अन्य
    Wednesday, June 19, 2024
    अन्य

      पटना में नालंदा निवासी नर्स की गोली मारकर हत्या के पीछे बड़ा रैकेट की बू

      स्वास्थ्य विभाग में वर्षों से जारी पैसे के बल पर एएनएम की बहाली मामले से जुड़ा है। अनेक गैंग पैसे लेकर येन क्रेन प्रकेरेण स्वास्थ्य विभाग में बहाली और स्थानान्तरण का बड़ा कारोबार कर रहा है...

      पटना (एक्सपर्ट मीडिया न्यूज)। बिहार की संवेदनशील राजधानी पटना अंतर्गत गोपालपुर थाना क्षेत्र के भेलवाड़ा गांव में अपराधियों ने एक एएनएम की गोली मारकर हत्या कर दी गई। आनन-फानन में गंभीर रूप से घायल एएनएम को इलाज के लिए एनएमसीएच  में भर्ती कराया गया, जहां इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई।

      मृतका एएनएम नालंदा जिला के चंडी थाना क्षेत्र अंतरगत मुसहरी गांव निवासी कुमारी पुष्पा के रूप में की गई, जो बाढ़ के पंडारक प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में एएनएम के पद पर पदस्थापित थी।

      खबरों के अनुसार 50 वर्षीया एएनएम कुमारी पुष्पा पल्स पोलियो अभियान में राजधानी पटना शहर के राजेंद्र नगर इलाके में ड्यूटी लगी थी। इसी दौरान अपराधियों ने गोपालपुर थाना क्षेत्र के भेलवाड़ा गांव में उन्हें गोली मार दी, जिससे उनकी मौत हो गई। हत्या का कारण पैसे के लेनदेन का विवाद बताया जा रहा है।

      मृतका के पति ने इस जघन्य हत्या का आरोप हनुमान नगर निवासी जितेंद्र प्रसाद और उनके भाई प्रमोद कुमार पर लगाया है। जगदेव प्रसाद का कहना है कि लगभग 10 साल पहले कुमारी पुष्पा ने जितेंद्र प्रसाद से 2 लाख रुपए कर्ज लिया था और अब तक 80 से 90 हजार रुपए कर्ज अदा कर दी थी। शेष पैसा देने का दबाव बनाया जा रहा था।

      इधर विश्वस्त सूत्रों का कहना है कि एएनएम की हत्या पैसे की लेन-देन को लेकर हुई है, लेकिन मामला किसी कर्ज अदायगी का नहीं है, बल्कि स्वास्थ्य विभाग में वर्षों से जारी पैसे के बल पर एएनएम की बहाली मामले से जुड़ा है।

      सूत्रों के अनुसार काफी लंबे अरसे से अनेक गैंग पैसे लेकर येन क्रेन प्रकेरेण स्वास्थ्य विभाग में बहाली और स्थानान्तरण का बड़ा कारोबार कर रहा है। एएनएम भी उसी में एक नेटवर्क से जुड़ी थी। हत्या का कारण इसी क्रम की लेनदेन के विवाद में हुई बताई जाती है।

      संबंधित खबरें
      error: Content is protected !!