‘वायरल’ मामलों पर यह रही जदयू के हरनौत MLA और नालंदा MP की सोच

Share Button

एक्सपर्ट मीडिया न्यूज।  नालंदा में फिर सरेराह एक महिला के साथ दो बदमाशों द्वारा छेड़खानी की घटना होती है। पीड़ित महिला चंडी प्रखंड की एक पंचायत की पंचायत समिति सदस्या है, जो अपने रिश्तेदार के साथ बाइक से नालंदा के चेरो ओपी क्षेत्र से गुजर रही थी, तभी झाड़ीनुमा रास्ते के पास एक वदमाश बाइक से खींच छेड़खानी करता है और दूसरा बदमाश मोबाईल से वीडियो बनाता है।

विगत 23 अगस्त की इस घटना का वीडियो 9 सितंबर को वायरल हुआ। उसके बाद पुलिस ने एक संलिप्त की गिरफ्तारी भी की। लोकिन वीडियो वायरल होने के पहले पुलिस ने पीड़िता की फौरिक शिकायत पर कोई कार्रवाई नहीं की। अगर की होती तो एक जनप्रतिनिधि महिला का सम्मान सार्वजनिक तौर पर जलील होने से बच जाती।

बहरहाल नालंदा जिले खासकर सीएम के गृह विधानसभा हरनौत में अमानवीय-आपत्तिजन वीडियो के वायरल होने के मामले को लेकर एक्सपर्ट मीडिया न्यूज ने स्थानीय माननीयों से बात की। इस बातचीत के अंश से गंभीर वारदातों के प्रति इनकी गंभीरता और सोच को आसानी से समझा जा सकता है।

हरनौत के वर्तमान विधायक एवं पूर्व शिक्षा मंत्री हरिनारायण सिंह का कहना है कि आज मानवता और नैतिकता का पतन हो चुका है और ऐसी घटनाओं में पुलिस को दोषी नहीं ठहराया जा सकता।

उन्होंने बताया कि उनके गांव में भी एक वीडियो वायरल (चर्चित चंडी छात्रा अश्लील वीडियो कांड) हुआ था। इसमें पुलिस का क्या दोष है। बार-बार वीडियो वायरल हो रहा है तो इसमें हम क्या करें।

विधायक ने ‘ताजा जनप्रतिनिधि वीडिया वायरल’ मामले पर आगे कहा कि उन्हों कोई जानकारी नहीं है और जब जानकारी ही नहीं है तो क्या बात करें। आज कल नैतिकता का इतना पतन हो चुका है कि अपना सब वायरल हो रहा है।

उधर नालंदा सांसद कौशलेंद्र कुमार ने एक्सपर्ट मीडिया न्यूज़ को इस घटना की बाबत कहा कि उन्हें ऐसी घटनाओं की कोई जानकारी नहीं रहती।  लेकिन ऐसे मामले गलत तो है हीं। ऐसा नहीं होनी चाहिए, लेकिन क्या कहा जाए। कहीं न कहीं तो कोई कमजोरी है ही।

सांसद ने पुलिस की बिगड़ी कार्यशैली के सबाल पर सीधे बचते हुये आगे कहा कि मोबाइल ही सारी परेशानी  है। क्या कहा जाए समाज का, अब नवमी दशमी का लड़की लड़का एक दूसरे के साथ भाग जाते हैं। इसमें पुलिस क्या कर सकती है। हर व्यक्ति को सुरक्षा देना तो संभव नहीं है। पुलिस तो सब जगह पहुंच नहीं सकती है।

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.