भाजपा से निष्कासित लोग ही दे रहे पार्टी सदस्यता अभियान को बल

Share Button

हालत यह है कि अब ये लोग प्रेस रिलीज भी जारी करने की हिम्मत नहीं जुटा रहे कि कार्यकर्ताओं को क्या कहें…………………?

एक्सपर्ट मीडिया न्यूज नेटवर्क। आज कल विश्व की सबसे बड़ी पार्टी होने का दावा करने वाली भाजपा का सदस्यता अभियान जोर शोर से चल रहा है। हो भी क्यों नहीं। संविधान में संशोधनों के साथ राष्ट्रहित में एक से बढ़कर एक फैसले लिये जा रहे है।

लेकिन इसके उलट नालंदा भाजपा का एक अलग ही संविधान है। तभी तो जिन लोगों का पार्टी से  निष्कासन हुआ, उनके भरोसे ही सदस्यता अभियान की नैया खेवी जा रही है। शायद किसी तरह यहां अभियान की लुटिया न डूबे।

नालन्दा भाजपा के जिलाध्यक्ष प्रो रामसागर सिंह द्वारा लोकसभा चुनाव के तुरंत बाद आनन-फानन में बिना पार्टी संविधान का अनुपालन किए नालंदा विधानसभा के पूर्व प्रत्याशी कौशलेंद्र कुमार उर्फ छोटे मुखिया सहित पार्टी के कुल 7 लोगो को प्रेस रिलीज जारी कर पार्टी से निकाल दिया था।

शायद नालंदा जिलाध्यक्ष को संगठन के संविधान की ज़रा भी जानकारी नहीं थी। न जाने किस मंशा से बिना प्रदेश स्तरीय सलाह के निष्कासन की प्रेस रिलीज जारी कर दी।

वहीं इधर पार्टी ने विधानसभा में अकेले चुनाव लड़ने की ताकत आज़माइश के लिये बतौर उन्हीं निष्कासित लोगों को विशेष सदस्यता प्रभारी बनाकर क्षेत्र मजबूत करने की जवाबदेही दे दी है।

शुरुआती में तो जिलाध्यक्ष से लेकर जिला के पार्टी पदाधिकारी इन नेताओं से दूरी बनाते दिखे, लेकिन जैसे-जैसे सदस्य्ता अभियान की गति बढ़ाने का दबाब पड़ा। सभी पार्टी संविधान विशेषज्ञ सरेंडर करते नज़र आये और फिर मंच साझा करना भी शुरू कर दिए।

फिलहाल पार्टी सूत्रों की माने तो जिलाध्यक्ष के खिलाफ पार्टी के अंदर एक मजबूत विपक्ष तैयार हो चुका है। जो संगठन से वर्तमान जिलाध्यक्ष को हटाने की माँग करेगा।

उधर समान पार्टी विचारों से सम्बंध रखने वाले विभिन्न संगठन भी जिलाध्यक्ष के खिलाफ मुखर होने लगे हैं।

उनका मानना है कि उन्हें विधानसभा की तैयारी में सभी वर्ग के कार्यकर्ताओं को जोड़ने वाला व्यक्ति चाहिए, न कि तोड़ने वाला।

Share Button

Related News:

बेलारी नहीं, बिहार का ‘इस्लामाबाद’! जहां पुलवामा हमला के मास्टरमाइंड की तलाश
हाईकोर्ट में एसपीओ की अर्जी स्वीकार, केन्द्र- राज्य सरकार को नोटिस
बालू माफियाओं के खिलाफ रात भर चली छापामारी में धराये दो ट्रैक्टर
गिरीडीह में पार्श्व अंतर्राष्ट्रीय विश्वविद्यालय खोलने की कवायद हुई तेज
शेखपुरा जिला के दस स्कूलों में खुलेगा क़ानूनी सहायता केंद्र
सीएम ने किया पुलिस कैंटीन का उद्घाटन
नीतीश कुमार को अपने ही रिकार्ड को तोड़ने की होगी चुनौती
साथी पत्रकारों की पहल आ रही काम,उपेंद्रनाथ मालाकार की हालत में सुधार
राष्ट्रीय पिछड़ा वर्ग संघ के प्रदेश उपाध्यक्ष बने नवीन कुमार
वे ऑफ़ बुद्धा का यूं हो रहा विकास, सीएम ने किया नए रोपवे निर्माण का निरीक्षण
पीएम सड़क योजना में भारी लूट, 2 माह में ही यूं टूटने लगी सड़क
अंततः 'BABA' ने KK को निपटा ही दिया, सिविल डिफेंस गए 'KK'
जर्जर बिजली तार से निकाली चिंगारी, किसान की फसल हुई राख
एसपी-डीएम के आदेश को ठेंगा, क्या इस असमाजिक पुलिसकर्मी पर कार्रवाई होगी ?
कारपोरेट सेक्टर से संयुक्त सचिव का चयन गैर संवैधानिक
बैल खरीदने में विफल किसान ने यूं लगा ली फांसी
सोशल मीडिया पर अब उड़ी 25 अप्रैल को यूं ‘भारत बंद’ की अफवाह
30 साल के जालसाजों पर कहर ढायेगी बिहार शिक्षा बोर्ड अध्यक्ष आनंद किशोर का यह फैसला
महंगी पड़ी RJD नेता को BJP नेत्री संग छेड़खानी- पिटाई, जूते चप्पलों की माला, फिर जेल
रांची के ओरमांझी में नक्सली उत्पात, 2 पोकलेन समेत 4 वाहन फूंके, की मारपीट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...
Loading...