अन्य
    Monday, July 22, 2024
    अन्य

      शर्मनाकः छात्रा संग गैंगरेप, दरिंदों ने खुद वीडियो बना किया वायरल, पंचायत ने किया 2 लाख में सौदा !

      इस वारदात की सूचना मिलते ही कुछ छुटभैये जनप्रतिनि-नेताओं ने मामले को रफा-दफा करने के लिए पंचायत लगाई और आरोपी सूरज से जुर्माना के तौर पर 2 लाख रुपए देने और वीडियो डिलीट करने को कहा गया। उसने इससे साफ इनकार कर दिया

      एक्सपर्ट मीडिया न्यूज नेटवर्क डेस्क। बिहार के मुजफ्फरपुर जिले में बदमाशों ने सामूहिक दुष्कर्म की घटना को अंजाम देकर उसका वीडियो सोशल मीडिया में वायरल कर दिया।

      शर्मनाक बात तो यह है कि इस जघन्य वारदात को लेकर स्थानीय छुटभैये जनप्रतिनिधियों-नेताओं ने बाजाप्ता पंचायत लगाकर पीड़ित युवती के संग हुई दरींदगी की कीमत दो लाख रुपए तय कर मामले को रफा-दफा करने का प्रयास किया।

      खबर है कि मुशहरी थाना क्षेत्र के एक गांव की 17 वर्षीय इंटर की छात्रा के साथ 7 अप्रैल की रात 11 बजे तिरहुत नहर पर 2 युवकों ने गैंगरेप किया और इस दौरान तीसरे युवक ने वीडियो बनाया।

      इसके बाद बदमाशों ने उस वीडियो को वायरल करने की धमकी देकर छात्रा को ब्लैकमेल करने लगे। विरोध करने पर बीते बुधवार को उस वीडियो को वायरल भी कर दिया। छात्रा ने इसकी जानकारी अपने परिजनों को दी।

      पीड़िता ने बताया कि वह जब घर से शौच के लिए निकली थी तो पहले से घात लगाए बेडोलिया का सूरज कुमार, बेला का ज्योति कुमार व प्रह्लादपुर पंचायत के एक और युवक ने उसे अगवा कर लिया और घटना को अंजाम दिया।

      बताया जाता है कि पीड़िता की जानकारी पर बीते गुरुवार को घटना में शामिल आरोपी सूरज को पीड़िता के परिजनों ने पकड़ लिया और जमकर धुनाई कर दी।

      लेकिन इसकी सूचना मिलते ही कुछ छुटभैये जनप्रतिनि-नेताओं ने मामले को रफा-दफा करने के लिए पंचायत की। आरोपी सूरज से जुर्माना के तौर पर 2 लाख रुपए देने और वीडियो डिलीट करने को कहा गया। उसने इससे साफ इनकार कर दिया।

      इसी बीच सूचना मिलने पर मुशहरी पुलिस ने गुरुवार की देर रात करीब 10 बजे तिरहुत नहर स्थित भूखंड में पहुंची और आरोपी सूरज को गिरफ्तार कर लिया और ईलाज के लिए सीएचसी में भर्ती कराया।

      शुक्रवार को मुशहरी थाना के अवर निरीक्षक माहेश्वरी मंडल ने पीड़ित छात्रा को महिला थाना ले जाकर बयान दर्ज करवाया। बाद में सदर अस्पताल में मेडिकल जांच करवाई गई। पुलिस ने मामले में सूरज व ज्योति पर एफआईआर दर्ज की है।

      इधर, सकरा थाना के सर्किल इंस्पेक्टर राकेश कुमार व मुशहरी थाना के दारोगा ने पीड़ित के घर पर जाकर मामले की जांच की। परिजनों व गांव वालों से पूछताछ की। घटना से जुड़े वीडियो वायरल होने के बाद आरोपियों को बचाने के लिए हुई पंचायत के स्थल का भी जायजा लिया।

      संबंधित खबर
      error: Content is protected !!