सीएम नीतीश के राजगीर में बड़ा घोटाला, पार्षद ने खोली कच्चा चिठ्ठा, निगरानी जांच की मांग

Share Button

एक्सपर्ट मीडिया न्यूज नेटवर्क। बिहार के सीएम नीतीश कुमार के गृह जिला नालंदा के राजगीर नगर पंचायत कार्यालय में  विभिन्न सरकारी योजनाओं के फाइल चोरी होने के बाद जनप्रतिनिधियों के साथ अफसरों की कार्यशैली पर भी अँगुली उठना स्वभाविक है।

नगर पँचायत के वार्ड 7के पार्षद अंजली कुमारी ने इस संबंध में करोड़ो के घोटाला के पूरे साक्ष्यों को  उजागर करते हुए कहा निगरानी विभाग से जाँच की मांग कर रही है।

उन्होंने एक साजिश  के तहत सभी महत्वपूर्ण फाइलों की  चोरी की चोरी का आरोप राजगीर नगर पंचायत के उपाध्यक्ष पिंकी देवी के पति  अशोक राय पर लगाया है। जिसमें नगर अभियंता कुमार आनंद भी सम्मिलित हैं। उन फाइलों में वैसे फाइल भी गायब किया गया है। जो योजनाओं मे करोडों रुपये का लुट खसोंट किया गया है।

नगर पँचायत के वार्ड 7के पार्षद अंजली कुमारी……

इन लोगों के माध्यमों से 11 सौ लीटर का डस्टबिन 25 पिस, जो प्रति पिस 40 हजार 2 सौ 54 रुपये खरीदा गया है। बाजार में इसका रेट प्रतिशत पीस 18 हजार रुपया है।

हॉट डिप वोडी डस्टबिन 240 लिटर का 50 पिस  12 हजार 2 सौ 88 रुपये प्रति पिस खरीदा गया, जिसका बाजार का रेट प्रति मात्र 65 सौ रुपए पिस है। साथ ही ई-रिक्शा कचरा उठाव 6 पिस डेढ लाख रुपये प्रति पिस खरीदा गया था। जबकि बाजार का रेट मात्र 90 हजार रुपये प्रति पीस है।

वहीं  ट्रैक्टर एक पिस 9 लाख 70 हजार रुपये मे खरीदा गया जो महज 7 लाख में आम आदमी को मिलता है। टैंकर स्टील वाटर जो 35 सौ लिटर का तीन पिस 5 लाख 75 हजार रुपये में खरीदा, जो कि बाजार में ढाई लाख रुपये में मिलता है।

वहीं टैंकर स्टील वाटर 5 हजार लिटर का दो पीस, जो प्रति पिस 6 लाख 75 हजार खरीदा गया। जबकी मार्केट कीमत  3 लाख 50 हजार रुपये प्रति पीस है। एयर लिपट  इलेक्ट्रिक वर्क एक पीस, जो 27 लाख 53 हजार रुपये खरीदा गया, वह मात्र 13 लाख में मिलता है।

फौक्सिंग मशीन एक पिस 6 लाख 84 हजार रुपये में खरीदा गया। जबकी इसका बजार का रेट मात्र 3 लाख 50 हजार रुपये है।

उन्होंने कहा कि यह नगर विकास विभाग के अधिकारियों एवं महालेखाकार को पत्र लिखा गया है ताकि पूरी निष्पक्ष जांच हो सके। सरकारी राशी का दुरुपयोग नही हो।

उन्होंने कहा कि नगर पंचायत द्वारा गुम हुई फाइल में नगर कनीय अभियंता कुमार आनंद की भूमिका संदिग्ध है, क्योंकि कार्यालय के करोड़ो के विभागीय कार्य की अवैध निकासी उनके और उपाध्यक्ष पति के मिलीभगत से हुई है। 

गलत प्राक्कलन बनाकर पिछले कुछ समय मे विभागीय कार्य के नाम पर विभिन्न योजनाओ से अवैध निकासी करोड़ो में की गई है। उसी तरह नगरपालिका के आंतरिक मद से विभिन्न कार्यो में प्राक्कलन की हेरा फेरी कर करोड़ो की निकासी हुई है।

वार्ड 11 के पछयरिया टोला में शिव मंदिर पर जलापूर्ति पर लाखों की निकासी की गई, जबकि वहां पूर्व से ही बोरिंग और समरसेबुल लगा हुआ था बाबजूद इसके  बिल की निकासी कर ली गई। विभागीय कार्य के नाम पर महज खानापूर्ति कर लाखो राशि गबन हुआ है।

वहीं विभिन्न वार्डो में विभागीय योजना क्रियान्वयन करने के जगह अवैध निकासी की गई। यही वजह है कि सड़क, गली, नली के योजनाओं में गुणवत्ता का अभाव होने के बाबजूद नगर पँचायत बोर्ड द्वारा कनीय अभियंता के वेतन में लगातार करते हुए वृद्धि 15 हज़ार से 27 हज़ार की गई और प्रोन्नति के लिए भी नगर बोर्ड द्वारा अनुशंसा की गई।

यदि नगर पँचायत के द्वारा क्रियान्वयन किये गए सभी टेंडर, विभागीय कार्य, खरीद की सभी योजनाओं की जांच हो तो सारा मामला से परत खुल सकता है।

इधर फाइल चोरी घटना को लेकर नगर प्रबंधक राजमणि गुप्ता बड़ा हास्यास्पद बात की है। उनका कहना है कि  घटना की जांच पता चल रही है। अभी तक  कौन-कौन योजनाओं का फाइल चोरी हुई है, उसका अभी तक लिस्टिंग नहीं किया गया है।

Share Button

Related News:

निगरानी विभाग की कड़ी नजर, चिन्हित लोग बन सकते हैं षडयंत्र का हिस्सा
ग्रामीणों को जागरूक कर रहे दूसरे राज्यों के स्वच्छता ग्राही
अजातशत्रु किला मैदान में संत मोरारी बापू को नहीं मिली थी राम कथा वाचन की अनुमति
सदैव फरार रहता है सरमेरा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र का प्रबंधक-लेखापाल
भूमिहीनों को सरकारी जमीन की मांग को लेकर भाकपा माले का धरना
कंप्यूटर बुक राईटर अजीत ने अपने ज्ञान से दुनिया में बिहार का यूं परचम लहराया
स्व. दिग्विजय बाबू की बेटी श्रेयसी ने गोल्ड जीत बढ़ाया देश का मान
राजगृह तपोवन तीर्थ रक्षार्थ पंडा कमेटी के अध्यक्ष का पुत्र शराब पीते धराया
बिहार में बड़े पैमाने पर होगी थाना मैनेजर की बहाली
हिलसा शौचालय घोटालाः आज हुआ एक और एफआईआर
यूं सड़क पर दिखा जमुई डीएम दपंति विवाद, लोग हतप्रद  
मंत्री ललन सिंह के कार्यक्रम में जदयू वर्करों ने किसानों को पीटा, कई घायल
बिहारी नेताओं को क्यों नहीं पच रहा अखिलेश सिंह का यह सच
‘बबुनी’ से नहीं मिले, हिरण्य के पहले विपुलगिरी तो घुम लेते नीतीश बाबू!
पटना रैली में जा रहे राजद समर्थकों की स्कार्पियो पलटी, तीन की मौत
बालू माफियाओं ने रैयती खेत को बनाया यूं तालाब, पुलिस नहीं कर रही कार्रवाई
महादलित टोले की राह में दबंगों ने अटकाया रोड़ा
खबर का असरः जर्जर सड़क पर लग रही यूं पेबंद
बिहारशरीफ एसडीओ के हाथों रहुई में पोषण मेला शुरु, हुई अनेक प्रतियोगिताएं
23 मई को बिहार में टीवी एक्जिट पोल की ढोल बजेगी या फूटेगी!
समान वेतन का मामला कोर्ट में, हड़ताल का औचित्य नहीं :रौशन कुमार
श्री लक्ष्मी नारायण महायज्ञ मंडप की परिक्रमा को जुटे श्रद्धालु
पटना ज्ञान भवन में डिप्टी सीएम के नेम प्लेट को ढंका, फिर हटाया
फेसबुक पर यूं लाइव हुए बिहार के डीजीपी
‘सोशल मीडिया के साथ आधुनिक तकनीक अपनाये भाजयुमो’  
वार्ड सदस्य से 1.32 लाख घूस लेते निगरानी के हत्थे चढ़ा हिलसा का जेई
जहानाबाद से राजद टिकट की दावेदारी में सबसे आगे दिख रहे हैं पत्रकार विनायक विजेता
पटना डीआईजी के आदेश की थानेदारों ने यूं निकाली हवा
बंदियों के स्थानांतरण से से ज्यादा जरुरी है जेलों में जैमर
मिट्टी संवर्धन को लेकर किसानो संग सीओ ने की बैठक
नालंदा में संविधान निर्माता अंबेडकर की मूर्ति तोड़ा, आक्रोश, एसपी ने बताया हादसा
हेड मास्टर की मनमानी के विरोध में छात्रों ने किया एनएच-30ए जाम
बाइक से घर लौट रहे आर्मी जवान को बदमाशों ने सर में मारी गोली
गणेश-लक्ष्मी की पुरानी मूर्ति नहर में परबा करने गये 3 बच्चों की मौत
पत्नी की विदाई कराने गए रांची के युवक को इस्लामपुर में ससुराल वालों ने मार डाला
क्रिमीनल टाईप है रंगीला स्कूल का हेडमास्टर, सीधी कार्रवाई से डरती है बीईओ
नाबालिग छात्रा की छेड़खानी का वायरल वीडियो बनाने वाले सरपंच के बेटा का कोर्ट में सरेंडर
पुरातत्व संरक्षण सहायक की थेथरई- 'कहीं कुछ नहीं हो रहा'
रंगदारी नही दिया तो 1.60 लाख लूट कर फूंक डाले बालू घाट के दो पोपलीन मशीन
जेएमएम की ऐसी फार्मेट की उड़ रही सर्वत्र खिल्ली!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...
Loading...