अन्य
    Sunday, April 14, 2024
    अन्य

      नालंदा में अलग-अलग हादसों में 2 सगी बहन समेत 6 लोगों की मौत

      बिहार शरीफ (एक्सपर्ट मीडिया न्यूज नेटवर्क)। नालंदा जिला के अलग-अलग क्षेत्रों में हुई हादसों में 6 लोगों की अकाल मौत हो गई। जिनमें 2 सगी बहन और एक महिला भी शामिल है।   

      नूरसराय थाना क्षेत्र के पथरौरा गांव में मंगलवार के दिन पईन में डूबने से एक बच्चे की मौत हो गई। मृतक स्वर्गीय जागेश्वर बिंद के (10) वर्षीय पुत्र लोकनाथ कुमार हैं।

      घटना के संदर्भ में परिजन ने बताया कि कर्मा पूजा को लेकर गांव के 4 बच्चे गांव के दक्षिण खंधा स्तिथ डोर पईन किनारे से मिट्टी लाने गए थे।

      हाथों में लगी मिट्टी धोने के लिए बच्चें पईन किनारे गए। तभी एक बच्चा किनारे से फिसल कर पानी मे जा गिरा। जब तक अन्य बच्चे ग्रामीणों को बुलाकर पईन के पास पहुँचते। तब तक किशोर पानी के सतह तक चला गया।

      कड़ी मशक्कत के बाद किशोर के शव को पानी से बाहर निकाला गया। मृत किशोर चार भाई-बहनों में सबसे छोटा था। 2 वर्ष पूर्व ही मृतक के पिता की मौत बीमारी के कारण हो गई थी।

      डूब कर मौत की सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया। पुलिस यूडी केस दर्ज कर अग्रेतर कार्यवाई में जुटी है।

      2 सगी बहनों की पईन में डूबने से हुई मौत: नगरनौसा थाना क्षेत्र के मोनीयमपुर गांव में कर्मा पूजा के लिए मिट्टी एवं झाड़ लाने गई। दो सगी बहनों के पईन में डूबने से मौत हो गई। मृतका मोनीयमपुर गांव निवासी राम सुचित यादव के (14) वर्षीय पुत्री रानी कुमारी एवं (12) वर्षीय पुत्री लवली कुमारी है।

      घटना के संदर्भ में बताया जाता है कि दोनों सगी बहने कर्मा पूजा के लिए गांव से दक्षिण पंचखुरवा खंधा में मंगलवार को झाड़ एवं मिट्टी लाने के लिए गई हुई थी। तभी पईन से झाड़ी निकालने के वक्त पानी का अंदाजा नहीं मिल सका। जिसके कारण गहरे पानी में चले जाने के कारण डूब कर दोनों बहनों की मौत हो गई।

      घटना का पता उस वक्त चला जब वहां से गुजर रहे राहगीरों की नजर पईन में उपलाये शव पर पड़ी। मौत की सूचना जैसे ही घर वालों को मिली परिजनों की चित्कार गांव में गूंजने लगी। कर्मा पर्व के मौके पर हुए इस घटना से पूरा गांव मर्माहत है। डूबकर मौत की सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया है।

      नालंदा में करंट लगने से अधेड़ की मौत: बेन थाना क्षेत्र के दाहाघाट गांव में मंगलवार को शौच गए अधेड़ के ऊपर विद्युत प्रवाहित तार गिरने से घटनास्थल पर ही मौत हो गई। मृतक स्वर्गीय बालदेव यादव के पुत्र सत्येंद्र यादव (48) हैं।

      घटना के संदर्भ में मृतक के परिजन ने बताया कि मंगलवार की सुबह सत्येंद्र यादव शौच के लिए खेतों की ओर गए थे। तभी उनके ऊपर विद्युत प्रवाहित तार गिर गया। जिसके कारण वे गंभीर रूप से झुलस गए और उनकी मौके पर ही मौत हो गई। घटना का पता उस वक्त चला जब वहां से गुजर रहे राहगीरों की नजर खेत मे गिरे अधेड़ पर पड़ी।

      ग्रामीणों ने विद्युत विभाग पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए कहा कि घर घर मीटर लगा दिया गया है। जिसके एवज में ग्रामीण बिजली विभाग को रुपए भी अदा करते हैं। बावजूद तारों की न तो मरम्मती ही कि गई है। न ही उसे बदला गया है। इसके कारण आए दिन ग्रामीण अकाल मौत का शिकार हो रहे हैं।

      एक महीने पूर्व ही कामेश्वर यादव के पुत्र नीतीश कुमार की करंट लगने से ही मौत हो गई थी। करंट से मौत की सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया।

      घर से दवाई लेने निकली महिला की मौत: रहुई थाना क्षेत्र के इमली चक बाजार के समीप तेज रफ्तार वाहन ने एक महिला को सोमवार शाम कुचल दिया था। इलाज के दौरान देर रात महिला की मौत हो गई। शव को आज सुबह पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल लाया गया।

      मृतका की पहचान गोखुलपुर थाना क्षेत्र के तिसकुरवा गांव निवासी सत्येंद्र चौधरी की 46 वर्षीया पत्नी उषा देवी के रूप में किया गया है।

      घटना के संदर्भ में परिजन ने बताया कि उषा देवी तीन दिनों से रहुई में अपने रिश्तेदार के यहां रह रही थी। बीती शाम वह इमली चौक बाजार दवाई लाने गई थी। तभी सड़क पार करने के दौरान अज्ञात वाहन ने टक्कर मार दी। जिससे महिला गंभीर रूप से जख्मी हो गई। घायल महिला को पुलिस ने इलाज के लिए भगवान महावीर आयुर्विज्ञान संस्थान पावापुरी में भर्ती कराया। जहां इलाज के दौरान देर रात उषा देवी की मौत हो गई।

      महिला के पास मिले आई कार्ड से उसकी पहचान हुई। जिसके बाद इसकी सूचना परिजनों को दी। मौत कि सूचना पर सदर अस्पताल आए परिजनों ने शव की पहचान की, जिसके बाद मौके पर चित्कार गूंजने लगा।

      पानी भरे गड्ढे में मिली मासूम की लाश: हिलसा थाना क्षेत्र के अकबरपुर गांव में पानी भरे गड्ढे में डूबने से सोमवार की शाम 3 वर्षीय मासूम बच्ची की मौत हो गई।

      मृतका गया जिले के वजीरगंज थाना क्षेत्र के कुर्किहार निवासी दीपक कुमार की पुत्री विशाखा कुमारी (3 वर्ष) है। एक महीना पूर्व ही वह अपनी मां के साथ अकबरपुर गांव ननिहाल आई थी।

      परिजन ने बताया कि बच्ची घर के बाहर खेल रही थी। तभी खेलने के दरमियान ही पानी भरे गड्ढे में डूब गई। शाम होने के बाबजूद भी जब वह घर नहीं लौटी तो उसकी खोजबीन की गई। तभी उसका शव घर के बाहर पानी भरे गड्ढे में उपलाया हुआ था। जिसके बाद घटना का खुलासा हुआ।

      शव मिलने के बाद परिजनों में कोहराम मच गया। परिवार वालों के चित्कार से गांव का माहौल गमगीन हो गया। डूबने की सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर देर शाम पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया।

      संबंधित खबरें
      error: Content is protected !!