ट्रैफिक पुलिस की रोज वसूली से तंग हॉकर ने अपनी बाइक को सरेआम फूंका

जमशेदपुर (एक्सपर्ट मीडिया न्यूज)। जमशेदपुर पुलिस की प्रताड़ना से तंग आकर मानगो के न्यू कुमरूम बस्ती निवासी राजेंद्र प्रसाद ने अपनी बाईक को आग के हवाले कर दिया…

राजेंद्र का कहना है कि हर दिन मानगो पुल पर तैनात ट्रैफिक पुलिस रोककरपैसों की मांग करती है, जिससे परेशान होकर उसने अपनी बाईक को आग के हवाले कर दिया।  

बताया जाता है कि राजेंद्र सिंह मानगो बस टर्मिनल में हॉकर यानी एजेंटी का काम करता है। उसके पास हेलमेट औऱ गाड़ी के सभी कागजात रहने के बाद भी हर दिन मानगो पुल पर तैनात पुलिसकर्मियों द्वारा जबरन पैसों की मांग की जाती है।

आज भी वाहन चेकिंग के दौरान जबरन पुलिस द्वारा उनसे सात सौ रूपए का जुर्माना चुकाने को कहा गया। जिससे उन्होंने आजिज होकर अपनी गाड़ी को ही आग के हवाले कर दिया।

इस घटना के बाद ईलाके में अफरा-तफरी मच गई। वहीं आग की सूचना मिलते ही दमकल विभाग की गाड़ी मौके पर पहुंची, लेकिन तब तक मोटरसायकल पूरी तरह से जलकर खाख हो चुकी थी।

सवाल उठता है  कि आखिर एक मजदूर पुलिस की प्रताड़ना किस कदर आहत हुआ कि उसे अपनी बाईक में आग लगानी पड़ी।

घटना की सूचना मिलते ही मानगो थाना पुलिस मौके पर पहुंची और राजेंद्र सिंह को अपने साथ थाना ले गई।

वहीं थाने में मौजूद पुलिस अधिकारी से जब इस संबंध में पूछा गया तो उन्होंने दोनों पक्षों द्वारा लिखित आवेदन के आधार पर कार्रवाई किए जाने की बात कही।

जबकि थाना परिसर में राजेंद्र प्रसाद चीख-चीखकर पुलिस कर्मियों द्वारा हर दिन किए जा रहे प्रताड़ना के संबंध में बताता रहा।

इतना ही नहीं राजेंद्र प्रसाद ने बताया कि मानगो पुल पर वाहन जांच के नाम पर हर दिन पुलिसकर्मियों के आतंक से लोग परेशान होते हैं।

ऐसे में पुलिस की भूमिका पर सवाल उठना लाजिमी है। फिलहाल जमशेदपुर पुलिस मामले की तफ्तीश में जुट गई है।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.