शराबबंदी के बाद जल जीवन हरियाली थीम रिजेक्ट, नहीं दिखेगी गणतंत्र दिवस परेड में झांकी

बिहार की जल जीवन हरियाली थीम पर झांकी की अनुमति नहीं मिली। केंद्र ने दूसरे विषय पर झांकी की मांग बिहार से की लेकिन बिहार सरकार दूसरे विषय के लिए तैयार नहीं हुई…….”

एक्सपर्ट मीडिया न्यूज डेस्क डेस्क। नई दिल्ली के राजपथ पर गणतंत्र दिवस परेड के दौरान इस बार भी बिहार की झांकी नहीं दिखेगीइस बार प्रस्ताव दिया गया था कि वह जल-जीवन-हरियाली अभियान को केंद्र में रख अपनी झांकी तैयार करेगा।

रक्षा मंत्रालय के अधीन कार्यरत कमेटी ने जल-जीवन-हरियाली अभियान को केंद्र के जलशक्ति मंत्रालय का विषय बता दिया। यह भी कहा कि यह विषय राज्य सरकार का नहीं हो सकता है।

इस वजह से जल-जीवन-हरियाली अभियान पर झांकी बनाए जाने को अनुमति नहीं दी जा सकती है। बिहार सरकार कोई दूसरा प्रस्ताव दे।

राज्य सरकार की ओर से कहा गया कि वह इस विषय को छोड़कर किसी अन्य विषय पर झांकी तैयार नहीं करेगी।

थीम रिजेक्ट होने से बिहार सरकार के अधिकारियों के साथ-साथ लोगों में भी निराशा है। इस झांकी को लाइव देखने के लिए हजारों की संख्या में लोग जुटते हैं।

इसके अलावा करोड़ों लोग इसे टेलीविजन और इटरनेट के माध्यम से देखते है। बिहार की थीम को रिजेक्ट करने को मुख्य विपक्षी पार्टी राजद ने बिहार के साथ नाइंसाफी बताया है।

राजद की ओर से ट्वीट कर लिखा गया कि शराबबंदी पर बिहार की झांकी को 2019 के दिल्ली के गणतंत्र दिवस समारोह में दिखाने से मना कर दिया गया।

जल,जीवन,हरियाली पर बिहार सरकार की झांकी को 2020 के गणतंत्र दिवस समारोह में दिखाने से मना कर दिया गया। सीधे-सीधे बताओ कि बिहार को बेइज्जत कर रहे हो या नीतीश को या दोनों को?

बिहार के अलावा पश्चिम बंगाल और महाराष्ट्र की झांकी भी इस साल के गणतंत्र दिवस पर नहीं दिखेगी, क्योंकि इन राज्यों के प्रस्ताव को भी केंद्र ने खारिज कर दिया है।

Related News:

मंत्री जी, भीख मांग यूं पेट भर रहे ग्रामीण और अफसर डकार रहे राशन
पत्रकारिता एवं जनसंचार में नामंकन की तिथि बढ़ी
सीएम नीतीश ने गया पितृपक्ष मेला की तैयारी का लिया यूं जायजा
स्वास्थ्य-बिजली के क्षेत्र यूं बदतर हैं झारखंड के हालात
पत्रकार आशुतोष आर्या के पुत्र की निर्मम हत्या, पड़ताल में जुटी पुलिस
नालंदाः बिना आवंटन निकला ‘डूडा’ टेंडर, 2 माह से परेशान हैं 500संवेदक
अहमदाबाद से दवा के नाम पर नशा का कारोबार, पटना में एक धराया
सिल्ली विधायक ने सोशल मीडिया पर दिखाया सीएम को भ्रष्टाचार का आयना
बिहार के डीजीपी रहे छत्तीसगढ़ के प्रथम राज्यपाल डीएन सहाय का देहांत
पुलिस-बालू माफियाओं की खूनी भिड़ंत के बीच फंटूश यादव को किसने मारा !
अपराध है राजगीर मेला सैरात भूमि की खरीद-बिक्री, बंदोबस्ती, दान या लीज
मुजफ्फरपुर DDC के बहन-बहनोई रिटायर्ड रजिस्टार दंपति की नृशंस हत्या
70 लखिया ठग को छुड़ाने की सेटिंग में जुटे सब इंसपेक्टर समेत 4 पुलिसकर्मी सस्पेंड
विज्ञान प्रदर्शनी और सांस्कृतिक संध्या के साथ सैनिक स्कूल का ग्रीष्मावकाश
सूरजकुंड मेले में दर्शकों को लुभा रहा झारखण्ड का हस्तशिल्प
ओडीएफ को लेकर डंडे के बल लोगों की उतारी लुंगी, जुर्माना भी किया
....और पटना में एक मंच पर दिखेगा लालू, नीतिश और मोदी का रोमांच
गोड्डा सिविल सर्जन करेगीं महगामा स्वास्थ्य केंद्र के इस डॉक्टर पर त्वरित कार्रवाई
बच्चों के परित्याग को रोकने की सशक्त आवश्यकताः सरयू राय
यूं भ्रष्टाचार की डस्टबीन से सज रहा है राष्ट्रपति आगमन मार्ग, लोग नाको दम
वज्रपात से एक ही गांव के चार लोगों की मौत
सीधी टक्कर में 2 ट्रेलर के परखच्चे उड़े, 2 चालक की मौत
भगवान महावीर के निर्वाण महोत्सव की भव्य तैयारी में जुटा नालंदा प्रशासन
सीबीआई के लिये जंजाल बनी ब्रजेश ठाकुर की वाह्टसऐप कॉलिंग
ABC ने बिशुनपुर BDO को रिश्वत लेते रंगे हाथ दबोचा, गये जेल
ऐसे मंत्री को तुरंत प्रभाव से बर्खास्त करें सीएमः तेजस्वी यादव
‘जय जवान जय किसान’ दिवस के रूप में मनाई जाएगी पूर्व पीएम की जयंती
ग्रामीणों की शिकायत पढ़ स्तब्ध दिखे नालन्दा जिलाधिकारी
स्कूलों और जेलों में विपश्यना होनी चाहिए :डॉ धम्मा ज्योति
नालंदा के चंडी में शिक्षकों की हड़ताल विफलः जन्मजय शाही
'इंसानियत के बाद खुलता है गीता और कुरान का पन्ना'
अंततः रौशन ने बिहार परीक्षा बोर्ड और हेडमास्टर को कोर्ट में घसीटा
बिहार में ऑनलाइन दाखिल-खारिज और लगान भुगतान का शुभारंभ
तल्ख माहौल के बीच नीतीशे कुमार, पक्ष में 131 और विरोध में 108 वोट
अगर डीईओ यूं भी रोज आएं तो सुधर जाए शिक्षा व्यवस्था
हमारी समुदाय की पारंपरिक व्यवस्था व सांस्कृतिक रक्षक है हड़ियाः मधु कोड़ा
पुलिसिया कुकृत्यः पत्नी जिंदा थी, लेकिन उसकी हत्या में 6 माह से जेल में था पति, कोर्ट ने कहा-
2रा वीडियोः आंगनबाड़ी सेविका-सहायिका के चयनकर्ता की भूमिका में था यह वर्दी वाला ‘गुंडा’
सरकारी उदासीनता से इस्लामपुर के दिल्ली दरवार के अस्तित्व पर खतरा
पैक्स अध्यक्ष पर जानलेवा हमला, लाठी-डंडे से पिटाई बाद मारी दो गोली

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...
Loading...