अब हुड़दंगियों पर होगी विशेष नजर, बना स्थाई पुलिस कन्ट्रोल रूम

Share Button

सरिया (आसिफ)। गिरीडीह जिले के सरिया अनुमंडल क्षेत्र में अब किसी भी मामले को लेकर हुड़दंग मचाना व दंगा फैलाना असामाजिक तत्वों के लिए आसान नहीं होगा, क्योंकि गिरिडीह उपायुक्त उमाशंकर सिंह के निर्देश पर सरिया अनुमंडल में स्थाई कंट्रोल रूम की व्यवस्था चालू कर दी गई है।

इस बाबत सरिया अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी दीपक कुमार शर्मा ने पत्रकारों को संबोधित करते हुए शनिवार को बताया कि गिरिडीह उपायुक्त व गिरिडीह पुलिस कप्तान के निर्देश पर सरिया अनुमंडल की जिला मुख्यालय से अधिक दूरी होने के कारण किसी भी समय आसामायिक घटना  होने पर जिला से सहयोग आने में देर हो जाती थी।

इसे देखते हुए सरिया अनुमंडल पुलिस कार्यालय में मेरे नेतृत्व में एक नियंत्रण केंद्र बनाया गया है। इसका मुख्य कारण सरिया बिरनी व बगोदर प्रखंड के आसपास के इलाकों में किसी भी प्रकार की वारदात होने पर पुलिस के द्वारा तुरंत सहायता पहुंचाने के लिए यह टीम का गठन किया गया है। इस कंट्रोल रूम में 25 जवानों को आधुनिक हथियार व शस्त्रों से लैस करके 24 घंटा तैयार पोजीशन में रहेगी और किसी भी आपदा से निपटने में सक्षम है।

उन्होंने आगे बताया कि मेरे अधीनस्थ इस कंट्रोल रूम में टीयर गैस से लैस चार जवान रबड़ बुलेट से लैस तीन जवान 15 हवलदारों की टुकड़ी एवं सशस्त्र बल मौजूद रहेंगे जो किसी भी प्रकार के हुड़दंग से निपटने के लिए विशेष रूप से  इन्हें ट्रेनिंग दी गई है। यह 25 जवान भारी भीड़ को नियंत्रित कैसे किया जाए वह किसी भी वारदात के समय लोगों को कैसे सुरक्षा पहुंचाए यह सारी ट्रेनिंग इन्हें दी गई है। अब सरिया अनुमंडल क्षेत्र में किसी भी अपराधी किस्म के व्यक्ति असामाजिक तत्व के व्यक्ति के द्वारा बेवजह समस्या खड़ा करने पर ऐसे लोगों से निपटने के लिए इस तरह की व्यवस्था गिरिडीह जिला पुलिस के द्वारा किया गया है ।

 उन्होंने बताया कि उन्होंने गिरिडीह पुलिस कप्तान से वाटर वैगन गाड़ी की भी मांग की है जो बहुत जल्द ही सरिया अनुमंडल पुलिस कार्यालय के नियंत्रण कक्ष में उपलब्ध करवा दिया जाएगा इसका मुख्य कार्य किसी भी समय दंगा या कोई वारदात होने पर इस वाटर वैगन गाड़ी से लोगों पर या हुड़दंगियों पर कलरफुल केमिकल से युक्त रंगों का पानी का छिड़काव किया जाएगा। जिसके माध्यम से पुलिस को हुड़दंगियों को पहचानने में मदद मिलेगी। इस वाटर वैगन गाड़ी में एक विशेष प्रकार का केमिकल युक्त रंग का प्रयोग किया जाएगा जिसका असर लोगों पर लगभग 1 सप्ताह तक रहेगा व शरीर के किसी भी अंग में रंग पड़ने पर उसका कलर 1 सप्ताह बाद ही जाता है। ऐसे में हुड़दंगियों असामाजिक तत्वों की पहचान करने में व उसे सजा दिलवाने में पुलिस को मदद भी मिलेगी।

अंत में उन्होंने कहा कि सरिया अनुमंडल क्षेत्र के सभी लोगों से निवेदन है कि वह क्षेत्र में शांति व्यवस्था बहाल करके रखे वह किसी भी तरह की समस्या उत्पन्न होने पर पुलिस को सहयोग करें अगर कोई व्यक्ति समाज में आज आशांति फैलाना चाहता है और हुड़दंग के माध्यम से लोगों को परेशान करना चाहता है उससे निपटने के लिए प्रशासन के द्वारा भी पूरी व्यवस्था कर ली गई है।

वही शनिवार को सरिया अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी दीपक कुमार शर्मा ने क्यूआरटी की टीम में शामिल सभी जवानों को दंगा हो या, सड़क जाम आदि समस्याओं से कैसे निपटना है वह किन परिस्थितियों में किन हथियार या किस प्रकार का बल प्रयोग करना है यह सारी चीजों की का भी ट्रेनिग दी गई । मौके पर सरिया अंचल पुलिस निरीक्षक कपिलदेव पोद्दार भी उपस्थित थे।

Related Post

65total visits,1visits today

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...