बिहार शरीफ मंडल कारा में मिले अनेक नवजात, गर्भवती, विछिप्त, बीमार और 14 किशोर कैदी

Share Button

बिहार शरीफ मंडल कारा में 14 किशोर पाये गये। महिला वार्ड में छोटे नवजात बच्चे पाये गये। गर्भवती महिला बन्दी भी थी। अनेक मानसिक रूप से कमजोर कैदी भी मिले। कारा में मेडिकल कैंप की जरुरत………”

एक्सपर्ट मीडिया न्यूज नेटवर्क (बिहार शरीफ ब्यूरो)। नालंदा जिला मुख्यालय बिहार शरीफ मंडल कारा औऱ पर्यवेक्षण गृह का निरीक्षण मुख्य दंडाधिकारी  मानवेन्द्र मिश्र, सदस्य धर्मेन्द्र कुमार द्वारा किया गया।

इस दौरान मंडल कारा में 14 किशोर बच्चे पाये गये, जिन्हें अविलम्ब पर्यवेक्षण गृह भेजने का निर्देश दिया गया। महिला वार्ड में छोटे नवजात बच्चे पाये गये, जो अपने माँ के साथ थे। उनके लिये दूध, सेरेलेक्स, खिलौने, कपड़े इत्यादि की प्राथमिकता के तौर पर उपलब्धता करने को कहा गया।

गर्भवती महिला बन्दी भी मण्डल कारा में थी, जिनके नियमित तौर पर मेडिकल जाँच, टीकाकरण, आयरन टेबलेट,पौस्टिक भोजन की उप्लब्धता सुनिश्चित करने का निर्देश दिया गया।

कुछ ऐसे निर्धन कैदी थे, जो स्वयं अपने खर्चे पर अधिवक्ता रखने में सक्षम नहीं थे उन्हें अविलम्ब जिला विधिक सेवा प्राधिकार के माध्यम से निशुल्क पैनल अधिवक्ता उपलब्ध कराने का निर्देश दिया गया।

निरीक्षण के दौरान कुछ ऐसे बन्दी पाये गये जो गम्भीर बीमारी जैसे थैलीसीमिया जैसे रोग से पीड़ित थे, उनका इलाज अभी में चल रहा है। कुछ ऐसे कैदी जो मानसिक रूप से कमजोर थे, उनके बारे में जेल अधीक्षक को निर्देश दिया गया कि अधिवक्ता के माध्यम से इन कैदी की समस्या न्यायालय के समक्ष अविलम्ब रखें।

कुछ कैदियों ने अपने आखों में मोतियाबिंद, रतोंधी, निकट दृष्टि दोष की समस्या बताई, जिनके लिये यह निर्देश दिया गया कि सिविल सर्जन नालन्दा अविलम्ब एक मेडिकल कैम्प आंख के डॉक्टर का मण्डल कारा में लगाएं, जिससे बंदियों का समुचित इलाज हो सके।

साथ ही रसोईघर के साफ सफाई पर विशेष रूप से ध्यान देने को कहा गया। नालियों एवं बाथरूम में ब्लीचिंग पाउडर नियमित रूप से छिड़काव करने का निर्देश दिया गया।

कुछ ऐसे बन्दी थे, जो साधारण प्रकृति के अपराध में लगभग 8 माह, 1साल से जेल में बंद हैं, उन्हें यथाशीघ्र जमानत आवेदन प्रचालित करने के लिये सम्बंधित अधिवक्ता को निर्देश दिया गया। 

मंडल कारा के अस्पताल में भी हर समय दवा उपलब्धता की सुनिश्चितता को निर्देश दिया गया। निरीक्षण के समय जेलर रामेश्वर राउत एवं अभियोजन पदाधिकारी राजेश पाठक उपस्थित थे।

Share Button

Related News:

राजकीय राजगीर मलमास मेला में लापरवाही बरतने वाले होंगे दंडित
अनंत सिंह के इस अडिग फैसले से जदयू की बढ़ी मुश्किलें
गंभीर आरोपों के घेरे में चंडी प्रमुख, मुश्किल है इस बार कुर्सी बचना
एसीबी के हत्थे चढ़े पंचायत सचिव, क्लर्क समेत सहायक अभियंता
पटना जीपीओ में शराब पीते चार डाककर्मी धराये
चारा घोटाला पर फैसला टला, लालू ने दी एजी को आरोपित करने की अर्जी
छात्र ऋतिक हत्याकांडः अपहर्ताओं ने फिरौती में मांगी थी 50 लाख रुपये
HDFC बैंक में फर्जीबाड़ाः जाली आधार से खाता खोल यूं हड़पा जा रहा गैस सब्सिडी
नहीं मिला पैक्सों को पूरा पैसा, डीएम पर मनमानी का आरोप
फतुहा-इस्लामपुर रेलखंड पर जान जोखिम में डालकर यात्रा करने को विवश हैं यात्री
सुनो मोदी और शाह, तुम्हारी बुनियाद हम चूर-चूर कर देंगे: लालू
एंबुलेंस और ईलाज के अभाव में कस्तुरबा स्कूल की छात्रा की मौत
बिहार पुलिस एकेडमी का उद्घाटन कर बोले सीएमः लापरवाह-गड़बड़ करने वालों को हटाएं
सावधान! कल कांग्रेस समेत 18 राजनीतिक दलों का है भारत बंद
बोले जिला अधिवक्ता संघ के सचिव- मंजूर है बिहारशरीफ नगर आयुक्त की पहल
हिलसा में महिलाओं के हाथों बिजली विभाग के जेई की यूं हुई जमकर धुनाई!
मुजफ्फरपुर में होटल से बरामद हुई ईवीएम और वीवीपैट, चुनाव अधिकारी सस्पेंड
ब्राउन शुगर पिला हथौड़े से पीट-पीट हुई थी सौरभ की हत्या
अब ट्रेजरी महाघोटालाः बोले तेजस्वी और मांझी- इसमें शामिल हैं सीएम नीतीश
नदी में डूबने से दो बच्ची की मौत या भ्रष्ट-निकम्मे तंत्र ने ली बलि!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...
Loading...