जमशेदपुर (एक्सपर्ट मीडिया न्यूज)। जमशेदपुर पुलिस ने 72 घंटों के भीतर बिरसानगर अधिवक्ता हत्याकांड का खुलासा करते हुए तीन अभियुक्तों को गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में भेज दिया है। इसके साथ ही शहर में पिछले तीन दिनों से जारी राजनीतिक सरगर्मी पर फिलहाल विराम लग गया है।

जमशेदपुर पुलिस के खुलासे में उसी अपराधकर्मी का नाम सामने आया है, जो सरयू राय की पार्टी भारतीय जन मोर्चा का मंडल अध्यक्ष है।

वैसे पहले दिन से ही परिवारवालों ने अपराधी से नेता बने अमूल्यो कर्मकार का नाम उक्त हत्याकांड में सामने आ रहा था। जिसको लेकर शहर की राजनीति पूरे उफान पर थी।

वहीं जमशेदपुर पुलिस ने साफ कर दिया है कि निजी दुश्मनी से उक्त हत्याकांड को अंजाम दिए जाने की बात कही गयी है।

पुलिस ने हत्याकांड से जुड़े मुख्य अभियुक्त अमुल्यो कर्मकार, राम रविदास उर्फ छोटकू, विश्वनाथ मुंडा उर्फ जीतू को गिरफ्तार किया है।

साथ ही पुलिस ने घटना में प्रयुक्त लोहे का रॉड, सरगना अमुल्यों कर्मकार का मोबाईल, घटना के वक्त अपराधियों द्वारा पहने गए कपड़े को जब्त कर लिया है।

जानकारी देते हुए एसएसपी एम तमिल वणन ने बताया कि तीन लाख की सुपारी देकर अमूल्यो कर्मकार ने अधिवक्ता की हत्या करवायी है। अमूल्यो पूर्व में भी कई मामलो का आरोपी रह चुका है।

एसएसपी ने साफ कर दिया है कि अधिवक्ता प्रकाश की हत्या के पीछे जमीन विवाद का मामला था। साथ ही भरोसा दिलाया है कि अपराधियों को कड़ी से कड़ी सजा दिलाया जाएगा।

वहीं सभी अपराधियों ने पुलिस के समक्ष अपना गुणाह कबूल कर लिया है। फिलहार जमशेदपुर पुलिस ने पूरे मामले का खुलासा कर दिया है।

सुनिए वीडियोः क्या कहते हैं जमशेदपुर एसएसपी एम तमिल वणन….

 

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.