मॉब लींचींग की जांच करने पहुंची अल्पसंख्यक आयोग की टीम, अब तक 11 आरोपी गए जेल

Share Button

एक्सपर्ट मीडिया न्यूज नेटवर्क (वीरेन्द्र मंडल)। सरायकेला- खरसावां जिला में हुए मॉब लिंचिंग की घटना के बाद पल- पल घटनाक्रम बदल रही है। वैसे प्रशासन जहां एसआईटी के गठन के बाद कार्रवाई करते हुए नामजद अभियुक्त के साथ कुल 11 लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

वहीं आज राज्य अल्पसंख्यक आयोग की तीन सदस्यीय टीम ने घटनास्थल और मृतक के गांव का दौरा किया और दोनों ही पक्षों के लोगों से जानकारी प्राप्त की है। घटनास्थल पर जांच करने पहुंची टीम के समक्ष गांव की महिलाओं ने मॉब लिंचिंग के मामले को गलत बताया और कहा कि उनके परिवार के सदस्यों को बेवजह फंसाया जा रहा है।

युवक तबरेज अंसारी उर्फ सोनू जो अपने दो साथियों के साथ चोरी की नियत से आधी रात को गांव में घुसा था, उसकी मृत्यु भीड़ द्वारा पिटाई के कारण नहीं हुई है। बल्कि वह गांव से सकुशल पुलिस कस्टडी में गया था और घटना के 5 दिनों के बाद उसकी मृत्यु हुई है।

वैसे ग्रामीणों की बात का समर्थन भारतीय जनता पार्टी के जिला अध्यक्ष उदय सिंह देव ने भी करते हुए पूरे मामले की निष्पक्ष जांच कराने की मांग जिला प्रशासन और एसआईटी से किया है। जिलाध्यक्ष ने कहा कि इस मामले में निर्दोष पर किसी तरह की कार्रवाई नहीं की जानी चाहिए।

इधर आयोग की टीम ने मृतक के गांव का भी दौरा किया और उनके परिवार वालों से घटना का पूरा ब्यौरा लिया। इस दौरान मृतक के चाचा के बयान को आयोग द्वारा कलम बंद किया गया।

हालांकि इस संबंध में आयोग के अध्यक्ष कमाल खान ने बताया कि दोनों पक्षों की बात आयोग के समक्ष आ चुकी है। अब वे इस मामले पर जिला प्रशासन से बात करने के बाद अपनी रिपोर्ट सरकार को सौंपेंगे।

श्री खान ने बताया कि वह निश्चित तौर पर जांच रिपोर्ट के साथ मृतक के आश्रितों को मुआवजा और नौकरी दिए जाने की सिफारिश करेंगे। ताकि उनका जीवन बसर चल सके।

इसके अलावा उन्होंने दोनों ही ग्रामीणों के साथ शांति समिति की बैठक आयोजित कर मामले को शांत कराने का निर्देश जिला प्रशासन को दिया।

फिलहाल दोनों ही गांव में भारी संख्या में प्रशासन की ओर से सुरक्षाबलों की तैनाती कर दी गई है। किसी भी आशंका को देखते हुए हर पल अलर्ट रहने का निर्देश जारी किया गया है।

बता दें कि धातकीडीह घटना में पुलिस ने कारवाई करते हुए अब तक 11 लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। एसपी एस कार्तिक ने बताया कि मामले पर पुलिस ने त्वरित कारवाई करते हुए पांच लोगों को दिन में और छह और लोगों को देर शाम गिरफ्तार किया है।

रविवार को एक आरोपी प्रकाश मंडल उर्फ पप्‍पु मंडल को गिरफ्तार किया गया था। जबकि सोमवार को भीमसेन मंडल, प्रेमचंग महली, कमल महतो, सोनामो प्रधान, सत्यनारायण नायक, सोनाराम महली, चामू नायक, मैदान नायक, महेश महली और सुमंत महतो को गिरफ्तार किया गया है। सभी धातकीडीह गांव निवासी हैं।

Share Button

Related News:

दिनदहाड़े अंधाधुंध फायरिंग कर दो युवक को मारी गोली, हालत गंभीर
कुर्मिस्तानः उपजातियों के बवंडर से जदयू की बढ़ी बेचैनी 
देखभाल बिना नष्ट हो रही महाभारत काल की यह अदभुत धरोहर
गजब! उत्पाद विभाग की थाना में छापामारी, शराब बेचने वाला थाना प्रभारी फरार
खरसांवा में सीएम रघुबर दास का भारी विरोध, बरसाए जूत्ते-चप्पल
पूजा का प्रसाद हुआ विषाक्त, 33 लोग बीमार, 1 की हालत गंभीर
कुख्यातों का स्वर्ग बना बेउर जेल, यहां मौज-मस्ती का है सब इंतजाम
अंततः अपनी ही साफगोई में डूब गए नीतीश
अब रांची के अरसंडे में एक ही परिवार के 7 लोगों ने की आत्महत्या
कमजोर की बीबी सबकी भौजाई, MDM मामले में नालंदा ADMIN ने की ऐसी हीं कार्रवाई  
देखें वीडियो कि कैसे आनंद मार्गी प्राचार्यों ने कहा-हम भारत जैसे छोटे-छोटे देश का झंडा नहीं फहराते
नालंदाः 'जहाँ बेदर्द डीएम-सीएम हो, वहाँ फरियाद क्या करना'
रांची के ओरमांझी में नक्सली उत्पात, 2 पोकलेन समेत 4 वाहन फूंके, की मारपीट
सूरजकुंड मेले में दर्शकों को लुभा रहा झारखण्ड का हस्तशिल्प
प्रदेश जदयू अध्यक्ष बशिष्ठ नारायण सिंह ने फहराया उल्टा तिरंगा, वीडियो हुआ वायरल
मनुषय को फल की चिंता किये वगैर अच्छा कर्म करना चाहिएः महाराज प्रभंजना
“लहेरी थाना पुलिस की गुंडागर्दी से इंसाफ नहीं मिला तो आत्मदाह करेगें”
निगरानी के हत्थे चढ़े मरौना सीओ, ले रहे थे 55 हजार रुपए
अब सीएम नीतीश को उनके गाँव-जेवार में मुर्दाबाद के साथ काला झंडा! 
हिलसा दरगाह मुहल्ला के इफ्तार में बोेले पप्पु-लालू का दलित प्रेम छलावा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

loading...
Loading...