बिजली विभाग की अकर्मण्यता से कभी हो सकता है बड़ा हादसा

Share Button

“नगरनौसा बिजली विभाग के जेईई का सरकारी दूरभाष नंबर पर इनकमिंग पूर्णतः बन्द है। ग्रामीण आपातकालीन सूचना दे तो किसको दे ?”

नगरनौसा (लोकेश)। नालंदा जिले के नगरनौसा प्रखंड के तीना, तीनी लोदीपुर गांव के आने जाने वाले मुख्य मार्ग पर 11000 हजार वोल्ट का पोल तेज आंधी,पानी की वजह से आधी से ज्यादा झुक चुका है। वही एक पोल पर तार का पेड़ झुक चुका है । जिससे कभी भी बड़ा हादसा हो सकता है।

इस बात की जानकारी ग्रामीणों ने दूरभाष के माध्यम से नगरनौसा जेईई को देने का प्रयत्न करते- करते थक चुके हैं ,लेकिन नगरनौसा बिजली विभाग के जेईई का सरकारी दूरभाष नंबर पर इनकमिंग पूर्णतः बन्द है। ग्रामीण आपातकालीन जानकारी दे तो किसको दे। ये आलम है नगरनौसा बिजली विभाग की ।

किशोरी पासवान , कृष्ण रजक, राजकुमार ठाकुर, चमारी पंडित, रजन पंडित, मिथलेश पासवान, दयानंद पासवान सहित दर्जनों ग्रामीणों ने बताया कि तीना, तीनी लोदीपुर गांव में 11000 हजार वोल्ट का तार नगरनौसा पावर ग्रिड से दिया गया है। जिसका दो पोल लगभग गिरने के कगार पर है। साथ ही साथ बिजली की आंख मिचौली भी नगरनौसा क्षेत्र में जारी है ।

वैसे बिजली के मामले में नगरनौसा शुरू से ही उपेक्षित रहा है। आज भी चंडी पावर सब स्टेशन से बिजली मिलती है । लेकिन हमेशा आए दिन तकनीकी कारणों से बिजली बाधित रहती है। खासकर ग्रामीण इलाकों की।वही बिजली विभाग के नए पदाधिकारी अब तक बिजली सुधार को लेकर कोई ठोस कदम नहीं उठा पा रहे हैं ।

जर्जर विधुत तारों से आए दिन घटनाएँ घटती है। बावजूद विभाग के कान पर जूं तक नही रेंगती। आखिर खेत खलिहान में काम करने वाले किसान -मजदूर जान हथेली पर रखकर काम कर रहे हैं ।

Related Post

19total visits,1visits today

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...