आरोपियों की रिमांड से संभव है सुबोध की हत्या की जड़ का खुलासा

0
13

“पैक्स अध्यक्ष हत्याकांड में नामितों में से दो ने कोर्ट में किया सरेंडर, मुख्य आरोपी मुन्द्रिका अब भी पुलिस की पकड़ से दूर, गिरफ्तारी के लिए एसटीएफ के सहारे कर रही छापेमारी”

हिलसा (संवाददाता)। नलंदा जिले के नगरनौसा के गोराईपुर पंचायत पैक्स अध्यक्ष सुबोध प्रसाद हत्याकांड में नामितों में से दो अभियुक्त शुक्रवार को कोर्ट में सरेंडर कर दिया। जबकि मामले के मुख्य आरोपी मुन्द्रिका यादव अब भी पुलिस की पकड़ से दूर है। मामले में बनाए गए नामजद अभियुक्त अमित कुमार एवं संतोष कुमार सीधे हिलसा कोर्ट पहुंचे।

जदयू नेता एवं पैक्स अध्यक्ष सुबोध की हत्या के आरोपी अमित कुमार एवं संतोष कुमार……..

अधिवक्ता के माध्यम से प्रथम श्रेणी न्यायिक दंडाधिकारी सुनील कुमार सिंह के कोर्ट में आत्मसमर्पण सह जमानत की अर्जी दी। अर्जी में अधिवक्ता ने आरोपी द्वय को निर्दोष बताते हुए एक साजिश के तहत झूठे आरोप में फंसाने की बात कोर्ट के समक्ष रखी।

अधिवक्ता के तर्कों को सुनने के बाद कोर्ट ने आरोपियों की जमानत अर्जी अस्वीकार करते हुए पंद्रह दिनों की न्यायिक हिरासत में हिलसा उपकारा भेजने का आदेश दिया।

मालूम हो कि पिछले सोमवार की देर संध्या गोराईपुर पंचायत पैक्स अध्यक्ष सुबोध कुमार अपने ग्रामीण उदय प्रसाद के साथ बाईक से अहियातपुर गांव स्थित लौट रहे थे। तभी काठी पुल के पास पहले घात लगाए बैठे तीन अपराधियों ने बाईक रुकवाई और गोलियों से छलनी कर दिया। साथ रहे भाग कर अपनी जान बचाने में सफल रहे उदय प्रसाद अपराधियों के जाने के बाद शोर मचाए तो आसपास के लोग पहुंचे। गंभीर रुप से घायल पैक्स अध्यक्ष सुबोध को इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया जहां उनकी मौत हो गई।

इस घटना के संबंध मृतक सुबोध प्रसाद के भाई देवरत्न सिंह के फर्द ब्यान के आधार पर अहियातपुर गांव के ही मुन्द्रिका यादव, संतोष यादव एवं अमित यादव के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई। पुलिस मामले के आरोपी की गिरफ्तारी के लिए जगह-जगह छापेमारी की लेकिन सफलता नहीं हाथ लगी।

इसी बीच पुलिस अभियुक्तों पर दबाब बनाने के लिए कुर्की-जप्ती करने की तैयारी शुरु कर दी। इसके लिए कोर्ट से वारंट भी हासिल कर लिया। शुक्रवार को पुलिस वारंट लौटाते हुए इश्तेहार लेने की तैयारी कर रही थी तभी आरोपी संतोष कुमार एवं अमित कुमार के कोर्ट में आत्मसमर्पण की खबर फैल गई।

सरेंडर नहीं किया मुंद्रिका तो होगी कुर्की-जप्ती

गोराईपुर पंचायत पैक्स अध्यक्ष सुबोध प्रसाद हत्याकांड में नामित अभियुक्त मुंद्रिका यादव अगर सरेंडर नहीं करता है तो कुर्की-जप्ती की कार्रवाई की जाएगी।

हिलसा के डीएसपी प्रवेन्द्र भारती ने बताया कि जगह-जगह हो रही छापेमारी और कुर्की-जप्ती की संभावित कार्रवाई के भय से हत्याकांड में नामित अभियुक्तों में से संतोष यादव एवं अमित यादव शुक्रवार को कोर्ट में सरेंडर कर गया।

मुख्य आरोपी मुंद्रिका यादव की गिरफ्तारी के लिए जगह-जगह छापेमारी की जा रही है। अगर आरोपी गिरफ्तार नहीं हो पाता और फिरार रहता है तो कोर्ट से आदेश लेकर उसके खिलाफ कुर्की-जप्ती की कार्रवाई की जाएगी।

संतोष और अमित को रिमांड पर लेगी पुलिस

पंचायत पैक्स सुबोध प्रसाद हत्याकांड में सरेंडर करने के बाद जेल भेजे गए आरोपी संतोष यादव और अमित यादव को पुलिस रिमांड पर लेगी। डीएसपी प्रवेन्द्र भारती ने इसकी पुष्टि की।

उन्होंने बताया कि मामले के अनुसंधानक को उक्त आरोपियों को रिमांड पर लेकर गहराई से पूछताछ करने का आदेश दिया जा चुका है।

आरोपियों से पूछताछ करने का मुख्य मकसद हत्या के कारणों का पता लगाए जाने के साथ-साथ षडयंत्रकर्ता की पहचान करना है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.