लो अब बिहार भाजपा प्रवक्ता ने अटल जी के चित्र पर दीप जला दे दी पुष्पाजंलि

Share Button

एक्सपर्ट मीडिया न्यूज (मुकेश भारतीय / चन्द्रकांत )।  इन दिनों पूर्व विधायक व भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता राजीव रंजन नालंदा जिले में खासे सुर्खियों में हैं। पहले वे नालंदा जिले में जदयू-राजद नीत नीतिश सरकार के धुर विरोधी माने जाते थे। लेकिन जबसे महागठबंधन टूटने के बाद भाजपा-जदयू की नीतिश सरकार बनी है, जबसे वे स्थानीय मीडिया में कुछ न कुछ लेकर छाये रहते हैं।

हिलसा (नालंदा) में पार्टी कार्यक्रम में पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के चित्र पर दीप  प्रज्वलित कर पुष्पाजंलि अर्पित करते पूर्व विधायक व भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता राजीव रंजन ………….

लेकिन मीडियाई छवि की लालसा जो न कराये। इस होड़ में वह सब हो जाता है, जो मजाक बना डालता है। ऐसा ही राजीव रंजन के साथ हुआ है। उन्होंने हिलसा भाजपा कार्यालय में पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी बाजपेयी के जन्मदिन पर कार्यकर्ताओं के साथ दीप प्रज्वलित करते एक पार्टी कार्यक्रम का उद्घाटन किया।

इस दौरान शायद वे भूल गये कि भारतीय राजनीति के शीर्ष प्रखर नेताओं में शुमार श्री अटल बिहारी वाजपेयी अभी आवाम के बीच सही सलामत हैं।

अमुमन पार्टी के सर्वोपरि नेताओं का जन्म दिन मना कर मीडिया की सुर्खियां पाने का प्रचलन सा हो गया है। लेकिन इस आपाधापी में सब कुछ उल्टा-पुल्टा कर जाते हैं।

जन्मदिन के अवसर पर केक काटे जाते हैं। लंबी उम्र की दुआ-प्रार्थना की जाती है। लेकिन हिलसा में राजीव रंजन सरीखे प्रबुद्ध नेता और उनकी टोली ने जब श्री अटल बिहारी वाजपेयी सरीखे वरिष्ठ राजनेता के चित्र पर दीप प्रज्वलित कर फूल मालाएं चढ़ाने लगें तो उसे क्या कहा जाये।

पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी, वर्तमान पीएम नरेन्द्र मोदी और सीएम रघुबर दास के चित्र पर पुष्पांजलि अर्पित करते वायरल फोटो…….

हद तो तब हो गई कि जब नादान भाजपा कार्यकर्ताओं ने उपरोक्त कार्यक्रम की फोटो माईक्रो मीडिया के जरिये वायरल कर दिया और आनन-फानन में मीडिया को प्रकाशनार्थ भेज दिये गये। हालांकि मामला तूल पकड़ने के बाद मीडिया के बीच इस तरह के फोटो के प्रकाशन न होने की जुगत भिड़ाये जा रहे हैं।

 जब इस संदर्भ में एक्सपर्ट मीडिया न्यूज ने प्रदेश भाजपा प्रवक्ता सह पूर्व विधायक राजीव रंजन से बात की तो उनका कहना था कि कार्यक्रम की तैयारी पहले ही कर ली गई थी। वे करीब एक बजे कार्यक्रम में पहुंचे थे। उन्हें कोई खास ध्यान नहीं है। आयोजक कार्यकर्ताओं से पता करते हैं।

बता दें कि पिछले साल झारखंड सरकार के वर्तमान शिक्षा मंत्री नीरा यादव ने विश्व विख्यात वैज्ञानिक एवं भारत के पूर्व महामहिम राष्ट्रपति डॉ. अब्दुल कलाम साहब के जीवित रहते हुये उनकी जयंती समारोह में उनके चित्र पर फूल माला चढ़ा दी थी। दुर्भाग्यवश एक सप्ताह बाद कलाम साहब हमारे बीच नहीं रहे।

आज ऐसा ही एक और मामला झारखंड में उजागर हुआ है। भाजपा कार्यकर्ताओं ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी बाजपेयी का जन्म दिन मनाने के क्रम में उनके साथ वर्तमान पीएम नरेन्द्र मोदी और सीएम रघुबर दास के संयुक्त चित्र पर पुष्पाजंलि अर्पित कर डाली।    

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.