‘सु-शासन’ से उठा भरोसा, यहां नहीं निकलेगा मुहर्रम जुलूश!

एक्सपर्ट मीडिया न्यूज नेटवर्क। बिहार के सीएम नीतीश कुमार के गृह जिले नालंदा के हिलसा नगर में इस साल मुसलमान भाई मुहर्रम के मौके पर ताजिया जुलूश नहीं निकालेंगे। सभी मुसलमान भाईयों ने एक बैठक कर यह निर्णय लिया है।

उनका कहना है कि पिछले साल मुहर्रम में पुलिस-प्रशासन ने अपनी नाकामी छुपाने के लिए बेमतलब ज्यादती की हद कर दी थी। एक अफवाह मात्र पर उसने चुन-चुन कर इस समुदाय के सभ्रांत लोगों पर एफआईआर दर्ज कर जेल भेज दिया था।

पुलिस उत्पीड़न के प्रायः शिकार लोग शांति कमिटि के लोग तो हुए ही थे, देश-विदेश के विभिन्न हिस्सों में रहकर अपनी गुजर-बसर करने वाले लोगों को भी नहीं वख्शा गया था।

मुस्लिम समुदाय का साफ कहना है कि पुलिस-प्रशासन पर उन्हें विश्वास नहीं है। उन्हें भय कि पिछले साल की कार्रवाई यहां फिर न दोहरा दी जाए। इसीलिए वे सब एकजुट होकर मुहर्रम ताजिया जुलूश नहीं निकालने का फैसला लिया है।

कहा जाता है कि पिछले साल मुहर्रम और दशहरा पर्व लगभग समान दिनों में मनाए जा रहे थे। उस समय प्रशासन ने दोनों समुदाय के लोगों पर जुलूश के दौरान डीजे नहीं बजाने के आदेश दिए गए थे।

इस आदेश के बाद दशहरा जुलूश में डीजे नहीं बजाया गया, लेकिन जब मुहर्रम जुलूश निकाला गया तो कुछ असमाजिक तत्वों ने उस दौरान डीजे बजाए जाने की अफवाह फैला दी।

इस अफवाह के बाद एक समुदाय विशेष से जुड़े कुछ कट्टर संगठन के लोग सड़क पर उतर आए और आपत्तिजनक नारे लगाने लगे। इससे माहौल बिगड़ गया।

इसके बाद फिर 3 दिन बाद वरीय प्रशासनिक अफसरों की पहल पर मुहर्रम जुलूश निकाले गए। लेकिन उसके बाद स्थानीय पुलिस-प्रशासन ने अपनी नाकामी छुपाने के लिए दोनों पक्षों से जुड़े लोगों पर मनमाने ढंग से प्राथमिकी दर्ज कर डाली और अनेक संभ्रांत लोगों को भी जेल काटनी पड़े।   

Related News:

दस हजार की रिश्वत लेते रंगे हाथ धराये मानपुर अंचल के सीओ
हरियाणा के महामहिम बने एसएन आर्य कभी चंडी में थे क्लर्क, 'राजा बाबू' से हुआ था यूं पंगा
पंचायतों को खुले में शौच मुक्त करवाएंगे स्वच्छताग्रही
हाथियों से परेशान किसानों का प्रदर्शन, वन प्रमंडल पदाधिकारी को बनाया बंधक
रात अंधेरे नालंदा एसपी की बड़ी कार्रवाई, 6 खनन माफियाओं समेत 14 पर एफआईआर
जरासंध की नगरी राजगीर में विराट शोभायात्रा, धरोहर बचाने की गुहार
15 दिन बाद भी इस ‘प्रेमी युगल’ की जांच नहीं कर सका है प्रशासन
न्यायः हिलसा कोर्ट ने वादी को दोषी ठहराया, दी 7 साल की सजा
हवाई सर्वेक्षण यात्रा रद्द कर सीएम नीतीश पहुंचे गया, लू पीड़ितों से की मुलाकात, करेंगे समीक्षा बैठक
उड़ीसा के बाद बिहार और झारखंड के सीएम से गुहार लगायेगें अपृह्त डा. दास के परिजन
पंचायत समिति की बैठक से नदारत रहे विभागीय अफसर
इंपैक्ट कॉलेज कैंपस प्लेसमेंट में सफल छात्रों के बीच उत्साह का माहौल
दिनदहाड़े यूं लूटा जा रहा है कहलगांव थर्मल पावर का कोयला
दिल्ली एम्स में गर्ववती नर्स की मौत के बाद महौल गर्म
जमीन अधिग्रहण को लेकर विधायक ने खोला सरकार के खिलाफ मोर्चा
सीबीआई के लिये जंजाल बनी ब्रजेश ठाकुर की वाह्टसऐप कॉलिंग
छात्र जदयू नेता के नालंदा कॉलेज में ‘बंदर-बंदरिया डांस’ लेखन के बाद मचा बवाल
चंडी-नगरनौसा प्रखंड के BEEO को नहीं पता कि कितने शिक्षक हड़ताल पर हैं !
सौ वर्षों से लग रहा है हैदरनगर में भूतों का अजीबोगरीब मेला
कांग्रेसियों में जोश भरने सरायकेला पहुंचे सुबोध कांत

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...
Loading...