शराबबंदी के बाद जल जीवन हरियाली थीम रिजेक्ट, नहीं दिखेगी गणतंत्र दिवस परेड में झांकी

बिहार की जल जीवन हरियाली थीम पर झांकी की अनुमति नहीं मिली। केंद्र ने दूसरे विषय पर झांकी की मांग बिहार से की लेकिन बिहार सरकार दूसरे विषय के लिए तैयार नहीं हुई…….”

एक्सपर्ट मीडिया न्यूज डेस्क डेस्क। नई दिल्ली के राजपथ पर गणतंत्र दिवस परेड के दौरान इस बार भी बिहार की झांकी नहीं दिखेगीइस बार प्रस्ताव दिया गया था कि वह जल-जीवन-हरियाली अभियान को केंद्र में रख अपनी झांकी तैयार करेगा।

रक्षा मंत्रालय के अधीन कार्यरत कमेटी ने जल-जीवन-हरियाली अभियान को केंद्र के जलशक्ति मंत्रालय का विषय बता दिया। यह भी कहा कि यह विषय राज्य सरकार का नहीं हो सकता है।

इस वजह से जल-जीवन-हरियाली अभियान पर झांकी बनाए जाने को अनुमति नहीं दी जा सकती है। बिहार सरकार कोई दूसरा प्रस्ताव दे।

राज्य सरकार की ओर से कहा गया कि वह इस विषय को छोड़कर किसी अन्य विषय पर झांकी तैयार नहीं करेगी।

थीम रिजेक्ट होने से बिहार सरकार के अधिकारियों के साथ-साथ लोगों में भी निराशा है। इस झांकी को लाइव देखने के लिए हजारों की संख्या में लोग जुटते हैं।

इसके अलावा करोड़ों लोग इसे टेलीविजन और इटरनेट के माध्यम से देखते है। बिहार की थीम को रिजेक्ट करने को मुख्य विपक्षी पार्टी राजद ने बिहार के साथ नाइंसाफी बताया है।

राजद की ओर से ट्वीट कर लिखा गया कि शराबबंदी पर बिहार की झांकी को 2019 के दिल्ली के गणतंत्र दिवस समारोह में दिखाने से मना कर दिया गया।

जल,जीवन,हरियाली पर बिहार सरकार की झांकी को 2020 के गणतंत्र दिवस समारोह में दिखाने से मना कर दिया गया। सीधे-सीधे बताओ कि बिहार को बेइज्जत कर रहे हो या नीतीश को या दोनों को?

बिहार के अलावा पश्चिम बंगाल और महाराष्ट्र की झांकी भी इस साल के गणतंत्र दिवस पर नहीं दिखेगी, क्योंकि इन राज्यों के प्रस्ताव को भी केंद्र ने खारिज कर दिया है।

Related News:

देखिए वीडियोः फेसबुक पर एक पारा शिक्षिका का अमर्यादित धमाल
IT Act का ज्ञान नहीं और पत्रकार के खिलाफ धुर्वा थाना प्रभारी यूं कर रहे अनुसंधान !
विवाहिता की सरेआम गोली मार कर हत्या
सड़क हादसाः बिहार के इन 4 जिलों में आधा दर्जन से अधिक की मौत
पटना में नारकीयता के बीच सड़क धंसी, सीएम ने भ्रष्टाचार को बारिश से ढंका
रसोई गैस की बढ़ी कीमत के खिलाफ बिहार युवा कांग्रेस का प्रदर्शन, पीएम का पुतला फूंका
यूं मनमानी और उपभोक्ताओं का शोषण कर रही है राजगीर गैस एजेंसी
राजगीर में 7 सौ करोड़ की लागत से बनेगा बिहार का प्रथम स्पोटर्स अकादमी
लापरवाह व्यवस्था की यूं मार झेल रहा है जमुई सदर अस्पताल
राजगीर गर्म कुंड परिसर से सटे लगी भीषण आग के कारण जान चौंक जाएंगे आप

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...
Loading...