समाजिक कार्यकर्ता की तलवार से काट कर हत्या

Share Button

“जिले में अपराधियों के हौंसले बुलंद हैं। हत्या, लूट और डकैटी जैसे संगीन अपराध लगातार हो रहे हैं। पिछले दो महीने के भीतर हत्या के दो, डकैती तीन और चोरी के कई घटनाएं हुईं है। लेकिन पुलिस के हाथ लगभग सभी घटनाओं में खाली हैं….”

सरायकेला-खरसावां (एक्सपर्ट मीडिया न्यूज)। गम्हरिया थाना क्षेत्र के बिंदा गांव का है, जहां जमीन विवाद में एक युवक की हत्या तलवार से काट कर किए जाने का मामला प्रकाश में आया है। युवक का नाम राज वारदा है और वह यूसीआईएल में ठेकेदार के मुंशी का काम करता था।

यूसीआईएल की ओर से मिट्टी काटने का काम चल रहा था, इसको लेकर बड़ा तालसा गांव के गणेश सामंत नामक व्यक्ति ने जबरन अपने घर के आगे की मिट्टी काटने मृतक से कहा।

राज वारदा के इंकार करने के बाद दोनों के बीच नोंक-झोंक हुई और आरोपी ने तलवार से मृतक पर हमला कर दिया, जिससे उसकी मौत घटनास्थल पर ही हो गई।

मृतक के भाई ने बताया कि मृतक एक सामाजिक कार्यकर्ता था, और सामाजिक कुरीतियों के खिलाफ लगातार लड़ता रहता था। क्षेत्र में शराब माफियाओं के खिलाफ लगातार आवाज उठाता रहता था।

साथ ही विस्थापन के मुद्दे पर भी वह लगातार आवाज उठाता था, जो गांव के कुछ लोगों को नागवार लग रहा था, इसलिए कुछ लोगों ने उसे रास्ते से हटाने को लेकर योजनाबद्ध तरीके से हत्या कर दी है।

वहीं युवक की हत्या के बाद पूरे ईलाके में मातमी सन्नाटा पसरा हुआ है। गांव के मुखिया ने भी मृतक को सामजिक कार्यकर्ता बताया औऱ कहा कि मृतक हमेशा ग्रामीणों के सुख- दुख में खड़ा रहता है। समाज में हो रहे हर गलत कामों का वह विरोध करता था।

मुखिया ने इस हत्याकांड की कड़े शब्दों में निंदा  की है, और हत्यारों की गिरफ्तारी की मांग की है। वैसे मुखिया ने इस हत्याकांड के पीछे गहरे साजिश की आशंका जताई है।

इधर पुलिस युवक के शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। वहीं भाई की शिकायत पर पुलिस ने दो युवकों को गिरफ्तार कर पूछ-ताछ कर रही है। लेकिन मुख्य आरोपी अभी भी पुलिस की गिरफ्त से दूर है।

गम्हरिया थाना प्रभारी ने बताया कि आपसी रंजिश में युवक की हत्या की बात सामने आ रही है, जिसकी तफ्तीश की जा रही है। वहीं उन्होने आरोपियों को जल्द गिरफ्तार करने का दावा किया है।

वहीं अपने गांव, अपने समाज की कुरीतियों से अकेले लड़ने का बीड़ा उठानेवाले को समाज के कुछ रहनुमाओं को नागवार गुजरा और उन रहनुमाओं ने अपने रास्ते के कांटे को सदा से निकाल दिया।

कहते हैं थाना प्रभारी…….

Share Button

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...