अन्य
    Sunday, April 14, 2024
    अन्य

      खनन माफिया-पुलिस की सांठगाठ से यूं हुई विनोद पासवान की हत्या

      बिहारशरीफ (राजीव रंजन)। खनन माफियाओं की गुंडागर्दी में पुलिसिया सांठगांठ को लेकर हमेशा से चर्चित रहा नालंदा जिले के मानपुर थाना क्षेत्र में आज सुबह करीब 6:00 बजे के आसपास नालंदा जिला परिषद अध्यक्ष  के पैतृक गांव थाना क्षेत्र के छबीलापुर में खनन माफियाओं ने अपनी दहशत फैलाने को लेकर गांव में अंधाधुंध फायरिंग करते हुए प्रवेश किया एवं अपने घर के समीप ब्रश कर रहे स्वर्गीय बाल गोविंद पासवान करीब 45 वर्षीय पुत्र विनोद पासवान फायरिंग की आवाज सुनकर घर में घुस गया, जिसे खनन माफिया राहुल यादव ने घर में घुसकर छाती में गोली मार मौत के घाट उतार दिया।

      घटना की सूचना क्षेत्र में आग की तरह फैल गई। मौके पर तीन-चार थाना की पुलिस पहुंच कर शव को अपने कब्जे में ले लिया एवं अंत्यपरीक्षण के लिए बिहार शरीफ सदर अस्पताल भेज दिया। वही दो गांवों के बीच तनाव को देखते हुए एवं शांति कायम करने के लिए तत्काल वहां सैकड़ों सिपाही गांव में कैंप कर रहे हैं।

      घटित घटना के संबंध में ग्रामीणों ने बताया कि विगत 23 अगस्त को सुबह रोजाना की तरह अवैध बालू लदे हुए ट्रैक्टर छबीला पुर गांव से बिहार शरीफ जाने के लिए गुजर रही थी एवं ट्रैक्टर के आगे आगे मोटरसाइकिल से स्पाई चल रहा था।

      स्पाई के निर्देशानुसार अवैध बालू लादकर ले जा रहे ट्रैक्टर को सूचना मिली कि आगे नगमा मोड़ पर पुलिस की गाड़ी लगी हुई है। आनन-फानन में ट्रैक्टर ड्राइवर छबीलापुर बीच गांव के संकीर्ण सड़क पर ट्रैक्टर को पीछे कर रहा था।

      उसी गांव के एक व्यक्ति त्रिलोकी पासवान ने ट्रेक्टर ड्राइवर को कहा कि इतना संकीर्ण रोड में बैक नहीं होगा। पीछे देवता का मूर्ति है, टूट सकता है। थोड़ा सा आगे बढ़ कर बैक कर लेते।

      फिर भी ट्रेक्टर ड्राइवरों ने वहीं से बैक कर घर चला गया तत्पश्चात खनन माफिया एक खाली ट्रैक्टर इंजन पर करीब छह-सात आदमी बैठ कर पुनः उस गांव छबीला पुर में त्रिलोकी पासवान को खोजने उसके घर आया। वह घर पर मौजूद नहीं था।

      फिर बदमाशों ने माफियाओं ने उसे लैट्रिन करते हुए खेत में देखा तत्पश्चात माफियाओं ने उसे लैट्रिन करते हुए मारपीट करना शुरू कर दिया। जिसे देखकर छबीलापुर के ग्रामीण दौड़कर बचाए तथा माफियाओं ने अपना ट्रैक्टर छोड़ फायरिंग करते हुए भाग गया।

      इन सभी घटना की जानकारी मानपुर थाना अध्यक्ष अमरेश कुमार सिंह को मिली। मानपुर थाना में केस नहीं हुई। मगर माफिया के साथ गांठ से उन्होंने अपने वर्दी का इस्तेमाल कर वहां से अगले दिन 24 अगस्त को ट्रैक्टर को माफियाओं और ग्रामीणों के  आपसी सामंजस्य के सहमति से छुड़वा दिया एवं छबीला पुर के ग्रामीणों तथा माफियाओं के बीच कंप्रोमाइज करा दिया।

      इसी बीच आज सुबह 25 अगस्त को करीब 6:00 बजे अवैध बालू माफिया राहुल यादव अपने अन्य सहयोगियों के साथ ताबड़तोड़ फायरिंग करते हुए छबीला पुर गांव में घुसकर अपने वर्चस्व जमाने को लेकर विनोद पासवान की हत्या कर दी।

      आखिर नालंदा जिले के मानपुर थाना क्षेत्र में खनन माफिया इतने बेखौफ कैसे हो गए साफ तौर पर पुलिसिया मिलीभगत नजर आती है। जबकि नालंदा के एसपी ने अवैध खनन माफियाओं के विरुद्ध मानपुर थाना अध्यक्ष को बेनकाब साबित कर चुके हैं।

      इस क्षेत्र में अवैध बालू उत्खनन को लेकर क्षेत्र में दर्जनों हत्याएं हो चुकी हैं। जिसमें दो तीन- मासूम ने भी अपनी जान गंवा दी है। अब देखना है कि इन खनन माफियाओं के विरुद्ध लचर रवैया रखने वाले मानपुर थाना अध्यक्ष पर किस हद तक असर होता है।

      संबंधित खबरें
      error: Content is protected !!