राष्ट्रीय लोक अदालत में उमड़ी भीड़, निबटाए गए 510 मामले

आपसी सुलह के आधार पर बैकों और कर्जदारों के बीच ढ़ाई करोड़ के लेन-देन का समझौता, समझौता करने वाले कर्जदारों से हुई उनसठ लाख की वसूली, नौ अपराधिक और बिजली विभाग के एक मामले का भी निष्पादन”

हिलसा (धर्मेन्द्र)।  नालंदा जिले के हिलसा राष्ट्रीय लोक अदालत में मामले के निबटारे की काफी संख्या में फरियादी पहुंचे। शनिवार को कोर्ट परिसर में आयोजित राष्ट्रीय लोक अदालत में सुलह के आधार पर पांच सौ दस मामलों को निष्पादित किया गया।

निष्पादित हुए मामलों में सर्वाधिक बैंक और कर्जदारों से जुड़ा मामला है। इसके अलावा नौ अपराधिक तथा बिजली विभाग के एक मामले का भी निष्पादन किया गया।

राष्ट्रीय लोक अदालत में सुलह के आधार पर मामले को निष्पादित कराने के लिए अहले सुबह से ही लोगों की आवाजाही कोर्ट परिसर में होने लगी थी।

अपर जिला जज सुभाषचंद्र प्रसाद की देख-रेख में गठित चार न्यायपीठों की अगुआई में मामले की सुनवाई हुई। न्यापीठ में एसीजेएम दिलीप कुमार सिंह, अजय कुमार मल्ल, न्यायिक दंडाधिकारी सुनील कुमार सिंह एवं सिकंदर पासवान शामिल थे। जैसे ही सुनवाई शुरु हुई वैसे ही लोगों में अपने-अपने मामले को निष्पादित कराने की होड़ मच गई।

सर्वाधिक भीड़ विभिन्न बैंक से जुड़े कर्जदारों की थी। कर्जदारों में से पांच सौ दस कर्जदार और बैंको के बीच लंबित दो करोड़ पचास लाख पचहत्तर हजार नौ सौ उन्नतीस रुपये बकाया राशि का एक करोड़ उनचालीस लाख उन्नीस हजार एक सौ तेरासी रुपये पर समझौता हुआ।

समझौते की राशि में से अनठावन लाख छियानवे हजार दो सौ पच्चीस रुपये कर्जदारों द्वारा संबंधित बैंको में तत्काल जमा कराया गया। शेष राशि को जमा करने के लिए कर्जदारों को एक तय वक्त दिया गया।

इसके अलावा आपसी सुलह के आधार पर अपराधिक के नौ मामले को निष्पादित किया गया। बिजली विभाग से भी जुड़े एक मामले का निष्पादन आपसी सुलह के आधार किया गया, जिसमें उपभोक्ता को चार हजार रुपये जमा करने का आदेश दिया गया।

मामले की सुनवाई में अधिवक्ता सुमन कुमार शर्मा, सुनील कुमार देव, दिलीप कुमार सिन्हा, सत्येन्द्र कुमार पांडेय, जयशंकर पासवान, स्वामी सहजानंद, विजय कुमार, राम निवास शर्मा सहायक नीरज कुमार, कमलेश कुमार, दिलीप कुमार, किशोरी पासवान, मुकेश कुमार श्रीवास्तव, चंदर कुमार, विजय कुमार सिन्हा, विजय शंकर, रविरंजन, सुरेन्द्र कुमार, बृजलाल पासवान, ओमप्रकाश मो. अब्दुल सत्तार, चंद्रदेव भगत, मंतोष पासवान एवं विशाल कुमार आदि मौजूद थे।

Related News:

'दीन दयाल स्पर्श योजना' अंतर्गत अब डाक विभाग देगा छात्रवृति
10 लाख की फिरौती मांगने वाले 3 अपराधी 5 घंटे में धराये, अपहृत छात्र भी बरामद
टेल्को थाना की अजीबोगरीब पुलिसिंग, भाजपा नेता ने उठाये सवाल
राजद के 21 वां स्थापना दिवस मना, निशाने पर रही भाजपा संग मीडिया
जू प्रशासन ने चोरी गए बोलेरो के मांगे 7 लाख, कर्मी ने जहर खा दी जान, रेंजर समेत 3 पर FIR
समय में फेरबदल से हटिया एक्सप्रेस सबसे ज्यादा प्रभावित
मातमपुर्सी करने दिगवंत जदयू नेता के घर पहुँचे सीएम
उपजे जनाक्रोश के बाद ओरमांझी में चला विभागीय डंडा, 10 अवैध क्रेशर सील
सीडीपीओ की मारुति और बुलेट बाइक में भिड़ंत, 2 युवक घायल
3री शादी के लिये शराबी बेटे ने दूसरी पत्नी को मार डाला, बाप ने भी किया था यही कुकर्म

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...
Loading...