स्कॉलरशिप फार्म भरने से वंचित पॉलिटेक्निक छात्रों ने की आगजनी, रोड जाम

Share Button

देखिये-सुनिये, क्या कहते हैं छात्र….. 

मंगलवार तक फार्म भरने का अंतिम समय है। इस हालत में दर्जनों छात्र बिना फार्म भरे रह जायेंगे। गुस्साये छात्रों ने क्लर्क को बदलने की मांग की।”

बिहार शरीफ (एक्सपर्ट मीडिया न्यूज)।  नालंदा जिले के अस्थावां पॉलिटेक्निक कॉलेज के छात्रों ने सोमवार को जमकर हंगामा किया। छात्रों ने कॉलेज के सामने एनएच 82 पर टायर जलाकर आगजनी की और सड़क जाम कर दिया।

नाराज छात्रों ने कॉलेज के क्लर्क के खिलाफ मनमानी का आरोप लगाया और कहा कि उनके रवैये से कई छात्र स्कॉलरशिप का फार्म भरने से वंचित रह सकते हैं। इस दौरान छात्रों ने जमकर नारेबाजी करते हुये कॉलेज प्रशासन के खिलाफ प्रदर्शन किया।

सूचना पाकर सीओ व पुलिस अधिकारी घटनास्थल पर पहुंचे और प्राचार्य से बात कर छात्रों को कार्रवाई का आश्वासन दिया। तब जाकर आक्रोशित छात्र शांत हुये।

दोपहर बाद तीन बजे के करीब दर्जनों छात्र हंगामा करते हुये सड़क पर पहुंच गये। छात्रों ने टायर जलाकर सड़क अवरुद्ध कर दिया। छात्र कॉलेज प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी करते हुये क्लर्क को हटाने की मांग कर रहे थे।

इस दौरान सड़क पर गाड़ियों की कतार लगनी शुरू हो गयी। सूचना पाकर सीओ रविशंकर पांडेय और थानाध्यक्ष राजीव रंजन राय दलबल के साथ वहां पहुंचे।

सीओ ने प्राचार्य से फोन पर बात कर उन्हें छात्रों की मांग के बारे में बताया। छात्रों ने बताया कि स्कॉलरशिप फार्म भरने के लिए काफी कम समयहै। क्लर्क समय से नहीं आते हैंऔर पूछने पर गाली-गलौज व मारने-पीटने की धमकी देते हैं।

क्लर्क ने कहा था कि सोमवार को सवेरे पहुंच जायेंगे और छात्रों का फार्म भरा जायेगा, लेकिन पहुंचे शाम को तीन बजे। एक दो छात्रों का फार्म भरा गया बाकी वंचित रह गये। छात्रों का आरोप था कि क्लर्क जान बूझकर छात्रों को टहला रहे हैं।

प्राचार्य डॉ. श्याम बिहारी सिंह ने बताया कि छात्रों की परेशानी को हर हाल में दूर किया जायेगा। मंगलवार को वह कॉलेज पहुंचकर मामले की जांच करेंगे। छात्रों का आरोप सही पाया गया तो दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जायेगी। सभी छात्रों का फार्म भरवाने का प्रयास किया जायेगा।

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.