?कीर्ति आजाद लेकर आ रहे हैं ‘किरकेट’-बिहार के अपमान से सम्मान तक ??

0
27

बिहार के भूतपूर्व मुख्यमंत्री भागवत झा आजाद के सुपुत्र कीर्ति आजाद कई दशकों तक भाजपा से जुड़े रहने के बाद पिछले लोकसभा चुनाव में भाजपा छोड़ कर कांग्रेस में शामिल हुए। वे बिहार से एकमात्र ऐसे खिलाड़ी हैं, जो विश्व कप विजेता भारतीय टीम का सदस्य रहे…………………..”

पटना (एक्सपर्ट मीडिया न्यूज नेटवर्क ब्यूरो)। क्रिकेटर से राजनेता बनें दिग्गज कीर्ति आजाद राजनीति के बाद अब सेल्यूलाइड की जिंदगी की ओर कदम बढ़ा चुके हैं।

 वर्ष1983 वर्ल्ड कप विजेता टीम का हिस्सा रहे कीर्ति आजाद अब क्रिकेट को लेकर  एक सिनेमा लेकर आ रहे हैं। जिसका नाम है, ‘किरकेट’ -बिहार के अपमान से सम्मान तक!

चूकि बॉलीबुड में क्रिकेट को लेकर कई फिल्में बन चुकी है। यहाँ तक कि महेंद्र सिंह धोनी की जीवन पर भी फिल्म आ चुकी है। वर्ष 1983 वर्ल्ड कप को लेकर रणवीर सिंह भी एक फिल्म बना रहे हैं।

इसी बीच पूर्व क्रिकेटर कीर्ति आजाद भी एक फिल्म लेकर आ रहे हैं। जिसका ट्रेलर पिछले दिन रिलीज किया गया। फिल्‍म के ट्रेलर लांच के दौरान कीर्ति आजाद, समेत पूर्व क्रिकेटर सह गेंदबाज अतुल वासन समेत कई बड़े स्‍टार्स ने भी शिरकत की।

क्रिकेटर और राजनेता कीर्ति आजाद की यह फिल्म ‘किरकेट’ बिहार में क्रिकेट और उसके भविष्‍य की कहानी को लेकर बनाई गई है। इसमें राजनीति की गंध भी मिलेगी कि कैसे बिहार में राजनीति की वजह से क्रिकेट उतना आगे नहीं बढ़ा जितना बढ़ना चाहिए था। कैसे खिलाड़ियों की प्रतिभा का हनन किया गया।

फिल्‍म ‘किरकेट’-  को येन मूवीज ने ए स्‍क्‍वायर प्रोडक्‍शंस, धर्मराज फिल्‍म्स और जे के एम फिल्‍म्स के सहयोग से बनाई गई है। इसके निर्माता आर के जलान, सोनू झा और विशाल तिवारी, सह निर्माता यूसुफ शेख है। जबकि फिल्‍म को योंगेंद्र सिंह ने डायरेक्‍ट किया है।

इस फिल्‍म में कीर्ति आजाद मुख्‍य भूमिका में नजर आ रहे हैं, जो क्रिकेट की दुनिया में बिहार की खोई अस्मिता को वापस दिलाते नजर आ रहे हैं। इस फिल्‍म में मूल रूप से बिहार क्रिकेट संघ के बंटवारे और उसी रणजी टीम की मान्‍यता रद्द करने की कहानी को दिखाया गया है।

इसके जरिये देश के क्रिकेट जगत में होने वाली राजनीति को भी दिखाया गया है। ट्रेलर में बिहार में खेलों की स्थिति को लेकर एक डायलॉग है-  ‘बिहार में लोग किरकेट खेलते हैं, क्रिकेट नहीं।‘

कीर्ति आजाद लोगों की इस समझ को दूर करने के लिए संकल्‍प लेते नजर आ रहे हैं। फिल्‍म में बिहार के जातिगत राजनीति से खेल को होने वाले नुकसान को दिखाया गया है। फिल्म में बिहार क्रिकेट की कहानी और 2016 तक क्रिकेट के लिए के खिलाडि़यों की भूख को दर्शाया गया है।

इसी विषय पर फिल्म पर फैक्ट और फिक्शन का संयोजन है। इसमें कीर्ति आज़ाद के संघर्ष और उपलब्धियों का भी वर्णन किया गया है। फिल्‍म की कहानी विशाल विजय कुमार ने लिखी है।

कीर्ति आजाद के अलावा फिल्‍म में विशाल तिवारी, सोनम छाबड़ा, सोनू झा, देव सिंह, सैफल्‍ला रहमानी, अजय उपाध्‍याय, रोहित सिंह मटरू जैसे कलाकार मुख्‍य भूमिका में नजर आ रहे हैं।

पीआरओ रंजन सिन्‍हा हैं। फिल्‍म का ट्रेलर भले ही लांच हो गया हो, लेकिन अभी इसके रिलीज डेट को लेकर संशय है। इसके लिए दर्शकों को इंतजार करना पड़ सकता है। क्रिकेट में रूचि रखने वाले इस फिल्म की रिलीज को लेकर खासे बेचैन है।

बताते चले कि बिहार के मिथिलाचंल से जुड़े कीर्ति आजाद बिहार के भूतपूर्व मुख्यमंत्री भागवत झा आजाद के सुपुत्र हैं। कई दशकों तक भाजपा से जुड़े रहने के बाद उन्होंने पिछले लोकसभा चुनाव में भाजपा छोड़ कर कांग्रेस में शामिल हुए थे। वे बिहार से एकमात्र ऐसे खिलाड़ी हैं, जो विश्व कप विजेता भारतीय टीम का सदस्य रह चुके हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.