मूर्ति विसर्जन के दौरान भारी बमबारी, फायरिंग, आगजनी, तोड़फोड़, दजर्नों जख्मी

एक्सपर्ट मीडिया न्यूज डेस्क।  इन दिनों बिहार पुलिस शांति- व्यवस्था कायम रखने में लगातार विफल हो रही है। पटना में शुक्रवार की रात मूर्ति विसर्जन के दौरान दो गुटों में हिंसक झड़प के बाद जमकर उपद्रव हुआ।

असामाजिक तत्वों ने पीरबहोर थाने के लालबाग और कदमकुआं के नाला रोड स्थित आंबेडकर भवन के पास जमकर तोड़फोड़ की। इस दौरान फायरिंग व बमबाजी करते हुए शरारती तत्वों ने पुलिस पर भी पथराव किया।

यही नहीं, कृष्णाघाट में खड़े राहगीर मयंक और इकबाल की कार व तीन बाइक फूंक डाली। पथराव में पीरबहोर थाने में पदस्थापित दारोगा मनोज कुमार समेत तीन पुलिसकर्मी, छात्र चंद्रशेखर व कई राहगीर गंभीर रूप से घायल हो गए।

घायल पुलिसकर्मियों को पीएमसीएच तथा छात्र को एनएमसीएच में भर्ती कराया गया है। स्थिति अनियंत्रित होने पर पुलिस ने लाठीचार्ज कर उपद्रवियों को खदेड़ दिया। इसके बाद एहतियातन मौके पर भारी संख्या में पुलिस फोर्स और रैफ के जवानों को तैनात कर दिया गया है।

फिलहाल, दोनों जगहों पर तनावपूर्ण शांति बनी हुई है। बताया गया कि रात करीब आठ बजे पटना विश्वविद्यालय के मिंटो व सैदपुर हॉस्टल के छात्र गाजे-बाजे के साथ मूर्ति विसर्जन का जुलूस लेकर अशोकराजपथ से होते हुए लालबाग पहुंचे थे। सैदपुर हॉस्टल के छात्र आगे-आगे जा रहे थे, जबकि मिंटो के छात्र पीछे थे।

इस दौरान छात्रों के गुटों में झड़प होने लगी। विवाद बढ़ने के साथ जुलूस लालबाग पहुंच गया। झड़प होते देख लालबाग के स्थानीय लोग आगे आ गए। इसके बाद असामाजिक तत्वों ने बवाल शुरू कर दिया। दोनों गुटों ने पथराव करते हुए बमबाजी शुरू कर दी।

दोनों गुटों ने दर्जनों राउंड गोलियां चलाईं। असामाजिक तत्वों ने तोड़फोड़ करते हुए कई ठेलों को पलट दिया। बवाल देखकर पुलिसकर्मी भाग गए। बाद में अतिरिक्त बल के साथ आईजी रेंज व एसएसपी के पहुंचने पर पुलिसकर्मियों ने लाठीचार्ज कर उपद्रवियों को खदेड़कर मामले को शांत कराया। बाद में कड़ी सुरक्षा के बीच मूर्ति विसर्जन कराया गया।

सैदपुर हॉस्टल के मूर्तिविसर्जन के दौरान कदमकुआं में भी जमकर बवाल हुआ। असामाजिक तत्वों ने यहां भी तोड़फोड़ और पत्थरबाजी की। एक आंख के अस्पताल और कोचिंग संस्थान में तोड़फोड़ की गयी। इसके साथ ही कई बाइकों को भी क्षतिग्रस्त कर दिया।

घटना राजेंद्रनगर स्थित आंख के निजी अस्पताल और नाला रोड अंबेडकर भवन के बगल में स्थित  कोचिंग संस्थान में हुई। उपद्रव और तोड़फोड़ देख आसपास की सभी दुकानें बंद हो गयीं। सहमें राहगीरों ने अपनी गाड़ियों को दूसरी ओर घुमा लिया।

आईजी संजय सिंह ने कहा कि पुलिस तोड़फोड़ में शामिल छात्रों की पहचान कर उन पर कार्रवाई करेगी। शहर में अमन-चैन कायम रहे, इसके लिए पुलिस पूरी तरह से मुस्तैद है। हर स्तर पर चौकसी बरती जा रही है। हर किसी से गुजारिश है, अमन-शांति कायम रहे, इसमें अपना सहयोग दें।

विभिन्न सामाजिक संगठनों को भी इसमें अहम भूमिका निभानी होगी। यदि किसी ने भी कानून को अपने हाथ में लिया तो उसे किसी भी सूरत में बख्शा नहीं जाएगा। इसके लिए पुलिस को कड़े निर्देश दिए गए हैं।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.