बिहार में फिर पलटीमार राजनीति के संकेत या भ्रमजाल !

“ राज्य में सताधारी एनडीए के दोनों दलों के बीच बढ़ती खटास ने राजनीतिक हलचल बढ़ा दी है। भले ही आसन्न विधानसभा चुनाव में ज्यादा वक्त नही है,ऐसे में दोनों सत्ताधारी दलों के बीच ड्रामा की झलक मिल ही जाती है….”

एक्सपर्ट मीडिया न्यूज नेटवर्क (जयप्रकाश नवीन)। कहते हैं कि बिहार में जब भी राजनीति की खिचड़ी पकती है तो वह काफी अजीमो शान से पकती है। इन दिनों राज्य की राजनीति में कुछ ऐसी ही खिचड़ी पक रही है। जिसकी खुशबू रह-रहकर राजनीतिक गलियारे में फैल रही है। कुछ इस खिचड़ी का सेवन करना चाहते हैं तो कोई परहेज बरतना चाहते हैं।

पिछले एक माह में बिहार की राजनीति में कई ऐसे प्रकरण (घटनाक्रम) हुए हैं, जिससे लगता है कि एनडीए गठबंधन अब टूटा, तब टूटा।

माना जा रहा है कि सत्ताधारी भाजपा और जदयू दोनों दलों के बीच दरार तब आई, जब मोदी पार्ट टू में सीएम नीतीश की पार्टी को एक मंत्री पद का ऑफर मिला था। जबकि सीएम नीतीश कुमार दो या तीन मंत्री पद की मांग कर रहे थे।

इस घटनाक्रम के बाद सीएम नीतीश ने भी बिहार में मंत्रिमंडल का विस्तार तो किया, लेकिन भाजपा को एक भी मंत्री पद नहीं मिला।तब से भाजपा लगातार हमलावर है।

उसके बाद मुजफ्फरपुर में चमकी बुखार को लेकर अपनी सरकार की किरकिरी को देखते हुए जदयू के अंदर ही भाजपा कोटे के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय के इस्तीफे की मांग ने हलचल पैदा कर दी थी। तब राजद नेता शिवानंद तिवारी ने सीएम नीतीश का बचाव करते हुए कहा था कि उन्हें बेवजह टार्गेट किया जा रहा है।

पिछले दिनों भी बिहार की राजनीति में तब हलचल मच गई, जब बीजेपी से जुड़े संगठनों की कुंडली खंगालने संबंधित पत्र जब मीडिया में लीक हो गया। तब यहाँ की राजनीतिक में घमासान मच गया।

तब भी सवाल उठा था कि कभी भाजपा के साथ रहते हुए आरएसएस के नेताओं की जयंती में शामिल होने वाले नीतीश कुमार का आरएसएस के प्रति नजरिया क्यों बदलता जा रहा है?

भले ही इस मामले में सीएम को सफाई देनी पड़ी हो, लेकिन भाजपा ने अपना मोर्चा खोल रखा है। भाजपा के कई नेता डिप्टी सीएम सुशील मोदी से इस्तीफा देने की मांग कर चुके हैं।

हाल के दिनों में जिस तरह से जेडीयू और बीजेपी के नेताओं ने एक-दूसरे के नेताओं पर जुबानी हमले किए हैं, ये भी दोनों ही पार्टियों के बीच चल रही अंदरूनी खींचतान को दर्शाती है।

बीजेपी की ओर से जहां केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह और एमएलसी सच्चिदानंद राय जैसे नेताओं ने मोर्चा संभाल रखा है, वहीं जेडीयू की ओर से पवन वर्मा और संजय सिंह मुहतोड जबाब देने के लिए तैयार खड़े हैं ।

जदयू नेता पवन वर्मा ने भी बीजेपी पर हमला बोलते हुए बीजेपी से आगामी विधानसभा चुनाव अकेले लड़ने की चुनौती दे डाली थी।

जदयू लगातार इशारे कर रही है कि बीजेपी से मतभेद वाले मुद्दे यथा: एनआरसी, 35 ए तथा धारा 370 पर सरकार का समर्थन नहीं करेंगी। भले ही दोस्ती रहे या टूट जाए।

रविवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अपने दरभंगा दौरे के दौरान राजद नेता अब्दुल बारी सिद्दीकी से उनके आवास पर आधे घंटे की मुलाकात ने सियासी तूफान खड़ा कर दिया। इससे कयास लगाए जा रहे हैं कि ये बिहार की राजनीति में सियासी हलचल के संकेत हैं।

हालाँकि जदयू और भाजपा दोनों ने किसी भी उलटफेर से इंकार किया है। वही डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी ने भी इस मामले पर विराम लगाते हुए कहा है कि भाजपा जदयू दोनों साथ मिलकर चुनाव लड़ेगें और सीएम का चेहरा नीतीश कुमार ही होंगे।

डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी के बयान के बाद शायद दोनों दलों के बीच की सियासी बयानबाजी और अनबन का पटाक्षेप की उम्मीद लगती है।

लेकिन सीएम को बहुत क़रीब से जानने वाले यह भी मानते हैं कि नैतिकता की दुहाई और उसूलों की बात करते-करते फ़ौरन पलट जाने और कुशासन में भी सुशासन का प्रचार करा लेने की कला में निपुण नीतीश कुमार का कोई भरोसा नहीं।

फिलहाल बिहार में भाजपा और जदयू की दोस्ती का मतलब प्यार भी तुम्ही से, इंकार भी तुम्ही से।

Related News:

सांसद ने किया कस्तुरबा गांधी बालिका विद्यालय सह छात्रावास का शिलान्यास
सोना-चांदी की दुकान में सेंधमारी कर 3 लाख की चोरी
दिवड़ी सोलहभुजा दुर्गा मंदिर  से धोनी को है खास लगाव 
घोर उपेक्षा का शिकार है मां योगिनी स्थल
राजाराम का तकनीकी जदयू से कोई संबंध नहींः नवीन
मुट्टा पहाड़ पर है उत्पाती हाथियों का झूंड, दर्जनों गांवों में दहशत
डीएम ने शौचालय की सफाई कर बच्चों को नहलाया, हो रही खूब चर्चा
सीएम साहब, सिल्ली में देखिये अफसरों का ‘मोमेंटम भ्रष्टाचार’
रांची पुलिस की गुंडई, देखिये फोटोग्राफर के बाईक को कैसे तोड़ा!
सीवान में ट्रेन की चपेट में आने से 4 लोगों की मौत, 1 की हालत गंभीर
20 फीट गहरी खाई में पलटी बस, 4 की मौत, 25 से अधिक घायल
नियुक्ति पत्र नहीं मिलने से आक्रोशित कार्य. सहायकों का उग्र प्रदर्शन
'राजनामा' की पड़तालः नोटबंदी से बजा जनता बैंड
जमुई नगर थानाध्यक्ष समेत 6 पुलिसकर्मी सस्पेंड
रघु’राज के 1000 दिन की बखियां उघेड़ता रातू रोड चौराहा का पुलिस स्टैंड
सीएम ने पारा टीचरों को दी अब तक की कड़ी नसीहत
इस्लामपुर रेलवे स्टेशन पर फर्जीबाड़ा, विजिलेंस के हत्थे चढ़े स्टेशन मास्टर सहित 3 माफिया
लंदन स्कूल ऑफ इकॉनिमिक्स में व्याख्यान के लिए चुने गए नालंदा डीएम
नालंदा के नगरनौसा थाना की वायरल हो रही इस नंगी तस्वीर के क्या है मायने ?
अमन मार्च कांडः 78 नामजद समेत करीव 5सौ के विरुद्ध केस, 40से उपर गये जेल
अंततः 12 हजार की जगह 71 सौ में माना यह ‘बादशाह’ ASI
विवाहिता की सरेआम गोली मार कर हत्या
लक्ष्मण गिलुआ के हाथ झारखंड भाजपा की कमान
CRPF जवान के शहीद होने की खबर से शोक में डूबा पावापुरी बाजार
भाकपा (माले) की खुला गुंडई, किसान की फसल लूटी, अब करेगी विरोध प्रदर्शन
जिप उपचुनावः प्रत्याशियों ने झोंकी ताकत, सास की किला बचाने में जुटी पिंकी
बिहार-तंत्र यूं डकार रहा स्वच्छ भारत का शौचालय, नालंदा अव्वल
भाजपा नेता के खाद गोदाम में चल रहा था 1100 स्कूली बच्चों का किचेन, जहां बॉयलर विस्फोट में हुई थी 6 क...
कोडरमा घाटी से महिला का शव मिला, दुष्कर्म कर हत्या की आशंका
‘मन रे गा’ भ्रष्टाचारः पईन की घास छील सरकारी राशि यूं डकार गया मुखिया
शेल्टर होम रेप केस: CM नीतीश कुमार के खिलाफ CBI जांच का आदेश
SDO ने किया बजरंग दल के 20 लोगों के खिलाफ नामजद FIR
मानवता को समर्पित रांची से शुरु एक सघन अभियान “पा लो ना”
शादी का झांसा देकर नावालिग को दिल्ली से लाया झाझा बीच सड़क पर छोड़ा
बदले की भावना और धन लालच में बहनोई ने साले की यूं करवाई हत्या
आठ माह पहले ओडीएफ घोषित कई गांवों में नहीं बन सका शौचालय
पीएम मोदी के सामने बोले नीतिशः देश में तनाव का महौल
नाबालिग के साथ अवैध संबंध को लेकर हुई बिहारशरीफ के उप मेयर के घर गोलीबारी
भाजपा सचेतक पहुँचे पीड़िता के घर, मीडिया पर दबाब बनाने में जुटी पुलिस
एसपी नालंदा साहब, सुनिए ई ऑडियो और शराब कारोबारी से बचाईए अपने चौकीदार की जान

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...
Loading...