राजगीर नगर पंचायत से सभी प्रमुख फाइलें चोरी ! प्राथमिकी दर्ज, हुआ है बड़ा घोटाला

Share Button

“यहां बगैर कार्य कराए पैसे की निकासी, टेंडर में घोटाला मामले में नगर विकास विभाग से महालेखाकार के ऑडिटर को भी कमीशन दी जाती है……”

एक्सपर्ट मीडिया न्यूज नेटवर्क। नालंदा जिले के राजगीर नगर पंचायत में करोड़ो के टेंडर घोटाला, सामग्री खरीद घोटाला,कम्बल घोटाला, विभागीय कार्य आदि में लगातार हो रहे लूट के कारण हमेशा साज़िश चलती रहती है। इस बार फाइल चोरी हो गयी है।

राजगीर नगर पंचायत कार्यालय से योजनाओं के सबसे महत्वपूर्ण 45 फाइल एवं कई कागजात चोरी हो गई है।चोरी की घटना के बाद नगर पंचायत के पदाधिकारियों एवं कर्मियों में अफरा-तफरी मची हुई है।

इस घटना में पदाधिकारी कर्मी एवं जनप्रतिनिधि भी शक के दायरे में आ गए हैं। इस घटना को लेकर आनन-फानन में नगर पंचायत कार्यपालक पदाधिकारी प्रथमा  पुष्पांकर ने ने इस फाइल की चोरी का आरोप नगर पंचायत कार्यालय के कनीय अभियंता आनंद कुमार, टैक्स कलेक्टर अशोक कुमार,एवं सहायक क्लर्क रवि कुमार पर लगाया है और  राजगीर थाने में एफआईआर दर्ज कराई गई है।

इसकी पुष्टि करते हुए डीएसपी सोमनाथ प्रसाद के अनुसार राजगीर नगर पंचायत कार्यालय में सरकारी योजनाओं से जुडे फाइल चोरी की घटना को लेकर नगर पंचायत के कार्यपालक पदाधिकारी के द्वारा राजगीर थाने में एफआईआर दर्ज कराई गई है। इस घटना में जो भी आरोपी हैं, उन पर जांच पड़ताल करते हुए कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

कुछ माह पूर्व भी नगर पंचायत के उपाध्यक्ष पिंकी देवी के पति अशोक राय कुछ वार्ड पार्षद के साथ कार्यपालक पदाधिकारी के बिना परमिशन से सरकारी फाइल और महत्वपूर्ण कागजातों के साथ छेड़छाड़ और उसका फोटो कॉपी कर रहे थे तो कार्यपालक पदाधिकारी ने इस घटना की सूचना डीएसपी राजगीर को दिया था।

तब डीएसपी राजगीर ने पुलिस को भेजकर उस मामले की जांच पड़ताल कराई थी। तब जाकर उन लोग ऑफिस से भागे थे। लेकिन पुलिस या विभागीय तौर पर कोई कार्रवाई नहीं की गई।

डीएसपी ने आगे बताया कि इस पहलू की भी जांच पड़ताल की जाएगी। चूंकि मामला महत्वपूर्ण फाइल के चोरी का है। चोरी की घटना से कई लोग शक के दायरे में आ गए हैं, जिनमें जनप्रतिनिधि भी है।

बीते 6 जुलाई को कार्यपालक पदाधिकारी प्रथमा पुष्पांकर अपने ऑफिस से बाहर शौचालय निर्माण कार्य को लेकर फील्ड में थी और इधर उनके गैरमौजूदगी में गैरकानूनी हरकत करते हुए राजगीर नगर पंचायत के उपाध्यक्ष पिंकी देवी के पति अशोक कुमार राय और वार्ड पार्षद  पंकज कुमार और उमेश रजक नगर पंचायत से जुड़े महत्वपूर्ण कागजात से छेड़छाड़ और कई महत्वपूर्ण दस्तावेज को फोटो कॉपी करके अपने पास रख रहे थे कि नगर पंचायत के कर्मियों ने इस घटना की सूचना तुरंत कार्यपालक पदाधिकारी प्रथमा पुष्पांकर को दिया।

उसके बाद आनन-फानन में कार्यपालक पदाधिकारी ऑफिस पहुंचे और डीएसपी को इस घटना की सूचना दी तब डीएसपी सोमनाथ प्रसाद ने इस घटना को गंभीरता से लेते हुए पुलिस को नगर पंचायत कार्यालय भेजा और मामले की जांच पड़ताल कराये थे और किसी तरह मामला शांत हुआ।

चोरी की घटना के बाद अब  इन लोगों पर भी सवाल उठ गए हैं कि आखिर किस मनसा से यह लोग बिना परमिशन के सरकारी कागजात और फाइलों की फोटो कॉपी और छेड़छाड़ कर रहे थे। इस घटना के बाद वार्ड पार्षदों में भी काफी नाराजगी देखी जा रही है। इस घटना की उच्चस्तरीय जांच आरोपियों पर कडी कार्रवाई की मांग कर रहे हैं।

वार्ड पार्षद श्रवन यादव ,मीरा कुमारी, अंजली कुमारी,पूर्व उपाध्यक्ष श्यामदेव राजवंशी,पूर्व पार्षद श्याम किशोर भारती ने कहा कि नगर पंचायत कार्यालय से इतने बडे पैमाने पर महत्वपूर्ण योजनाओं का फाइल चोरी हो जाना चिंतनीय विषय है।

इस घटना की पूर्ण रूप से जांच पड़ताल करते हुए पुलिस आरोपियों पर कड़ी कार्रवाई करें और उच्चस्तरीय इसकी जांच करें। इस घटना को लेकर कार्यपालक पदाधिकारी ने घटना को साजिश करार दिया।

वार्ड पार्षद अंजली कुमारी ने कहा कि  कार्यालय के सभी कार्यो,टेंडर,सामान क्रय,विभागीय कार्य आदि में  पैसे की लूट हो रही है, जिसकी विभागीय जांच किया जाना चाहिए। कनीय अभियंता आनंद कुमार के मिली भगत से प्राक्कलन घोटाला और टेंडर घोटाला को अंजाम दिया गया है।

उपाध्यक्ष के पति अशोक राय की साज़िश से फाइल चोरी हुआ है, क्योंकि कुछ ऐसे भी फाइल है जिसमे लाखो करोड़ो का लूट हुआ है। दो साल की सभी क्रय, टेंडर,विभागीय कार्य की जांच होनी चाहिए। यदि नगर कार्यालय के क्रियाकलापों की जांच हो तो करोड़ो का घोटाला सामने आ सकता है।

मिली जानकारी के अनुसार सभी महत्वपूर्ण फाइल  सुरक्षित स्थान गोदरेज में रखा हुआ था।और गोदरेज से ही इतने संख्या में फाइल की चोरी हो जाना। यह कई सवाल खड़े करते हैं। ट्रैक्टर, पानी टंकी,गाड़ी मे जितना कीमत है, दुगना रेट में लिया गया है। इसकी भी विभाग पूर्ण रूप से जांच पड़ताल करके संबंधित आरोपियों के ऊपर करवाई करें।

Share Button

Related News:

वन विभाग द्वारा गांव खाली कराने को लेकर लोग एकजुट, कोर्ट ने दिया है खाली करने के आदेश
प्रखंड मुख्यालय सटे गांव में यूं लुट रही सीएम 7निश्चय योजना
प्रायवेट स्कूल शिक्षिका ने LKG छात्र की यूं निर्मम पिटाई, फोटो हुआ वायरल
समय में फेरबदल से हटिया एक्सप्रेस सबसे ज्यादा प्रभावित
जीरो टॉलरेंस? शराब के नशे में धुत ऑन ड्यूटी दारोगा की थाने से ही मिल गई जमानत!
नहीं रहे पूर्व केन्द्रीय मंत्री रघुनाथ झा, राजद को बड़ा झटका
सड़क पर यूं पर्चा बांटते नजर आए एसपी
कर्नाटक की राजनीति पहुंची बिहार, राजद-कांग्रेस विधायक करेगें परेड
सीएम के दावों की पोल नालंदा में ही यूं खोल रही है लोक शिकायत निवारण कार्यालयें
अगर जाति और पेशे की स्टीरियोटाइपिंग ही करनी है तो सबकी कीजिए
कठिन चीवर दान महोत्सव में कल्प वृक्ष के साथ निकली शोभायात्रा
हिरासत में युवक की मौत के बाद राजमहल में तनाव, थाना प्रभारी और जांच अधिकारी निलंबित
गोड्डा में दिखेगी जादूगर शंकर सम्राट का जलवा
सरकार का रवैया शर्मनाक और पुलिस का चेहरा बेरहम, 24 घंटे में जोड़ें पास्को एक्ट :सुप्रीम कोर्ट
'ऐसे भांड़ नेता और अफसर पर केस कर उसे जेल में डाले सरकार'
नालंदा में भ्रष्टाधिकारीः कौन सच्चा कौन झूठा, डायरेक्टर या डीएम?
शिक्षक संघ ने नए डीईओ की आवभगत की
20 फीट गहरे खाई में गिरी तांगा, 8 घायल, मलमास मेला में खुली व्यवस्था की पोल
5 साल में 300 फीसदी बढ़ी अमित शाह की संपत्ति
पटना डीआईजी की कविता संग्रह 'जी ले जरा' का सीएम ने यूं किया विमोचन
हेल्थ मैनेजर की मौत के बाद पंखे से झूलती नर्स की लाश से सकते में विभाग
गिरीडीह में पार्श्व अंतर्राष्ट्रीय विश्वविद्यालय खोलने की कवायद हुई तेज
एक साथ आईं इतनी लाशें, छोटा पड़ गया श्मशान, चित्कार के बीच हर आंख थी नम
डीएम और एसपी के अनुदेश को यूं ढेंगा दिखा रहे हैं नालंदा पुलिस-प्रशासन के नुमाइंदे
बोले बिहार शरीफ एसडीओः प्रमाण पत्र के बजाय मदद हेतु लें प्रशिक्षण
ब्लॉक चौक के हर तरफ अतिक्रमणकारियों का बोलबाला, प्रशासन निष्क्रीय
चिराग मेला में झुला के कारीगर से हथियार के बल पर नकद और मोबाइल की लूट
दो दिन में ही कमिश्नर के आदेश को जमशेदपुर जिला प्रशासन ने दिखाया यूं ठेंगा
अनियंत्रित ट्रैक्टर ने ली दो मासूम की जान, ग्रामीणों ने ट्रैक्टर को की आग के हवाले
उषा मार्टिन एकेडमी प्रबंधन के खिलाफ 420 का मुकदमा
जदयू की संगीता जैन प्रदेश महिला सुरक्षा वाहनी की महासचिव बनी तो मौसमी जैन सचिव
बुनियादि सुविधाओं से महरुम सरिया में बैंकों की लच्चर व्यवस्था से लोग त्रस्त
किसानों की समस्या को लेकर झामुमो का धरना-प्रदर्शन
नहीं बिके पंसस तो चंडी प्रखंड प्रमुख-उपप्रमुख की कुर्सी जाना तय
जेल नहीं, एक सुंदर पाठशाला दिखता है यह पर्यवेक्षण गृह  
टाटा साहब के कर्मियों ने अश्लील डांस पर यूं लुटाए नोट
पारा शिक्षक ने किया नाबालिग से दुष्कर्म, 7 माह की गर्भवती हुई 6वीं की छात्रा
सीएम  नीतीश के आरोपों का लालू ने यूं दिया करारा जबाव
अंततः झुके CM, मुजफ्फरपुर के ‘महापाप’ की होगी CBI जांच
एक ही परिवार की 3 महिला की गला काट कर हत्या से फैली दहशत

One comment

  1. जनता को लूटने वाली सरकार में और क्या होगा , फाइल ही चोरी होगी क्योंकि ये नेता लोग जमीनी स्तर पर कुछ करते तो नही है..
    विद्युत पोल पर दस बल्ब लगवा देना है सिर्फ और लाखों का टेंडर पास करवा देना है।
    नेताओं का mob liching होना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...
Loading...