विभाग-प्रशासन को नहीं मिला है निर्देश, नीजि स्कूल लेगें फीस

0
32

एक्सपर्ट मीडिया न्यूज नेटवर्क। भले केंद्र और राज्य सरकार लॉकडाउन की अवधि का फीस निजी स्कूलों को अभिभावकों से नहीं लेने का भरोसा दिला रहे हैं, लेकिन जमशेदपुर के नीजी स्कूलों के संगठन ने मंशा साफ कर दी है।

एसोसिएशन ऑफ झारखंड ऐडेड प्राइवेट एजुकेशनल इंस्टिट्यूशन ने दो टूक कहा है कि वे केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्रालय के निर्देशों के अनुसार लॉकडाउन को देखते हुए इस साल फीस में कोई बढ़ोत्तरी नहीं करेंगे, न ही मार्च 2020 से अगस्त 2020 तक अभिभावकों को फीस जमा करने को लेकर बाध्य करेंगे। इस दौरान अभिभावकों से किसी प्रकार का लेट फाइन भी नहीं लिया जाएगा। लेकिन निजी स्कूल प्रबंधन फीस माफ करने की स्थिति में नहीं है।

संगठन के अध्यक्ष बेली बोधनवाला ने साफ करते हुए कहा है कि स्कूलों को अपने शिक्षकों और अन्य कर्मियों के मद में होनेवाले खर्चों का वहन कैसे किया जाएगा।

वैसे संगठन अपनी मंशा जाहिर कर देने के बाद शहर के अभिभावक सकते में आ गए हैं।

हालांकि झारखंड सरकार के शिक्षा मंत्री की ओऱ से राज्य के सभी निजी स्कूल प्रबंधनों से लॉकडाउन की अवधि में फीस नहीं लेने का निर्देश दिए जाने का दावा किया जा रहा है, लेकिन जमशेदपुर शिक्षा विभाग या जिला प्रशासन की ओर से ऐसा कोई भी निर्देश प्राप्त होने से इंकार किया जा रहा है।

जबकि पड़ोसी जिला चाईबासा समेत राज्य के अन्य जिलों में इसे सख्ती से  लागू किया जा चुका है। ऐसे में जमशेदपुर के अभिभावकों की चिंता बरकरार है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.