अन्य

    एसडीओ ने जिस जमीन पर लगाई 144, वहाँ मनरेगा के तहत हो रहा यूं कूप निर्माण !

    सरायकेला (एक्सपर्ट मीडिया न्यूज)। इन दिनों सरायकेला जिला में कुछ लोग दबंगई के हद पार कर चुके हैं। ताजा मामला चांडिल अनुमंडल क्षेत्र के तिरुलडीह थाना क्षेत्र का है, जहाँ एक परिवार के भाइयों ने मिलकर अपने ही एक भाई को पैत्रिक संपत्ति से बेदखल कर दिया है।

    पीड़ित भाई ने जब लम्बे समय तक अपने भाइयों के आगे गिड़गिड़ाने के बाबजूद उसे अपना हक नहीं मिला तो थक हार के कर कानून का सहारा लेना चाहा, लेकिन यहाँ से भी उसे निराशा ही हाथ लग रही है।

    बताया जाता है कि तिरुलडीह के अमानत अंसारी के भाइयों ने उन्हें पैत्रिक जमीन से उन्हें बेदखल कर दिया है। इसकी शिकायत लेकर वह चांडिल अनुमंडल अधिकारी के पास न्याय के लिए गुहार लगाई तो उन्होंने दिनांक 19, मार्च 2021 को संबंधित जमीन पर धारा 144 लगा दी।

    चांडिल अनुमंडल पदाधिकारी ने अपने आदेश की प्रति सम्बंधित तिरुलडीह थाना को भेजी और 26 मार्च को तिरुलडीह थाना द्वारा उक्त केस का प्रति स्वीकार भी किया गया, लेकिन अभी तक उसके फरियाद पर कोई करवाई नहीं हुई।

    उस जमीन पर आज भी मनरेगा के तहत कूप निर्माण कर चल रहा है।  पीड़ित अमानत अंसारी कुकड़ू सीओ से भी इसकी जानकारी ली तो उन्होंने भी टाल मटोल करते हुए कार्य को बंद नहीं करवाया।

    अमानत अंसारी का कहना है कि तिरुलडीह थाना प्रभारी व कुकड़ू सीओ के मिली भगत से ही प्रतिवादी बेफिक्र होकर अनुमंडल अधिकारी के आदेश का अवहेलना कर रहा है।

    सवाल उठता है कि आखिर अनुमंडल अधिकारी द्वारा लगाये गए धारा 144 का अवहेलना केवल पीड़ित के परिजन ही कर रहे है या कुकड़ू सीओ एवं तिरुलडीह थाना प्रभारी भी अवहेलना कर रह हैं। क्या इन अधिकारीयों के सामने कानून का कोई स्थान नहीं है?  

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    अन्य खबरें