विकास की ‘सौगात’ के सहारे फिर जीतने चले नालंदा का दिल

Share Button

“कहने को तो सीएम नीतीश कुमार का नालंदा आगमन चोली -दामन के समान है।लेकिन इस बार नालंदा आगमन का मकसद कुछ और दिख रहा है। विकास की ‘सौगात’ की बारिश से सीएम नीतीश एक बार फिर जनता का दिल जीतने की कोशिश कर रहे हैं….”

नालंदा / बिहार ब्यूरो (एक्सपर्ट मीडिया न्यूज)। लंबे अरसे बाद राजनीतिक झंझावत से दूर नालंदा में उनके दो दिवसीय दौरे को लेकर चर्चा काफी गरम रही। सीएम जब भी नालंदा आते हैं, उनके साथ कोई न कोई सौगात जरूर होती है।

इस बार सीएम नालंदा के सभी सातो विधानसभा क्षेत्र के लिए करोड़ों रूपये की विकास योजनाओं की सौगात लेकर आएं हैं।

सीएम नीतीश कुमार अपने दो दिन के नालंदा दौरे पर कुल 35 योजनाओं का शिलान्यास और 340 योजनाओं का उद्घाटन कर रहे हैं।

इन विकास योजनाओं की बारिश के बीच सीएम नीतीश नालंदा के अपने दौरे में सात जनसभा को भी संबोधित कर रहे हैं। जिसके सहारे जनता के मिजाज को भांपने का भी प्रयास उनके द्वारा किया जा रहा है।

विकास योजनाओं की बारिश के पीछे  कहीं न कहीं उनकी सोच नालंदा लोकसभा चुनाव में अपनी मजबूत ताकत को और मजबूती देने की है।

वैसे नालंदा सीएम नीतीश का अभेध किला माना जाता है।लेकिन पिछले विधानसभा चुनाव में उनका किला हिल सा गया था। लेकिन इस बार बदले हुए परिस्थिति में अपनी ताकत को और मजबूती प्रदान करने का प्रबल इरादा रखते हैं ।

सीएम नीतीश कुमार के नालंदा आगमन के पीछे तर्क दिया जा रहा है कि चुनावी वर्ष में सीएम जनता के मूड और मिजाज को भांपना चाहते हैं। नालंदा के लोगों से उनका एक जुड़ाव रहा है।

इसी बहाने वें करोड़ों की सौगात देकर उनसे एक भावनात्मक रिश्ता बनाएँ रखना चाहते हैं। वे जानते हैं कि जनता उन्हें ही वोट देती है। उनके कार्य को पसंद करती है।

सीएम नीतीश कुमार बुधवार को हरनौत के चंडी, बिहारशरीफ के रहूई और अस्थावां के कतरीसराय दौरे पर रहें जहाँ से उन्होंने करोड़ों की विकास योजनाओं का खाका खींचा।

सीएम गुरूवार को हिलसा, नालंदा, राजगीर तथा इस्लामपुर विधानसभा क्षेत्र में छीटें गए करोड़ों रूपये की विकास योजनाओं को अमलीजामा पहनाएंगे।

सीएम नीतीश कुमार इन योजनाओं के शिलान्यास और उद्घाटनों की रस्म अदायगी के बीच अपने पुराने कार्यकर्ताओं, साथियों तथा शुभचिंतको से भी औपचारिक मुलाकात करेंगे।

जिले में जनता के मिजाज की भी जानकारी उनसे प्राप्त करेंगे। जनता के बीच अपनी उपलब्धियों का भी बखान सीएम नीतीश जरूर करेंगे।

दूसरी ओर इन विकास योजनाओं की सौगात के बहाने वें आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर प्रत्याशियों के फीडबैक भी प्राप्त करने का प्रयास करेंगे।

साथ ही उन लोगों के राजनीतिक हैसियत का भी अंदाजा लगा सकते हैं जो उनके जनसभा में अपना चेहरा चमकाने का प्रयास कर रहें होंगे।

सीएम नीतीश कुमार ने नालंदा में विकास योजनाओं की सौगात के बीच जनता को यह अहसास दिला दिया कि वे चुनाव नहीं लड़ेगे, लेकिन जनता जब तक चाहेगी, वे जनता की सेवा करते रहेंगे।

इससे साफ हो गया है कि सीएम नीतीश कुमार फिलहाल पीएम पद की दौड़ में शामिल नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...