मुख्यमंत्री के गृह जिले में ही दम तोड़ रही कन्या विवाह लाभ योजना

बिहार सरकार की यह महत्वपूर्ण योजना का शुरुआती दौर में खूब प्रचार प्रसार हुआ और जनप्रतिनिधि से लेकर नव दाम्पत्य ने इसमें विशेष दिलचस्पी लेकर विवाह का निबंधन कराया और प्रखण्ड कार्यालय में योजना के तहत 5 हज़ार राशि के लिए आवेदन भी जमा किया। लेकिन अब सीएम नीतीश कुमार के गृह जिले नालंदा में ही यह योजना दम तोड़ रही है……………”

राजगीर (एक्सपर्ट मीडिया न्यूज नेटवर्क)। मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना की फाइल अब लगभग सभी प्रखण्ड कार्यालय में धूल फांक रही है। अकेले नालंदा जिले के राजगीर प्रखण्ड कार्यालय में विगत 4 वर्षों से हज़ारों आवेदन लंबित होने की सूचना है।

प्रखण्ड कर्मियो की माने तो विभाग द्वारा आवंटन नही है। यदि कुछ आवंटन भी होता है तो जुगाड़ टेक्नोलॉजी से कुछेक लोगो को इसका लाभ मिल पाता है। इस योजना का हश्र यह है कि लगभग सभी प्रखण्ड कार्यालय में इसकी फाइल पर धूल जमा हो चुकी है।

कुछ सजग जनप्रतिनिधि तो इसकी खबर भी लेते है। लेकिन अधिकांश अब सोए नज़र आते हैं। यही कारण है कि विगत कुछ वर्षों में विवाह निबंधन में भी काफी कमी आयी है।

विभाग के आंकड़े बताते है कि जितनी स्पीड में इस योजना का लाभ नवविवाहित को मिला, उतनी अधिक संख्या में विवाह निबंधन भी हुआ। लेकिन पिछले दो तीन वर्ष से जब इस योजना में आवंटन कम हुआ तो विवाह निबंधन भी अब नहीं के बराबर होता है।

18 वर्ष की लड़की और 21 वर्ष के लड़के की शादी के बाद स्थानीय जनप्रतिनिधि विवाह का निबंधन करते थे और फिर आवेदन को प्रखण्ड कार्यालय में जमा किया जाता था। ताकि इस योजना का लाभ नवविवाहित को मिल सके।

स्थिति यह है कि शादी के बाद आवेदन जमा करने के दो चार वर्ष बाद भी पैसे का भुगतान नहीं हो रहा है। शहर से लेकर गांव तक चक्कर काट रही आवेदिका को सिर्फ आश्वासन ही मिल पा रहा है।

Related News:

अब विकास एक चुनावी चिंताः विधायक फंड 3 करोड़!
आरोपी चोर की मौत पर हंगामा करने वाले जरा इन 5 पुलिस जवान की नृशंस हत्या की सुध ले लेते
नूरसराय पुलिस पर विफरे राजगीर विधायक, डीएसपी कर रहे मामले की जांच
बाल सरंक्षण आयोग की टीम की जांच से कस्तूरबा आवासीय विद्यालय की खुली कलई
नालंदा महिला कॉलेज में पढ़ाई नहीं, फिलहाल हो रहा यूं टाईम पास
शर्बत-पेयजल की व्यवस्था से मेला श्रद्धालुओं को मिली राहत
इस पुलिस इंसपेक्टर ने गाली देते मृत बच्ची की मां से कहा- 'पैदा कर रास्ते में छोड़ देते हो'
लालू की मुश्किलें बढ़ी, चौथे मामले में भी दोषी करार, मिश्रा-शर्मा बरी
बांका में मुखिया के पति की गोली मार हत्या, गोलीबारी में पुत्र भी जख्मी
पेयजल को लेकर गुस्से में लोग, नकारा बने नगर पंचायत प्रतिनिधि-अफसर
पूर्व मंत्री मंजू वर्मा ने बुर्का पहन मंझौल कोर्ट में किया सरेंडर
मनुषय को फल की चिंता किये वगैर अच्छा कर्म करना चाहिएः महाराज प्रभंजना
बोले राजद प्रदेश प्रवक्ता-'महापापी' ब्रजेश ठाकुर के ठहाके की खुलासा करें नीतिश
जिप उपचुनाव का थमा शोर, पिंकी बोली- होगी जीत हमारी
महागठबंधन का झोला लेकर लालू से होटरवार जेल में मिले शरद
चंडी थाना प्रभारी कमलजीत ने किया बाइक चोर गिरोह का यूं भंडाफोड़
कहां से उड़ी विधायक अनंत सिंह की हत्या की सुपारी की खबर, पटना SSP हैरान
जेवीएम नेता और पूर्व मुखिया ने किया डेढ़ लाख में लाश का सौदा
...और यह रही राजगीर मलमास मेला का खुला मूत्रालय
ट्रक चढ़ते ही भरभरा गया पुल, गया-नवादा मार्ग ठप, वाहनों की लगी लंबी कतारें
नीतीश सरकार के गले की हड्डी बनी मांझी को मिला 'फार्यचूनर'
इस स्कूल की नारकीयता तो देखिये,तस्वीर विकास पुरुष के घर-आंगन की है
कल CM,PMO,DGP,DIG,SSP,CSP को भेजा ईमेल, आज सुबह पेड़ से लटकता मिला उसका शव  
भाजपा ने जिला कार्यालय के लिए खरीदी 1.76 करोड़ की 40 डी. जमीन!
हथियार, बाइक, मुहर और शराब के साथ कारोबारी गिरफ्तार
सीएम नीतीश कुमार के लिए यूं कड़ा संदेश है उप चुनाव के नतीजे
महिला की सजगता से टला यूं बड़ा रेल हादसा, बदमाशों ने ट्रैक पर रखा था कंक्रीट स्लेव
अंततः ‘मुजफ्फरपुर महापाप’ पर सीएम ने तोड़ी चुपी, कहा- ‘शर्मसार हूं, हो रही आत्मग्लानि’
राजगीर में पुलिस की हैवानियत, 5 लोगों को यूं अधमरा किया
मानव श्रृखंला का काउंटडाउन शुरू, कितना चमक पायेगा इस बार नीतिश का चेहरा?
ओडीएफ में लगी घुन को थोथी दलील से यूं छुपा रहे करायपरसुराय बीडीओ
ऐसा आदर्श ग्राम किस काम का पीएम साहेब ?
10 अगस्त से इस्लामपुर-फतुहा रेल मार्ग का यूं बदल जाएगा सब कुछ दिखेगा
अदद बैंक खाता के लिये यूं हलकान हो रही स्कूली बेटियां
बासी भोजन खाने से राजगीर बालिका आवासीय स्कूल की 50 से उपर बच्चियां बीमार
ब्रजेश ठाकुर समेत पूर्व मंत्री दंपति पर सीबीआई का कसा शिकंजा
रांची के हालात नॉर्मल, अफवाह फैलाने से आएं बाजः एसएसपी कुलदीप द्वेदी
‘आम’ से ‘खास’ हो गई बैठक,पार्षद और कार्यपालक के बीच बहस, भ्रष्टाचार बना मुद्दा,तोड़ी कुर्सियां
हिम्मत है तो मुझे पार्टी से बाहर फेंक कर दिखाएं नीतीशः शरद यादव
सांसद के खिलाफ हल्ला बोल की व्यापक तैयारी, प्रशासन एलर्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...
Loading...