सीट बंटबारे के बाद यूं खिलखिला रहे महागठबंधन के नेता

Share Button

“झामुमो झारखंड की चार सीटों के अलावा ओडिशा में भी एक सीट पर लड़ेगा। दुमका से शिबू सोरेन, राजमहल से विजय हांसदा का नाम तय माना जा रहा है। दोनों इन्हीं सीटों से अभी सांसद हैं। गिरिडीह से जगरनाथ महतो और जमशेदपुर से कुणाल षाड़ंगी के प्रत्याशी बनने की चर्चा है। ओड़िशा के मयूरभंज से अंजनी सोरेन पार्टी की उम्मीदवार हो सकते हैं…..”

रांची (एक्सपर्ट मीडिया न्यूज)। झारखंड में महागठबंधन के बीच लोकसभा सीटों के बंटवारे पर सहमति बन गई है। होली के बाद रांची में झामुमो अध्यक्ष शिबू सोरेन के आवास पर इसका औपचारिक ऐलान होगा।

महागठबंधन में सीटों के बंटवारे पर सहमति के बाद संभावित उम्मीदवारों और दावेदारों के नाम भी चर्चा में आने लगे हैं। झामुमो के कई दावेदारों के नाम अलग-अलग सीटों के लिए चर्चा में हैं।

कांग्रेस : रांची, लोहरदगा, पलामू, खूंटी, हजारीबाग, धनबाद, सिंहभूम।

झामुमो : दुमका, राजमहल, गिरिडीह, जमशेदपुर।

झाविमो : कोडरमा, गोड्डा।

राजद : चतरा।”

दिल्ली में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से मुलाकात के बाद पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने इसकी घोषणा की। इस मुलाकात में प्रदेश कांग्रेस के प्रभारी आरपीएन सिंह भी शामिल थे। हेमंत ने हजारीबाग सीट भाकपा उम्मीदवार भुवनेश्वर मेहता के लिए छोड़ने की मांग की है।

हेमंत और आरपीएन ने मीडिया से बातचीत में दावा किया कि सीटों के बंटवारे से संबंधित विवाद सुलझ गए हैं। गठबंधन के तहत चुनाव लड़ने में कोई संशय नहीं है। हेमंत ने वामदलों को भी गठबंधन से जोड़ने की बात कही।

हालांकि, आरपीएन ने कहा कि वामदल पहले किसी सीट पर एकमत हो जाएं। इसके बाद बातचीत की जाएगी। दोनों नेताओं ने झाविमो और राजद से जुड़े मसलों के भी हल होने की जानकारी दी।

कांग्रेस नेतृत्व के बुलावे पर पूर्व मुख्यमंत्री और झारखंड विकास मोर्चा के प्रमुख बाबूलाल मरांडी भी दिल्ली पहुंच गए थे। प्रदेश कांग्रेस प्रभारी और हेमंत सोरेन के साथ बैठक में उन्होंने भी हिस्सा लिया।

बाबूलाल मरांडी की मौजूदगी में सीटों के बंटवारे पर आपसी सहमति बनी है। गोड्डा सीट की झाविमो की मांग भी पूरी हो गई है। तीनों दलों के नेताओं ने प्रदेश की सभी 14 लोकसभा सीटों पर एक-एक पर वहां की राजनीतिक परिस्थिति पर चर्चा की।

इसके बाद सुबह में राहुल से मिलने के बाद दिल्ली के मध्य प्रदेश भवन में झारखंड के विपक्षी गठबंधन के नेताओं की फिर बैठक हुई।पहले से तय फॉर्मूले कांग्रेस को सात, झामुमो को चार, झाविमो को दो और राजद को एक सीट देने को एकराय से हरी झंडी दी गई।

इसमें झाविमो प्रमुख बाबूलाल मरांडी, झामुमो के कार्यकारी अध्यक्ष हेमंत सोरेन, प्रदेश कांग्रेस प्रभारी आरपीएन सिंह, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार भी शामिल हुए। सबने एक-एक सीट का पाला तय करने के बाद हाथ से हाथ जोड़कर एकता का प्रदर्शन किया।

281

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...