कोयलांचलः पानी जार में यूं बिक रहा जहर, डीसी से की शिकायत

“यहां रोजाना 60 हजार लीटर पानी का अवैध कारोबार हो रहा है। इसकी जानकारी जिला प्रशासन के अधिकारियों को भी है, मगर इस गोरखधंधे में संलिप्त लोगों के खिलाफ कार्रवाई करने में इनके हाथ-पैर फूल जाते हैं। जिसके  कारण अवैध कारोबारियों के हौसले बुलंद हैं।” धनबाद (न्यूज ब्यूरो/अमित)।  झरिया कोयलांचल और आसपास के कोलियरी इलाके में मिनरल वाटर के नाम पर अशुद्ध पानी का कारोबार फलफूल रहा है। बरसात में मिनरल वाटर की मांग बढ़ जाती है। जिसका फायदा अवैध  कारोबारी उठा रहे है। जोड़ापोखर, सुदामडीह पाथरडीह थाना क्षेत्र के आसपास के क्षेत्रों में कई ऐसी कंपनियां खुल गयी हैं,जो […]

Read more

इस पुलिस इंसपेक्टर ने गाली देते मृत बच्ची की मां से कहा- ‘पैदा कर रास्ते में छोड़ देते हो’

“सरकारी कुआं से बरामद तीन वर्षीया बच्ची के शव प्रकरण के मामले में परेशान परिजन मुख्यमंत्री से शिकायत करने की ठानी है। परिजनों के अनुसार यह हत्या का मामला है और इसके लिए दोषी जोड़ापोखर इंस्पेक्टर जय किशन है।” धनबाद (बेनु मंडल)। जिले की जोड़ापोखर थाना के सामने महज 100 मीटर की दूरी पर स्थित सरकारी कुआं से बरामद तीन वर्षिय बच्ची के शव प्रकरण के मामले में परेशान परिजन मुख्यमंत्री से शिकायत करने की ठानी है। परिजनों के अनुसार यह हत्या का मामला है और इसके लिए दोषी जोड़ापोखर इंस्पेक्टर जय किशन है। बच्ची की माँ विभा देवी ने […]

Read more

कल CM,PMO,DGP,DIG,SSP,CSP को भेजा ईमेल, आज सुबह पेड़ से लटकता मिला उसका शव  

” रांची आने पर कुछ लोगों ने मारपीट कर फेंक दिया था। न्याय देने के बदले उल्टे पुलिस ने किया था प्रताड़ित” रांची (संवाददाता)। झारखंड की राजधानी रांची के सेवा सदन अस्पताल के सामने पार्किंग में एक युवक ने पेड़ में लटककर आत्महत्या कर ली। पेड़ से शव को लटकता देख लोगों की भीड़ जमा हो गई। मौके पर पहुंची पुलिस ने जांच शुरू की तो मामला परत दर परत खुलने लगा। मामला ऐसा खुला है कि सुनने वालो की रूह कांप उठे, आत्महत्या करने से पहले मृतक ने एक सुसाइड नोट लिखा था। उसने खुद पर हुए जुल्मों की […]

Read more

नीजि घरानों को लाभ पहुंचाने के लिये PDIL बंद करने की कवायद

” ये बिंदु अपने आप ही सरकार एवं मंत्रालय की नीयत पर गंभीर सवाल खड़े करते है। देश हित एवं सिन्दरी (झारखण्ड) हित में मोर्चा सरकार के निर्णय का विरोध करती है। यह विरोध विभिन्न शांतिप्रिय मार्ग द्वारा तब तक जारी रहेगी, जब तक सरकार PDIL को बंद करने का अपना निर्णय वापस नही ले लेती है।”  सिन्दरी (धनबाद)। भारत सरकार का महत्वपूर्ण सरकारी उपक्रम पीडीआईएल की विनिवेश करने की योजना है और इससे पहले सरकार ने इसे बंद करने की कवायद भी शुरू कर दी है। इस सरकारी उपक्रम को बंद करने के पीछे साजिश की बू आ रही […]

Read more

झरिया में पिता-पुत्र जमींदोज,रेस्क्यू टीम का बचाव से इंकार,लोग आक्रोशित

धनबाद (INR)। कोयले की आग पर बसे झरिया में दो लोग हुए जमींदोज हो गये है। इसी बीच 85 डिग्री तापमान में  रेस्क्यू टीम ने बचाव कार्य करने से साफ इंकार कर दिया है। फिलहाल जेसीबी से खुदाई कर जमींन दोजों के बारे में पता लगाया जा रहा है।   घटना की सूचना मिसते ही एसडीओ व सिटी एसपी अंशुमन कुमार भी मौके पर पहुंचे हैं और अंदर फंसे पिता-पुत्र को निकालने की कोशिशें हो रही हैं। दो जेसीबी मशीन कार्य में लगायी गयी है। घटनास्थल पर बड़ी संख्या में लोग जमे हुए हैं। हालांकि उनका गुस्सा अभी कम नहीं […]

Read more

वायरल VIDEO का सच आया सामने, GRP कांस्टेबल हुआ सस्पेंड

धनबाद (INR)। शक्तिपुंज एक्सप्रेस में एक जीआरपी कांस्टेबल द्वारा बूढ़ी महिलाओं से पैसे वसूली का वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हो गया। रेल मंत्रालय ने फौरन इसकी जांच करवाई। जांच में वायरल वीडियो सही निकला और दोषी जीआरपी कांस्टेबल को सस्पेंड कर दिया गया। यह घटना 5 मई की है। दरअसल, चंद्रपुरा से कतरास के बीच जब जबलपुर-हावड़ा शक्तिपुंज एक्सप्रेस चल रही थी तो एक बोगी में ड्यूटी पर तैनात जीआरपी कांस्टेबल चंद्रदेव सिंह यात्रियों से पैसे की वसूली कर रहा था। वह दो बूढ़ी महिलाओं से पैसे ले रहा था। इसी दौरान किसी ने उसका वीडियो बनाया और सोशल […]

Read more

अब गूगल अर्थ दिखाएगी प्रमुख शहरों की 3 डी तस्वीरें

गूगल अर्थ में जल्द ही राष्ट्रपति भवन और प्रधानमंत्री कार्यालय सहित भारत के प्रमुख शहरों की इमारतों और पठारी इलाकों की 3डी तस्वीरें दिखाई देंगी। इस बारे में सरकार अनुमति देने के मुद्दे पर विचार कर रही है। गृह मंत्रालय के अधिकारियों ने हाल ही में गूगल के प्रतिनिधियों के साथ इस मुद्दे पर बारीकी से विचार विमर्श किया। मंत्रालय के एक अधिकारी ने कहा, विचार विमर्श जारी है और हम गूगल को भारत के महानगरीय क्षेत्रों की 3डी तस्वीरें उसके नेटवर्क पर डालने की मंजूरी देने के बारे में सोच रहे हैं।

Read more