi
Thursday, September 21, 2023
अन्य

    सीएम की सुरक्षा में भारी लापरवाही, बाल बाल बचे नीतीश, पिलर से टकराया स्टीमर

    “सीएम की बोट जेपी सेतु के एक पिलर से टकरा गई। उनके साथ जल संसाधन मंत्री के अलावे कई पदाधिकारी मौजूद थे। नाव में सवार सभी लोग सुरक्षित हैं...

    पटना (एक्सपर्ट मीडिया न्यूज)। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार उस समय बाल-बाल बच गए, वे अपने सहयोगी मंत्री और अन्य पदाधिकारियों के साथ छठ घाट का निरीक्षण कर रहे थे। 

    एएनआई के हवाले से मिली खबर के मुताबिक सीएम की बोट जेपी सेतु के एक पिलर से टकरा गई। एएनआई से मिली जानकारी के मुताबिक स्टीमर पर सवार सभी लोग सुरक्षित हैं।

    जानकारी के अनुसार पिलर से टकराने से स्टीमर को भी क्षति पहुंची। स्टीमर में सवार सभी लोग अचानक हिल गये। सीएम और उनके साथ मौजूद सभी पदाधिकारी दूसरे स्टीमर से बाहर निकले। उनके साथ एक स्टीमर भी चल रही थी। बाहर निकले सड़क मार्ग से सीएम आवास लौटे।

    दरअसल,  छठ त्यौहार के पहले गंगा नदी में बाढ़ आ जाने की वजह से घाटों पर छठ पूजा करना मुश्किल है। ऐसे में प्रशासन छठ पूजा के लिए विकल्प की तलाश कर रहा है।   इसी के मद्देनजर सीएम नीतीश कुमार छठ घाटों का निरीक्षण करने के लिए निकले थे।

    मुख्यमंत्री स्टीमर पर सवार होकर गंगा नदी में घाटों का निरीक्षण करने निकले थे। हादसा इसी दौरान का बताया जा रहा है।

    इस मामले में सीएम कार्यालय की ओर से प्रेस रिलीज जारी कर बताया गया है की नीतीश कुमार लोक आस्था के महापर्व छठ के मद्देनजर घाटों का निरीक्षण किया।  दानापुर के नासरीगंज से पटना सिटी के गायघाट तक स्ट्रीमर पर सवार होकर छठ घाटों का मुआयना किया गया।

    इस दौरान सीएम ने सफाई, सुरक्षा एवं स्वच्छता के संबंध में पदाधिकारियों को कई निर्देश दिए और कहा कि हर हाल में छठ व्रतियों की सुरक्षा और सुविधा सुनिश्चित किया जाए। उन्हें किसी तरह की कोई परेशानी नहीं होनी चाहिए।

    सीएम ने पदाधिकारियों को निर्देश दिया की गंगा नदी के जलस्तर और प्रवाह को देखते हुए छठ घाटों पर पुख्ता सुरक्षा के इंतजाम करें। सुरक्षा व ट्रैफिक के लिए आवश्यक बैरिकेडिंग भी कराएं तथा घाटों तक के पहुंच पथ को दुरुस्त किया जाए।

    निरीक्षण के दौरान सीएम कैलावे जल संसाधन मंत्री संजय कुमार झा, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव दीपक कुमार मुख्य सचिव आमिर सुबहानी समेत कई पदाधिकारी मौजूद थे ।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    आपकी प्रतिक्रिया

    विशेष खबर

    error: Content is protected !!