वरिष्ठ संपादक हरिनारायण जी ने यूं उकेरी उषा मार्टिन एकेडमी के छात्र की पीड़ा

साथियो आज मैं बहुत ही चिंतित हूं। चिंता का कारण कोई व्यक्तिगत नहीं, बल्कि एक छात्र की पीड़ा है, जिसे सुन कर मैं विचलित हूं। आप भी सुनिये उस पीड़ा को।

harinarayan singh facebook postगढ़वा का एक छात्र 2011 में जिमखाना क्लब पहुंचा। वहां पर उसने उषा मार्टिन एकेडमी का बोर्ड देखा। वह उस तरफ आकर्षित हुआ। कैंपस में पहुंचा। वहां बताया गया कि उषा मार्टिन एकेडमी बीबीए, बीसीए, बीएसीआइटी, एमबीए, एमसीए का रेगुलर कोर्स कराती है। उस बच्चे ने वहां एडमिशन ले लिया। एडमिशन में 30 हजार रुपये लगे।

उसे बताया गया कि 2014 में उसे रेगुलर डिग्री मिल जायेगी। उषा मार्टिन एकेडमी के नाम पर वह छात्र प्रभावित हुआ। उस जैसे हजारों छात्र प्रभावित हुए। वह रांची में रह कर पढ़ाई करने लगा। रेगुलर क्लास होने लगा। छह सेमेस्टर में उसने 1.20 लाख रुपये जमा किये। रांची में रहने में उसे हर माह दस हजार रुपये खर्च हो रहे थे। तीन साल में उसने साढ़े तीन लाख रहने, खाने में खर्च किये।

उसके परिजनों ने जमीन बेच कर फीस दी। उसे 2014 की जगह 2015 में डिग्री दी गयी। उसे उषा मार्टिन एकेडमी की तरफ से करेक्टर सर्टिफिकेट मिला। उसे उषा मार्टिन एकेडमी की तरफ से मनी रिसिप्ट दी गयी। डिग्री देख वह अवाक हो गया। डिग्री पंजाब टेक्निकल यूनिवर्सिटी की थी।

खैर, उसने सोचा कि चलिए वही सही, रेगुलर डिग्री तो है। लेकिन आज उस बच्चे के ऊपर पहाड़ टूट पड़ा। आज यानी भगवान बिरसा मुंडा की पुण्यतिथि 9 जून को वह पिस्का मोड़ स्थित एक्सिस बैंक में इंटरव्यू देने गया। वह खुश था। भगवान बिरसा मुंडा को भी मनन कर रहा था। सोच रहा था, नौकरी पाकर उसकी तकदीर संवर जायेगी। उसका इंटरव्यू हो गया। मैनेजर आलोक प्रकाश बहुत प्रभावित हुए। उन्होंने कहा कि आप अपनी डिग्री जमा कर दें और ज्वाइन कर लें।

लेकिन जब उसने डिग्री दिखायी, तो उसे बताया गया कि यह रेगुलर डिग्री नहीं, बल्कि डिस्टेंस कोर्स की डिग्री है। न हम आपको नौकरी दे सकते हैं और न ही सरकारी बैंक। यह सुन छात्र रोने लगा। घर आया। उसके पिता मेडिका में एडमिट हैं। उसने सोचा था कि जिस पिता ने अपनी कमाई खर्च कर, जमीन बेच हमें पढ़ाया, हम उनके काम आयेंगे, लेकिन वह अब अपने को असहाय महसूस कर रहा है।

वह बरियातू थाने गया। उसने लिखित शिकायत की है। उसके बाद वह आजाद सिपाही कार्यालय आया। अपनी पीड़ा कहते-कहते वह रोने लगा। उसका सवाल था: इतनी बड़ी कंपनी उषा मार्टिन और उसके मालिकों ने हमारे साथ धोखाधड़ी क्यों की? अगर उन्हें डिस्टेंस कोर्स ही कराना था, तो उन्होंने उषा मार्टिन एकेडमी के बोर्ड पर डिस्टेंस कोर्स का जिक्र क्यों नहीं किया। वहां पावर्ड बाइ उषा मार्टिन इंडस्ट्री क्यों लिखा गया?

अखबार में भी जो बड़े बड़े विज्ञापन दिये गये, उसमें कहीं भी पंजाब टेक्निकल यूनिवर्सिटी और डिस्टेंस कोर्स का जिक्र नहीं था। पंजाब टेक्निकल यूनिवर्सिटी का डिस्टेंस कोर्स तो छह हजार रुपये में होता है। रांची में उसके कई ब्रांच हैं, जहां छात्र जाते ही नहीं। और हमें अगर डिस्टेंस कोर्स ही करना होता तो फिर रांची में रह कर प्रति महीने हम दस हजार रुपये खर्च क्यों करते। फिर तो घर पर रह कर यहां आकर परीक्षा दे देते। उसने कहा, क्या हमें न्याय मिलेगा? क्या मुझे अब नौकरी मिल पायेगी?
मित्रो, आप भी कुछ कहिए ताकि हम उस छात्र को आपकी तरफ से कोई सुझाव दे सकें।

harinarayan singh

…………….. अपने फेसबुक वाल पर दैनिक आजाद सिपाही के प्रधान संपादकहरिनारायण सिंह ।

Related News:

कोडरमा-हजारीबागः अवैध खनन और क्रेशरों पर कार्रवाई से उठ रहे सबाल
पुनर्गठित होगा राजगीर लॉजिंग व हाउसिंग कमेटी
पुलिस हेडक्वार्टर में मोस्ट वांटेड के साथ छोटे 'सरकार' !
ओडीएफ घोषित नगरनौसा प्रखंड मुख्यालय का हाल शर्मनाक
वन भूमि को कब्जाने के लिये हरे-भरे पेड़ यूं काट रहा है राजगीर का विरायतन
राजद विधानसभा में उठाएगा राजगीर ‘पुलिस उत्पीड़न’ कांड का मुद्दा
नालंदा में पूर्व प्रमुख-पंसस के घर पर हमला, देवर घायल, घर में ताला बंद कर भागे परिजन
यह कैसा सुशासन? नकारा बैठी पुलिस और सरेआम घूम रहे दोषी!
उबले सीएम- पत्थरबाज शिक्षक नहीं हो सकता, गुंडागर्दी बर्दाश्त नहीं
हाय री सरकार, हाय रे सरकारी मुलाजिम!
NDA सीट शेयरिंग पर तेजस्वी की चुटकी- JDU-LJP को मिला नोटबंदी का फायदा
सरकारी स्कूल के बच्चों को नहीं मिली पुस्तकें और NCERT ले रही है नेशनल सर्वे की परीक्षा
सीबीआई के लिये जंजाल बनी ब्रजेश ठाकुर की वाह्टसऐप कॉलिंग
राजगीर सिवरेज सिस्टम को लेकर उठे अहम सबाल, संयुक्ता ने की तत्काल जांच-कार्रवाई की मांग
नालंदा पुलिस के लिए सक्सेस डे, हथियार और शराब समेत पांच गिरफ्तार
सीएम के पर्यटन वाहन मित्र को राजगीर थाना प्रभारी ने यूं मजाक बना डाला
पति से की बेवफाई तो आशिक वफ़ा निभा न सका, प्रेमिका को अकेला छोड़ कर प्रेमी भागा
यहां लगा है भूतों का मेला, रोज पहुंच रहे हजारों लोग !
नालंदाः 3 साल में ये 18 भ्रष्ट अफसर-कर्मी रंगे हाथ धराए, फिर भी घूसखोरों के हैसले बुलंद
यहां मानवीय संवेदना की यूं रोज होती है मौत!
एसपी-डीएसपी के दुर्व्यवहार से भड़का अधिवक्ता संघ, कलम बंद निकाला प्रतिरोध मार्च
बिहारः जहां MLA को CM तक बात पहुंचाने के लिए मीडिया के सामने इस्तीफा देते हुए यूं रोना पड़ता है!
बीच सड़क यूं दूध-सब्जी फेंक कर सरकारी नीति का हुआ विरोध
नहीं मिला पैक्सों को पूरा पैसा, डीएम पर मनमानी का आरोप
चर्चित हिलसा अश्लील वीडियो वायरल कांड का एक आरोपी पुनपुन से धराया
गौ मांस के शक में वैन जलाई, चालक को पीट-पीट कर मार डाला, स्थिति तनावपूर्ण
वंशवादः डॉ. संजय जायसवाल बने बिहार भाजपा के नए प्रदेश अध्यक्ष
शादी झांसा देकर युवती संग रेप, पुलिस ने नहीं ली सुध तो कोर्ट पहुंची पीड़िता
 AK-47 छोड़िए, अब AK-56 धारी हुए बिहार के अपराधी
विभागीय लापरवाही से 11000 वोल्ट करंट तार ठीक कर रहे बिजली मिस्त्री की मौत पर वबाल
जानिए यह है ‘गंबूसिया उर्फ गटर गप्पी’, इसे चाहिए ऐसा जीवन-पानी
पगलाए बिहार के डिप्टी सीएम ने कहा- पितृपक्ष में न करें क्राईम, बाकि दिन तो...
बिहार के CRPF जवान ने रजरप्पा मंदिर में दी आत्मबली
IAS बनना चाहती है नालंदा की टॉपर छात्रा सोनाली
विधार्थी परिषद ने राज्य सरकार एंव शिक्षा मंत्री का पुतला फुका
NH33 फोरलेन किनारे घर में शिक्षिका की गला रेत हत्या,दहशत में लोग
अफसरों की भ्रष्ट धूर्तता पर यूं झुंझलाए विधायक अमित महतो
अब कुर्सीनामा पर भी जमीन की होगी रजिस्ट्री
बाहुबलियों की जंग में कौन होगा मुंगेर का 'सरकार '
निकाय चुनावः नालंदा पुलिस-प्रशासन ने इन 19 लोगों पर लगाया सीसीए

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...
Loading...