अन्य
    Friday, March 1, 2024
    अन्य

      बोले पूर्व सीएम जीतन राम मांझी- ‘भगवान नहीं, वाल्मीकि-तुलसीदास के काव्य पात्र थे राम’

      *देश के मूल निवासी नहीं हैं उच्च जाति कहलाने वाले लोग*ब्राह्मण मांस खाते हैं, शराब पीते हैं, झूठ बोलते हैं, उनसे पूजा पाठ करना पाप*अतिपिछड़ा, आदिवासी और दलित ही भारत देश के मूल निवासी

      जमुई (एक्सपर्ट मीडिया न्यूज नेटवर्क)। “गोस्वामी तुलसीदास और वाल्मीकि को मानता हूं लेकिन राम को हम नहीं मानते हैं। राम कोई भगवान नहीं थे। वह गोस्वामी तुलसीदास व वाल्मीकि के काव्य के पात्र थे“।

      यह बातें प्रखंड क्षेत्र के लछुआड़ में बाबा साहब भीम राव आंबेडकर की जयंती व माता सबरी महोत्सव समारोह में बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री व हम पार्टी सेक्युलर के राष्ट्रीय अध्यक्ष जीतन राम मांझी ने कही है।

      पूर्व मुख्यमंत्री ने एक बार फिर ब्राह्मणों पर विवादित बयान देते हुए कहा कि जो ब्राह्मण मांस खाते हैं, शराब पीते हैं, झूठ बोलते हैं, वैसे ब्राह्मणों से पूजा पाठ कराना पाप है। बड़े बड़े लोग पूजा कराते हैं तो क्या वह बड़े हो गए। पूजा पाठ कराने से लोग बड़े नहीं बनते हैं।

      उन्होंने लोकमान्य तिलक और पंडित जवाहर लाल नेहरू की चर्चा करते हुए कहा कि अतिपिछड़ा, आदिवासी और दलित ही भारत देश के मूल निवासी है। बड़े और उच्च जाति कहलाने वाले लोग बाहरी हैं, वह हमारे देश के मूल निवासी नहीं हैं।

      पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारे हिंदुस्तान में दो ही जाति के लोग हैं, एक अमीर और दूसरा गरीब है। अमीर का बेटा प्राइवेट स्कूलों में शिक्षा ग्रहण करता है तो गरीब का बेटा सरकारी स्कूलों में।

      पूर्व सीएम ने न्यायपालिका में आरक्षण के साथ समान शिक्षा प्रणाली पर बल दिया। कहा कि लोग बाबा भीम राव आंबडेकर की बातों को रटते हैं, लेकिन उसका सही अनुपालन नहीं करते हैं। जिस बात का नारा बाबा साहब ने दिया था, उसे आत्मसात कर आगे बढ़ने की जरूरत है।

      इससे पहले पूर्व मुख्यमंत्री ने बाबा साहब और माता सबरी के चित्र पर पुष्पांजलि अर्पित की। वहीं दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया। तत्पश्चात कार्यकर्ताओं ने पूर्व मुख्यमंत्री का माल्यार्पण कर स्वागत किया।

      वहीं कार्यक्रम में क्षेत्रीय विधायक प्रफुल्ल कुमार मांझी ने भी बाबा साहब के कृतित्व व उनके विचारों को विस्तार से बताया।

      कार्यक्रम के अंत में पूर्व मुख्यमंत्री द्वारा कार्यक्रम स्थल से सटे ही माता सबरी मंदिर निर्माण को लेकर ध्वजारोहण कर आधारशिला रखी गई।

      कार्यक्रम की अध्यक्षता व मंच संचालन महादेव मांझी ने किया। इस अवसर पर पूर्व भाजपा जिलाध्यक्ष नवल किशोर सिंह, जदयू प्रखंड अध्यक्ष ब्रजेश कुमार, वरिष्ठ जदयू नेता व जिला उपाध्यक्ष चंद्रदेव सिंह, अम्बिका यादव, कृष्ण कुमार चंद्रवंशी, धनेश्वर प्रसाद, मुखिया सूचित कुमार, जदयू नेता अनुज कुमार सिंह, सुरेन्द्र पंडित, छात्र जदयू नेता नीतीश कुमार समेत कई अन्य उपस्थित थे।

      जदयू में हो सकता है बड़ा खेला, सीएम नीतीश के नालंदा संवाद यात्रा के संकेत

      त्रिकुट रोपवे हादसाः 2 महिलाओं की मौत,12 जख्मी, फंसे हैं 48 लोग, सेना ने संभाला मोर्चा

      बिहारः 47 साल पुराना 20 टन भारी पुल चोरी मामले में एसडीओ समेत 8 आरोपी गिरफ्तार

      प्रेम-प्रसंग में उलझी 6 सहेलियों ने कसमे वादे में एक साथ खाया जहर, 3 की मौत, 3 की हालत गंभीर

      41 साल बाद कोर्ट में साफ हुआ कन्हैया असली या नकली वारिस, मिली 3 साल की सज़ा

      LEAVE A REPLY

      Please enter your comment!
      Please enter your name here

      - Advertisment -
      - Advertisment -
      संबंधित खबरें
      - Advertisment -
      error: Content is protected !!