अन्य
    Wednesday, July 24, 2024
    अन्य

      एनएच-30 पर बस-ट्रक की सीधी टक्कर से 15 लोगों की मौत, 40 यात्रियों से अधिक जख्मी

      रीवा (इंडिया न्यूज रिपोर्टर)। मध्य प्रदेश के रीवा के नजदीक नेशनल हाईवे-30 पर भीषण सड़क हादसा हो गया। इसमें 15 लोगों की मौत हो गई। 40 से ज्यादा यात्री घायल हैं।

      राहगीरों की सूचना के बाद सोहागी पुलिस मौके पर पहुंची और बस में फंसे यात्रियों को रेस्क्यू किया। गंभीर रूप से घायलों को एंबुलेंस से त्योंथर सिविल अस्पताल पहुंचाया गया।

      बाद में गंभीर रूप से घायलों को रीवा के संजय गांधी अस्पताल में पहुंचाया गया। हादसा नेशनल हाईवे-30 में मध्य प्रदेश उत्तर प्रदेश की सीमा से लगी सुहागी पहाड़ के पास हुआ है।

      जानकारी के अनुसार बस जबलपुर के रास्ते रीवा होकर इलाहाबाद जा रही थी। कटनी से बस में काफी लोग बैठे थे। सभी लोग उत्तर प्रदेश अपने घर दीपावली की छुट्टी मनाने जा रहे थे।

      हादसा देर रात हुआ बस के आगे एक ट्रेलर जा रहा था। ट्रेलर किसी गाड़ी से टकराया जिसकी वजह से ट्रक सड़क पर खड़ा हो गया तभी पीछे से आ रही तेज रफ्तार बस ने ट्रेलर को जोरदार ठोकर मारी और बस में आगे जितने लोग बैठे थे सबकी मौत हो गई।

      बताया जा रहा है कि बस में करीब 100 लोग सवार थे। घटना की सूचना पाकर एसपी कलेक्टर सहित कई थाने की पुलिस मौके पर पहुंची और राहत व  बचाव कार्य शुरू किया। पहले घायलों को सुहागी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र ले जाया गया। बाद में गंभीर रूप से घायलों को रीवा के संजय गांधी अस्पताल लाया गया।

      हादसे में मरने वाले मजदूरों में ज्यादातर लोग हैदराबाद के सिकंदराबाद से कटनी तक आए थे। कटनी से यूपी जाने के लिए ये लोग बस में सवार हुए थे। मृतक उत्तर प्रदेश के अलग-अलग इलाकों रहने वाले थे।

      मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने देर रात रीवा जिले में हुए सड़क हादसे पर दुख व्यक्त किया। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शनिवार सुबह उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से फोन पर बात की और उन्हें इस हादसे से अवगत कराया।

      मुख्यमंत्री के अनुसार जिन यात्रियों की मृत्यु हुई है, उनके पार्थिव शरीर अभी त्योथर में रखे हुए हैं। मध्य प्रदेश शासन द्वारा उन्हें ससम्मान प्रयागराज पहुंचाया जायेगा। इसके साथ ही जो व्यक्ति जो सुरक्षित हैं या कम घायल हैं उन्हें फर्स्ट एड दे कर रात को ही दो बसों के माध्यम से प्रयागराज पहुंचाया गया है। ऐसे यात्री जो गंभीर रूप से घायल हैं, उनका इलाज रीवा मेडिकल कॉलेज में नि: शुल्क किया जा रहा है। रीवा जिला प्रशासन इलाज सहित घायलों एवं मृतकों के परिवारजनों के लिए समस्त आवश्यक व्यवस्थाओं को सुनिश्चित कर रहा है।

       

      संबंधित खबर
      error: Content is protected !!