बुरुगुलीकेला में बोले सीएम- बिना हिंसा बनाएं ‘अबुआ हाथु आबुआ राज’

पूरा प्रदेश उनका घर है एवं राज्य की जनता उनके परिवार का सदस्य हैं। ऐसे में राज्य सरकार सबका सुरक्षा सुनिश्चित करने का प्रयास करेगी……..”

चाईबासा (एक्सपर्ट मीडिया न्यूज)। पश्चिमी सिंहभूम जिला के नक्सल प्रभावित क्षेत्र बुरुगुलीकेला में 3 दिन पूर्व पत्थलगड़ी विवाद में हुए नरसंहार मामले में आज राज्य के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन घटनास्थल पर पहुंचकर पीड़ित परिवार के सदस्यों से मिले एवं उन्हें हर संभव मदद का भरोसा दिया

साथ ही उन्होंने स्पष्ट कर दिया कि सरकार इस मामले को गंभीरता से ले रही है और किसी भी तरह से दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा।

उन्होंने यह भी स्पष्ट किया कि राज्य की जनता का जान माल के सुरक्षा की जिम्मेदारी राज्य सरकार की है और कानून व्यवस्था के साथ खिलवाड़ करने का अधिकार किसी को नहीं है और ना ही सरकार इसमें कोताही बरतेगी।

गुरुवार की दोपहर गुलीकेरा गांव पहुंचकर मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने घटना पर अफसोस जताया। वहीं मृतकों के आश्रितों से मिलकर उनकी तकलीफों को जानने का प्रयास किया।

उन्होंने इस घटनाक्रम की साजिश करने वाले लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने का भी पुलिस प्रशासन को निर्देश दिया। मृतक के विधवाओं को नई व्यवस्था के तहत विधवा पेंशन तथा अन्य सरकारी योजनाओं का लाभ अविलंब दिलाने का मुख्यमंत्री ने आश्वासन दिया।

इस दौरान उन्होंने पीड़ित परिवार के सदस्यों से पूरे घटनाक्रम की जानकारी ली तथा ग्रामसभा को मजबूत करने का अपील भी किया।

उन्होंने ग्रामीणों को समझाते हुए कहा कि “अबुआ हाथु आबुआ राज” को मजबूत जरूर करना है, लेकिन ग्रामीण स्तर पर हत्या एवं अन्य किसी भी प्रकार की गैर कानूनी कार्य नहीं करना है।

इससे पहले मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन हेलीकॉप्टर से लोढाई  स्थित सीआरपीएफ कैंप में उतरे जहां से सड़क मार्ग द्वारा उन्हें घटनास्थल पर ले जाया गया। वहीं नक्सल प्रभावित क्षेत्र होने के चलते मुख्यमंत्री की सुरक्षा के लिए जिला पुलिस एवं सीआरपीएफ की भारी तैनाती की गई थी।

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन जब घटनास्थल पर पहुंचे तब वह काफी मायूस लग रहे थे एवं इस घटना से काफी मर्माहत दिखे।

वेशक, यह घटना मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के लिए एक बड़ी चुनौती साबित होगी कि झारखंड में इस तरह की सामाजिक नक्सल जैसी घटनाएं फिर से ना हो।

पूर्ववर्ती रघुवर सरकार के कार्यकाल में पत्थलगड़ी अभियान ने पूरे राज्य को अशांत कर दिया था एवं इससे निपटना सरकार के लिए भी एक बड़ी चुनौती थी।

परंतु हेमंत सरकार ने शपथ लेते ही पत्थलगड़ी के समर्थकों के ऊपर लगे मुकदमों को हटा लिया था और फिर लगभग 1 माह के भीतर ही दर्दनाक नरसंहार की घटना ने हेमंत सोरेन सरकार के उस फैसले पर कई सवाल भी खड़े कर रही है।

Related News:

एएनएम के बेटे ने जहर खाकर की आत्महत्या, छोड़ा सुसाइड नोट
पत्रकार-उत्पीड़न की एकतरफा जांच कर लौट रहे SP-DSP के काफिले को ग्रामीणों ने रोका
लक्षमण गिलुआ की बेटी के शादी में पहुंचे 6 हजार लोग, बना 5-5 क्विंटल मटन-चिकन-मछली  
बाबा चुहड़मल मेला में दारु पीकर हंगामा करते नगरनौसा मुखिया भाई समेत धराया, गया जेल
नालंदा के बेरथु गांव में खाना बनाते गैस सिलेंडर में लगी आग, जान माल का भारी नुकसान
बर्ड फ्लू से 6 मोर की मौत के बाद पटना जू अनिश्चितकालीन बंद
पेड़ों को राखी बांधकर लेंगे सुरक्षा और पर्यावरण बचाने का संकल्प
नालंदा के मॉडल प्रखंड में MDM की यूं हो रही जमकर लूट
हिलसा में दारु के एक बड़े रैकेट का खुलासा, दो धंधेबाज के साथ डिलीवरी ब्यॉय भी धराया
घरेलु कलह से तंग 8 माह की बच्ची संग जल मरी युवती
शौचालय तोड़फोड़ मामले में पूर्व मुखिया, बिचौलिया समेत 3 पर एफआईआर, बीडीओ को नोटिश
नालंदा के डाकघरों में फैली अव्यवस्था, बोले डीएम- यह वायलेंस है, लेंगे एक्शन
मंत्री के निर्देश पर जदयू वर्करों ने पिलाई श्रद्धालुओं को शर्बत
सड़क दुर्घटना में अस्पताल प्रबंधक की मौत
डीजीपी ने आधी रात को किया औचक निरीक्षण, दो थानेदार समेत 4 सस्पेंड
नालंदा पुलिस को मिली आज कई कामयाबी, केवट गैंग का पर्दाफाश, शराब-हथियार समेत 15 धराये
विकास की रोशनी से कोसो दूर नालंदा का मियाँ बिगहा गाँव
'पा लो ना' की पहल सराहनीय : अर्जुन मुंडा
योग से करोड़ों लोगों के जीवन में आया सुधारः डॉ. नीरा यादव
अब सभी सरकारी विभाग-दफ्तरों के मुख्यद्वार पर दिखेंगे गांधी जी के ये सुविचार
आरटीआई एक्टिविस्ट पर फर्जी केस, पुलिस ने दिखाई बर्रबरता
370 यू टर्न पर आरसीपी सिंह का भड़कना सिर्फ जदयू की पलटीमार पॉल्टिक्स
बांका से जुड़े पुलवामा हमला के तार, ताबड़तोड़ हो रही छापामारी, हिरासत में एक संदिग्ध!
जल्लादों ने बक्सर में युवती संग गैंगरेप बाद उसे गोली मार जलाया
DGP पर बरसे CM, कहा- ले डुबेगी MEDIA की ऐसी सुर्खियां
₹5000 रिश्वत लेते रंगे हाथ ACB के हत्थे चढ़ा पुलिस ASI
घोर उपेक्षा का शिकार है मां योगिनी स्थल
ले लोटा! मुहाने नदी में बहने के कगार पर सवा करोड़ का पत्थर
लोक शिकायत निवारणः जानिए सीएम नीतीश की चिंघाड़ का सच
बच्चों के भविष्य के साथ खिलवाड़ कर रहे नालंदा में ऐसे 'जाहिल शिक्षक'
ललन सिंह जैसे मंत्री के जूते छूने वाले ऐसे खाकी धारी को बर्खास्त करे चुनाव आयोग
...न तू अंधा है, न अपाहिज है और न निकम्मा! तो फिर ऐसा क्यूं?
लालू पर 'शनि सजा', क्या हाशिए पर चलें जाएंगे लालू ?
महंगी पड़ी RJD नेता को BJP नेत्री संग छेड़खानी- पिटाई, जूते चप्पलों की माला, फिर जेल
नालंदाः रिश्वत लेते निगरानी के हत्थे चढ़ा एक और घुसखोर
आरती कुजूर से बोली पीड़ित बच्ची की मां- हाथ पैर बांध टीचर पुत्र किया दुष्कर्म
ट्रैक्टर की चपेट में आए एक बाइक पर 3 सवार, 1 की मौत, 2 गंभीर
मलमास-मेला के कई रहस्य यूं खोल रहे हैं जज मानवेंद्र मिश्रा
नालंदाः फर्जी-काउंटर केस बनी पुलिस की यूं काली कमाई का बड़ा जरिया, दो को जेल, दो को बेल
वैकेंसी नहीं निकाले जाने से बेरोजगारी की समस्या बढ़ी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...
Loading...