अन्य
    Tuesday, April 16, 2024
    अन्य

      कयास, तो किस भाजपा नेता की बेटी से ब्याह करेंगे तेजस्वी !

      बिहार की राजनीति में हलचल मचा देने वाली खबर आ रही है। खबर के मुताबिक आने वाले समय में राजद के छोटे युवराज तेजस्वी यादव भाजपा के एक वरिष्ठ नेता की बेटी के साथ ब्याह रचा सकते हैं।अगर खबर सही निकली तो बिहार में एक नया समीकरण बन सकता है।जिसका कयास पहले से ही लग रहा है

      पटना (एक्सपर्ट मीडिया न्यूज नेटवर्क ब्यूरो)। सियासी गलियारे में जो खबरें छनकर आ रही है अगर वह सच साबित हुआ तो आने वाले समय में बिहार की राजनीति में भूचाल आना तय माना जा रहा है। दिल्ली से जो खबर उड़ रही है, उसके अनुसार आने वाले समय में राजनीतिक समीकरण बनने और बिगड़ने के आसार है।

      tejaswi and nitish 2देखा जाए तो लोकसभा चुनाव परिणाम के बाद से राजद के युवराज तेजस्वी यादव राजनीतिक नेपथ्य में है। जिसको लेकर तरह तरह की चर्चा भी चली। बाद में पता चला कि तेजस्वी यादव दिल्ली में ही डेरा जमाएं हुए हैं। वे वही से पार्टी को निर्देश दे रहे हैं।

      अब राजनीतिक गलियारे में जो खबरें निकल कर आ रही है। उसके अनुसार तेजस्वी यादव की शादी की चर्चा चल रही है। वो भी भाजपा के एक वरिष्ठ नेता की पुत्री के साथ। अगर ऐसा हुआ तो बिहार की राजनीति में भूचाल तय है।

      फिलहाल इस खबर को सिर्फ़ उड़ती खबर माना जा रहा है। कुछ दिन पहले ही राजद के युवराज और पीएम नरेंद्र मोदी की सोशल साइट पर वायरल फोटो कुछ और ही संकेत दे रहा है।

      इधर पिछले कुछ दिनों से दिनों से एनडीए और यूपीए में कुछ ठीक नहीं चल रहा है। दोनों गठबंधनों के गांठ ढीले पड़ने के संकेत मिल रहा है। एनडीए में मुख्यमंत्रीं  नीतीश कुमार और यूपीए में  राजद के युवराज के विरुद्ध नाराजगी उभरकर सामने आने लगी है।tejaswi and nitish 1

      यूपीए में राजद के युवराज के गुमशुदा होने को लेकर नाराजगी के साथ महागठबंधन में अब यह आवाज जोर पकड़ रहा है कि युवराज के हाथ में बिहार सौपने का मतलब बंदर के हाथ में नारियल देने की कहावत चरितार्थ होगी।

      यह संघर्ष विराम गठबंधनों में लेता नजर नहीं आ रहा है। एक तरफ उपेन्द्र कुशवाहा तो दूसरी तरफ जीतन राम मांझी भी सीएम पद के लिए ताल ठोकने में लगें हुए हैं।

      पूर्व डिप्टी सीएम और प्रतिपक्ष नेता तेजस्वी यादव की आने वाले समय में भाजपा नेता की बेटी के साथ शादी करने की खबर पर मुहर लग सकता है तो सियासी समीकरण बन और बिगड़ भी सकता है।

      tejaswi and nitish 3

      राजनीतिक कयास तो यहाँ तक लगाया जा रहा है कि अगर ऐसा होता है तो रघुवंश प्रसाद सिंह के नेतृत्व में पार्टी टूट भी सकती है। पार्टी का एक धड़ा श्री सिंह के साथ  जदयू के साथ भी जा सकता हैं। समझा जाता है कि इस कार्य को अंजलि जामा पहनाने में नीतीश के खास सिपहसलार प्रशांत किशोर एक्टिव दिख रहे हैं।

      प्रतिपक्ष नेता पिछले कई माह से लगातार दिल्ली में डेरा जमाएं हुए हैं ।जिसके पीछे पहले भी खास वजह बताया जा रहा था।उनके दिल्ली में होने के पीछे भी बिहार की राजनीति में नया समीकरण बनने की आशंका जताई जा रही थी।जिस पर मुहर लगता दिख रहा है।

      इस समीकरण से जदयू की परेशानी बढ़ सकती है। वैसे भी सीएम के चेहरे को लेकर भाजपा और जदयू आमने -सामने है। अगर डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी को छोड़ दें तो भाजपा का कोई भी वरीय नेता सीएम नीतीश को  चेहरा नहीं मानना चाह रहा है।

      tejaswi and nitish 4एनडीए के घटक दल लोजपा ने भले ही सीएम पद के लिए नीतीश कुमार को नैतिक समर्थन दिया हो लेकिन भाजपा अब और कुर्बानी देने के पक्ष में नहीं है।

      इधर दिल्ली में शादी की खबर सुनकर मीडिया लगातार तेजस्वी यादव से संपर्क साधने में लगा हुआ हैं। लेकिन उनका पता-ठिकाना दिल्ली में मिल नहीं रहा है।

      फिलहाल प्रतिपक्ष नेता तेजस्वी यादव की शादी की चर्चा को लेकर राजनीति गरमा सकती है। राजनीति संभावनाओं का खेल है। कुछ भी राजनीतिक समीकरण बन सकता है। देखना दिलचस्प होगा।

       

      छत्तीसगढ़ मंत्रिमंडल के फैसले में 32 प्रतिशत आदिवासी आरक्षण को बढ़ाने पर मुहर

      भाजपा ने 20-25 भ्रष्ट विधायक खरीदकर मध्य प्रदेश में बनाई सरकारः राहुल गांधी

      मंत्री ने ‘गंगा जल आपूर्ति योजना’ के अंतिम चरण के कार्यों का किया निरीक्षण

      27 नवंबर को होगी प्रदेश जदयू अध्यक्ष का चुनाव, नवनिर्वाचित जिलाध्यक्षों की लिस्ट जारी, देखें सूची

      5 साल की मासूम संग दुष्कर्म के आरोपी को पंचायत ने उठक-बैठक करवाकर छोड़ा

      संबंधित खबरें
      error: Content is protected !!