शौचालय तोड़फोड़ मामले में पूर्व मुखिया, बिचौलिया समेत 3 पर एफआईआर, बीडीओ को नोटिश

0
12

केशोपुर पंचायत जून 2017 में ही ओडीएफ घोषित कर दिया गया था। लेकिन कुछ लाभुकों को छोड़कर सैकड़ों लाभुकों को आज तक राशि की भुगतान नही हो पाई है। एकंगरसराय प्रखंड में सैकड़ों शौचालय ऐसे बनाये गए हैं, जो आज तक चालू तक नहीं हुआ है। सिर्फ खानापूर्ति कर राशि निकाल ली गई है।”

बिहार शरीफ (एक्सपर्ट मीडिया न्यूज)। एक तरफ जहां सीएम नीतीश कुमार के गृह जिले नालंदा में सात निश्चय योजना के तहत घर-घर शौचालय निर्माण को सफल बनाने के लिए प्रशासन द्धारा हर तरह के हथकंडे अपना कर जागरूकता अभियान चलाया रहा है। वहीं शौचालय निर्माण के 14 महीने बीत जाने के बाबजूद राशि की भुगतान नही किये जाने से क्षुब्ध कथित बिचौलिया अभिकर्ता ने भाड़े के लोगों से दर्जन भर नवनिर्मित शौचालय घरों को तोड़-फोड़ डाला।

हिलसा अनुमंडल पदाधिकारी सृष्टि राज सिन्हा…….

इस मामले से प्रभावित  एक लाभूक की शिकायत पर एकंगरसराय थाना में एफआईआर दर्ज की गई है। जिसमें कथित बिचौलिया अभिकर्ता उदय कुमार, पूर्व मुखिया श्रीदेवी व एक अन्य को नामजद अभियुक्त बनाया गया है।

इस मामले में प्रथम दृष्टया एकंगरसराय बीडीओ मनोज कुमार पंडित को उनकी घोर लापरवारी को देखते हुये हिलसा अनुमंडल पदाधिकारी सृष्टि राज सिन्हा ने कारण बताओ नोटिश जारी किया है।

श्री सिन्हा ने बताया कि उन्होंने इस मामले की खुद गहराई से पड़ताल की है और ऐसी असमाजिक हरकत करने वालों के खिलाफ कड़ी प्रशासनिक कार्रवाई की जायेगी। दोषी व लापरवाह अफसर-कर्मी को भी किसी भी हालत में वख्शा नहीं जायेगा।  

बता दें कि नालंदा जिले के एकंगरसराय प्रखंड के केशोपुर पंचायत में करीब 14 महीने पूर्व बनाये गए प्रायः शौचालयों की राशि की भुगतान आज तक नही हो पाया है।

कार्यालयों व उसके बाबूओं के चक्कर लगाते-लागते थक हार कर आक्रोशित कथित अभिकर्ता (बिचौलिया) उदय कुमार ने बुधवार को करीब एक दर्जन शौचालय को नष्ट कर उसके सामान को ले गये। इस काम में उसने किराये के  महिला-पुरुष मजदूरों  को लगाया।

केशोपुर पंचायत के कोरथु गाँव निवासी  बिचौलिया उदय कुमार का कहना है कि एकंगरसराय के पूर्व बीडीओ पंकज कुमार एवं केशोपुर पंचायत के पूर्व मुखिया श्री देवी के मौखिक आदेश पर 14  महीने पूर्व केला बिगहा एवं कोरथु गांव में ईंट भठे व सीमेंट दुकान से उधार लेकर 5 दर्जन से अधिक शौचालय का निर्माण कराया था।

लेकिन, राशि की भुगतान को लेकर कार्यालयों व अफसर-कर्मियों के चक्कर काटते-काटते थक कर हार गए। फिर भी आज तक राशि की भुगतान नही हो सकी है।

बकौल बिचौलिया, पंचायत में 496 लोगो को अभी तक शौचालय निर्माण की राशि की भुगतान नहीं हुई है। राशि की भुगतान नहीं होने पर बुधवार को केला बिगहा गांव मे बनाये गये भतु प्रसाद, लोकेन्द्र चौधरी, उदय कुमार, बिजेंद्र पंडित समेत कई लोगों के घर के समीप बने शौचालय को तोड़कर कर ईंट व अन्य सामान को ले गये हैं। शौचालय तोड़े जाने की लिखित सूचना  उसने बीडीओ मनोज कुमार पंडित को 16 अप्रैल 18 को दे दिया था।

यदि प्रखंड के सभी पंचायतों में शौचालय निर्माण का सही जाँच हो जाय। तो बहुत बड़ी मामला उजागर हो सकती है। अधिकारियों और बिचौलियों का पोल खुल जायेगा।

इस प्रखंड में दर्जनों ऐसे लोग हैं। जिन्होंने अधिकारी व कर्मियों से मिलीभगत कर कई बर्ष पुराने बने शौचालय को भी नवनिर्मित बता कर सराकरी राशि की निकासी कर ली गई है। यह एक बड़ा चर्चा का विषय बना हुआ है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.