भगवान बुद्ध के नाम पर गोरखधंधा, दुनिया में बदनाम हो रहा नांलदा और बिहार

Share Button

“इस गोरखधंधे में शामिल लोग धर्मालंबियों को यह बताते हैं कि नालंदा क्षेत्र समेत समूचे बिहार की हालत काफी दयनीय हैं और उनके द्वारा दान किये पैसे गरीबों के भूख मिटाने के लिये इस्तेमाल होता है।”

एक्सपर्ट मीडिया न्यूज। नालंदा जिला का अपना धार्मिक वैभव और सांस्कृतिक इतिहास है। लेकिन उस वैभव और इतिहास के साथ खुला खिलबाड़ हो रहा है।

इस गोरखधंधे से दुनिया भर में बिहार की छवि खराब हो रही है। लेकिन इसकी चिन्ता न तो पुलिस-प्रशासन को है और न ही सरकार को।

यह गोरखधंधा अन्तर्राष्टीय पर्यटन क्षेत्र राजगीर से जुड़ी है। धर्म और संस्कार के नाम पर भयादोहन गृद्धकूट पर्वत पर हो रहा है।

देसी-विदेशी सैलानियों-धर्मालंबियों को इतिहास से इतर दिन भर मोटी रकम वसूलते हुये भगवान बुद्ध की मूर्ति के दर्शन कराये जाते हैं और शाम अंधेरे उसे वहां से हटा कर नीचे बने गुफा-झाड़ियों में छुपा दिये जाते हैं।

फिर अगले दिन फिर वही रोजाना खेला शुरु हो जाता है।

जबकि भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण विभाग ने यहां स्पष्ट निर्देश दे रखा है कि उपरोक्त स्थल से किसी भी प्रकार का कोई छेड़छेड़ नहीं किया जाये। फिर भी धंधेबाज लोग हर परवाह को दरकिनार कर धर्म और संस्कृति की बेदी पर लूट मचाये हैं।  

जानकार बताते हैं कि इस गोरखंधंधे के जरिये रोज लाखों की वसूली हो रही है और इस वसूली के पीछे एक बड़ा रैकेट काम कर रहा है। स्थानीय स्तर पर पुलिस-प्रशासन की संलिप्तता के वगैर जिसकी कल्पना नहीं की जा सकती।

अमूमन भगवान बुद्ध के समक्ष रखे दान पेटी में ईच्छानुसार गुप्त दान देने की परंपरा देखी गई है, लेकिन यहां गृद्धकूट पर्वत पर काबिज धंधेबाजों की गैंग नकद राशि चढ़ावा चढ़ाने को बाध्य ही नहीं करते, अपितु फूल-मालाओं की कीमत हजार से पांच हजार तय कर रखी है।

ऐसी बात नहीं है कि राजगीर मनोरम वादियों के बीच गृद्धकूट पर्वत पर शांति के महादूत महात्मा बुद्ध के नाम पर हो रहे अधर्म की जानकारी शीर्ष प्रशासन को नहीं है। सबको है।

नालंदा के डीएम और एसपी से लेकर भारतीय पुरातत्व विभाग के रहनुमाओं को भी है, लेकिन किसी स्तर पर इस दिशा में कार्रवाई न होना समझ से परे है।

Share Button

Related News:

महादलित टोले की राह में दबंगों ने अटकाया रोड़ा
सिल्ली-गोमिया उप चुनाव 28 मई को और 31 मई को होगी वोटों की गिनती
द्वापर युगकालीन प्रसिद्ध बड़गांव छठ मेला को मिले राजकीय दर्जा
सिल्ली उप चुनाव को लेकर उपायुक्त ने की प्रेस वार्ता, दी विस्तृत जानकारी
इआरओ नेट सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल करें निर्वाची पदाधिकारीः चुनाव आयुक्त
कॉफी विद कॉप में छाया रहा अतिक्रमण का मामला
100 करोड़ से नालंदा, राजगीर और बोधगया बुद्धिष्ट सर्किट का विकास
थाना प्रभारी बोल लूटेरों ने मचाया तांडव, दंपति को घायल कर लूटी संपति
एसपी-डीएसपी के दुर्व्यवहार से भड़का अधिवक्ता संघ, कलम बंद निकाला प्रतिरोध मार्च
ठप हुई बीएसएनएल की बाइमैक्स इंटरनेट सेवा
रिश्वतखोर सीओ को लेकर लामबंद सरकारी बाबूओं के खिलाफ हो कड़ी कार्रवाई
चंडी के थानेदार सस्पेंड, मुकेश ने संभाली कमान, लोगों में हर्ष  
इधर घंटों बिलबिलाते रहे भाजपाई, उधर लग्जरी एसी में मस्त रहे मंत्री-अध्यक्ष
पटना के नागेश्वर कॉलोनी से रिटायर्ड कर्नल की 5 करोड़ की अंगूठी लूटी
एक युवक ने आत्महत्या की, पुलिस जांच में जुटी
आधार कार्ड बना रोड़ा, पुलिस परिजनों को नहीं सौंप रही युवती की सिरकटी शव
हादसा या शासनिक हत्या? फिर हुई 3 लोगों की यूं दर्दनाक मौत
गोड्डा समेत देश के आनंदमार्गी स्कूलों में नहीं फहराया गया तिरंगा!
रांची के ओरमांझी में सीएम ने किया देश के सबसे बड़े मछली घर का उद्घाटन
कोडरमा पुलिस को नालंदा में मिली बड़ी कामयाबी, 31.48 लाख नकद व 3.2 किलो सोना बरामद  
loading...
Loading...