हाथियों से परेशान किसानों का प्रदर्शन, वन प्रमंडल पदाधिकारी को बनाया बंधक

Share Button

“अगर जल्द इन किसानों के प्रति विभाग या सरकार सकारत्मक पहल नहीं करती है, तो किसान उग्र आंदोलन के लिए बाध्य हो जाएंगे…”

एक्सपर्ट मीडिया न्यूज। प्रकृति की मार से बेहाल किसान अब हाथियों के आतंक से दहशत में हैं। हर दूसरे दिन सरायकेला-खरसावां जिले के दलमा की तराई से सटे गांवों को हाथियों का झुंड अपना निशाना बना रहे और घरों में रखे अनाजों के साथ-साथ घरों और इंसानों को भी रौंद रहे हैं।

वहीं सरकारी स्तर पर सुविधाएं नहीं के बराबर इन्हें मिल रही है। जिले के चांडिल क्षेत्र के जंगलों में इन दिनों गजराजों ने अपना ठिकाना बना रखा है और ये गजराज ईचागढ़, चांडिल, चौका, कांड्रा, नीमडीह के अलावे जमशेदपुर के घाटशिला, बहरागोड़ा औक चाकुलिया तक कोहराम मचा रहे हैं।

कभी किसी घर को अपना निशाना बनाते हैं, तो कभी अपनी जद में आनेवाले इंसाक को…। कभी खेतों में बने खलिहानों को तहस-नहस कर डालते तो कभी घर में रखे अनाजों और खेतों में लगी फसलों को रौंद रहे।

इधर वन विभाग इन हाथियों को रोक पाने में नाकाम साबित हो रहा है। वहीं आज चांडिल अनुमंडल के किसानों का सब्र दगा दे गया और आज इन इन किसानों ने चांडिल वन प्रमंडल कार्यालय का घेराव कर सरकारी सुविधाएं तत्काल बहाल करने औऱ प्रभावितों को अविलंब मुआवजा देने की मांग करते हुए वन प्रमंडल पदाधिकारी को घंटों बंधक बनाए रखा।

वहीं किसानों के उग्र रूप को देखते हुए चांडिल वन प्रमंडल पदाधिकारी ने किसानों की मांगों पर एक सप्ताह के भीतर कार्रवाई करने का भरोसा दिलाया।

 

Share Button

Related News:

उत्पाती हाथियों ने सांडी में किसान को रौंद डाला
आतंकी से 'गुरूजी' बना तौसीफ 56 मौतों का रहा है गुनहगार
नगरनौसा में आर्थिक हल-युवाओं को बल पर एक दिवसीय कार्यशाला
समीक्षाः एक विशुद्ध मनोरंजक और ऐतिहासिक फिल्म है 'पद्मावत'
अंग्रेजी शराब की सरकारी दुकान के विरोध में आमरण अनशन
समान वेतन का मामला कोर्ट में, हड़ताल का औचित्य नहीं :रौशन कुमार
महिला कांस्टेवल ने नालंदा थाना प्रभारी पर लगाये छेड़खानी के आरोप !
होलिका दहन विवाद के बाद हुई गोलीबारी में महिला की मौत के मुख्य आरोपी को भी यूं मार डाला
नालंदा इंजीनियरिंग कॉलेज परिसर में चला स्वच्छता अभियान
सीट बंटबारे के बाद यूं खिलखिला रहे महागठबंधन के नेता
संदेह के घेरे में नालंदा MCMC कोषांग सचिव सह DPRO की कार्यशैली
जुर्रतः कहता है इंदिरा आवास सहायक, 25% घूस दो, तभी होगा भुगतान
बिहार के विकास के संदर्भ में आज भी प्रासंगिक है श्री बाबू के विचार
एस के द्विवेदी होंगे बिहार के नए पुलिस मुखिया
'भ्रष्टाचारियों, माफियाओं व दलालों का अड्डा बन गया है नालंदा डीईओ कार्यालय'
ट्रेलर ने ली वृद्धा की जान, चालक की पिटाई, सड़क जाम
मुख्य सचिव ने की उच्च एवं माध्यमिक शिक्षा विभाग की समीक्षा
CBI ने बरौनी रिफाइनरी के ADMIN HR को रिश्वत लेते रंगे हाथ दबोचा
पंसस की बैठक से भागी प्रखंड प्रमुख तो सीओ पर FIR का प्रस्ताव
औटो पलटने से मजदुर की मौत

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...
Loading...