अन्य
    Wednesday, April 17, 2024
    अन्य

      नालंदा में इस हाई स्कूल के निरीक्षण के दौरान विफर पड़े शिक्षा विभाग के अपर सचिव केके पाठक

      “स्कूल निरीक्षण के दौरान में बारिश भी काफी तेज पड़ रही थी। उसके बावजूद भी अपर सचिव के पाठक हर बिंदुओं पर बारीकी से विद्यालय का जांच करते दिखे…

      नालंदा (एक्सपर्ट मीडिया न्यूज)। बिहार सरकार के शिक्षा विभाग के उपर सचिव केके पाठक गुरुवार के दिन नगरनौसा प्रखंड के विभिन्न विद्यालयों का निरीक्षण किये।

      During the inspection of this high school in Nalanda Education Departments Additional Secretary KK Pathak failed 2अपर सचिव केके पाठक सबसे पहले मध्य विद्यालय नगरनौसा पहुंच विद्यालय का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान बच्चों से सवाल जबाब भी किये, सवाल के बाद बच्चों द्वारा दिए गए उत्तर से संतुष्ट हुए और बच्चे को उत्साह बढ़ाते हुए वेरी गुड बोले।

      निरीक्षण के दैरान केके पाठक ने विद्यालय में बन रहे शौचालय को तोड़कर विद्यालय परिसर में बने जर्जर भवन को तोड़कर उसी जगह शौचालय बनाने का निर्देश दिया।

      मध्य विद्यालय के निरीक्षण करने के बाद केके पाठक हाई स्कूल नगरनौसा पहुंचे। हाई स्कूल के निरीक्षण के क्रम में शिक्षा विभाग के अपर सचिव केके पाठक को कई खामियां मिली। जिससे केके पाठक ने प्रधानाध्यापक पर नाराजगी जाहिर करते हुए अविलंब सभी खामियां दूर करने का निर्देश दिया।During the inspection of this high school in Nalanda Education Departments Additional Secretary KK Pathak failed 3

      निरीक्षण के क्रम में केके पाठक ने हाई स्कूल के खेल परिसर में बने कमरा में पशु चारा देख आग बबूला हो गए। उन्हें अभिलंब इसे खाली करवा कर इसमें बच्चों का पढ़ाई शुरू करने का निर्देश दिया। साथ ही बगल में बने सभागार भवन में अभिलंब पढ़ाई शुरू करने का निर्देश दिया।

      उन्होंने यह भी कहा कि सभागार में कोई भी सभा कार्यक्रम विद्यालय बंद होने के बाद ही होगा विद्यालय के समय कोई भी कोई भी सभा कार्यक्रम सभागार में नहीं हो सकता है। निरीक्षण के क्रम में विद्यालय का लाइब्रेरी के कमरा में अंधेरा देख प्रधानाध्यापक पर बिफरे।During the inspection of this high school in Nalanda Education Departments Additional Secretary KK Pathak failed 1

      उन्होंने लाइब्रेरी में रोशनी का पूरा व्यवस्था करने का निर्देश दिया। साथ ही जनरेटर खरीदने का भी आदेश दिया। विद्यालय में बन रहे शौचालय पर भी अपनी नाराजगी जाहिर किया।

      उन्होंने कहा कि सही जगह शौचालय निर्माण नहीं हो रहा है। बन रहे शौचालय को तोड़कर बाउंड्री बॉल से लेकर शौचालय का निर्माण कराया जाए। निरीक्षण के दौरान विद्यालय परीसर में लगा चापाकल का हैंडल खोलकर रखे जाने पर भी नाराजगी व्यक्त किया।

      उन्होंने अभिलंब चापाकल में हैंडल लगाने का निर्देश दिया। निरीक्षण के दौरान सभागार का ताला खोलने का निर्देश दिया। निर्देश देने के बाद भी सभागार का एक भी ताला नहीं खुलने पर कड़ा प्रतिक्रिया व्यक्त किया।

      संबंधित खबरें
      error: Content is protected !!