कोरोना की चपेट में आए स्वास्थ्य मंत्री, पूरे मंत्रिमंडल पर मंडराया खतरा, सुदेश महतो भी संक्रमित

“झारखंड में अब तक कई मंत्री और विधायक संक्रमित हो चुके हैं। इनमें स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता के अलावा , आजसू सुप्रीमो सुदेश महतो पेयजल एवं स्वच्छता मंत्री मिथिलेश ठाकुर, टुंडी विधायक मथुरा महतो, रांची के बीजेपी विधायक सीपी सिंह, आजसू के गोमिया विधायक लंबोदर महतो, कांग्रेस की महागामा विधायक दीपिका पांडेय सिंह, पूर्व मंत्री और सारठ के मौजूदा बीजेपी विधायक रणधीर सिंह और बसपा के पूर्व विधायक कुशवाहा शिवपूजन मेहता सहित बड़ी संख्या में अधिकारी, पुलिसकर्मी और पत्रकार भी संक्रमित पाए जा चुके हैं…

एक्सपर्ट मीडिया न्यूज डेस्क। झारखंड के स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता के संक्रमित पाए जाने के बाद पूरे मंत्रिमंडल पर कोरोना का खतरा मंडराने लगा है। सबसे ज्यादा खतरा कांग्रेस कोटे के मंत्री बादल पत्रलेख और झामुमो की जोबा मांझी पर है। ये दोनों कैबिनेट की बैठक में मंत्री बन्ना गुप्ता के अगल-बगल में ही बैठे थे।
सीएम हेमंत के साथ हेल्थ मिनिस्टर बन्ना गुप्ता…

माना जा रहा है कि स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता के संक्रमित होने के बाद मिथिलेश ठाकुर को छोड़कर कैबिनेट के सारे मंत्री कोरोना टेस्ट करा सकते हैं। मिथिलेश ठाकुर कैबिनेट की बैठक में शामिल नहीं हुए थे।

सीएम हेमंत सोरेन भी फिर से अपना टेस्ट करा सकते हैं, क्योंकि कैबिनेट की बैठक के अलावा वो 14 अगस्त को राज्य सरकार के नए प्रतीक चिन्ह के लोकार्पण कार्यक्रम में भी शामिल हुए थे। इसमें भी स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता मौजूद थे।

इस कार्यक्रम में सीएम हेमंत सोरेन के अलावा कई मंत्री, विधायक और अधिकारी भी शामिल हुए थे। नियम के मुताबिक इन सभी का कोविड टेस्ट कराया जा सकता है।

अब तक सीएम हेमंत सोरेन 2 बार कोरोना की जांच करा चुके हैं। उनके साथ-साथ उनकी पत्नी कल्पना सोरेन सहित परिवार के कई सदस्यों ने भी अपनी जांच करायी थी, लेकिन खुशकिस्मती से दोनों बार उनकी रिपोर्ट निगेटिव आई थी।

पहली बार उन्होंने तब टेस्ट कराया था, जब मंत्री मिथिलेश ठाकुर संक्रमित पाए गए थे। तब वे मिथिलेश ठाकुर के रांची स्थित घर के गृह प्रवेश कार्यक्रम में शरीक हुए थे।

दूसरी बार तब हेमंत ने टेस्ट कराया था, जब सीएम आवास से सैकड़ों की संख्या में कर्मचारी, अधिकारी पॉजिटिव पाए गए थे।

बीते मंगलवार को झारखंड में एक बार फिर कोरोना का विस्फोट हुआ। राज्य में 1266 नए संक्रमित मिले हैं। इनमें से एक बार फिर सबसे ज्यादा केस राजधानी रांची में मिले हैं। यहां 426 नए मामले सामने आए हैं।

बड़ी बात कि प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता और आजसू सुप्रीमो सह सिल्ली विधायक सुदेश महतो भी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। इस तरह से राज्य में कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़कर 25333 हो गई है।

1266 नए मरीजों में रांची से 426, पूर्वी सिंहभूम से 360, बोकारो से 62, चतरा से 5, देवघर से 32, धनबाद से 33, दुमका से 3, गढ़वा से 9, गिरिडीह से 18, गोड्डा से 10, गुमला से 40, हजारीबाग से 42, जामताड़ा से 2, खूंटी से 25, कोडरमा से 16, लातेहार से 27, लोहरदगा से 4, पाकुड़ से 15, रामगढ़ से 12, सहिबगंज से 33, सरायकेला से 22, सिमडेगा से 14, चाईबासा से 55 लोग हैं।

झारखंड में मंगलवार को कोराना संक्रमण से 9 लोगों की जान भी गई है। इनमें पूर्वी सिंहभूम के 2, बोकारो के 1, देवघर के 2, हजारीबाग के 1, रामगढ़ के 1, रांची के 1 और प. सिंहभूम के 1 व्यक्ति हैं।

अकेले रांची में मंगलवार को स्पेशल ड्राइव के तहत 10 हजार 101 लोगों की कोरोना जांच की गई। इनमें 9853 लोगों की रिपोर्ट निगेटिव आई, जबकि 248 लोग पॉजिटिव पाए गए। रैपिड एंटीजन किट से इनकी जांच की गई, जिसकी रिपोर्ट थोड़ी देर में ही आ जाती है। जिला प्रशासन की 30 टीमों के 150 सदस्य शहरी और ग्रामीण इलाकों में 20 जगह कैंप लगाकर लोगों की जांच कर रहे थे।

स्वास्थ्य विभाग ने 12 से 14 अगस्त तक फेज-2 का जो स्पेशल अभियान चलाया है, उसमें 51 हजार 863 लोगों के सैंपल लिए गए, जिसमें से 3 हजार 94 लोग संक्रमित पाए गए हैं। माना जा रहा है कि ये अभियान आगे भी चलाया जाता रहेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.