यूं धूमधाम से मनाई गई मगध सम्राट जरासन्ध की 5221 वीं जयंती

Share Button

इस जयंती समारोह में मगध सम्राट जरासन्ध की राजगीर में सरकारी उपेक्षा पर काफी खेद व्यक्त किया और सरकार से इसके इतिहास के संरक्षण के लिये योजनायें लागू करने की मांग …..”

राजगीर (नीरज)। चन्द्रवँशी डोली यूनियन द्वारा आयोजित जयंती समारोह का उदघाटन जदयू विधान पार्षद रीना यादव, चन्द्रवँशी महासभा के राष्ट्रीय महामंत्री पवनदेव चन्द्रवँशी, राष्ट्रीय संगठन मंत्री श्याम किशोर भारती, डोली यूनियन अध्यक्ष बुलबुल चन्द्रवँशी, जरासन्ध अखड़ा परिषद के मिलन सिंह ने संयुक्त रूप से किया।

विधान पार्षद रीना यादव ने कहा कि मगध नरेश जरासन्ध के इतिहास में अद्वितीय स्थान है। इसके स्मारक स्थल के सौंदर्यीकरण और विकास की चर्चा विधान परिषद में उठाउंगी।

जयंती समारोह में चन्द्रवँशी समाज के नेता श्याम किशोर भारती ने राजगीर में बनने वाले अंतराष्ट्रीय स्टेडियम का नाम मगध सम्राट जरासन्ध के नाम पर रखने का प्रस्ताव दिया जिसपर सर्वसम्मति सहमति देते हुए इसे पारित किया।

जयंती समारोह में पूजा पाठ के उपरांत भजन कीर्तन और भंडारा का आयोजन किया गया। इस समारोह में राजगीर प्रखण्ड के अलावे नालन्दा सहित अन्य जिलों के लोग भी शामिल हुए।

कार्यक्रम में बिहार के कई जिलों से प्रतिनिधि पहुंचे, जिन्हें प्रतीक चिह्न के रूप में मगध नरेश की प्रतिमा डोली यूनियन की ओर से भेंट की गई।

समारोह में मिलन सिंह, पवनदेव चन्द्रवँशी, भागवत प्रसाद, अनुपम क्षत्रिय, विकास कुमार, डॉ सुबोध कुमार, उमराव प्रसाद निर्मल, अभिषेक गोलू, जीवनलाल चन्द्रवँशी, नन्दलाल प्रसाद, बाबुलाल राम, सुभाष प्रसाद, गणित राम, प्रमोद कुमार,  कृष्णा चन्द्रवँशी, दिनेश कुमार, अशोक प्रसाद, बाढो राम, मुन्नू प्रसाद, रूपु प्रसाद आदि लोग शामिल हुए।

53

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...