बदचलनी के कारण हुई भाजपा नेता कृष्णा शाही की हत्या

Share Button

” आदित्य ने सब्जी में कीटनाशक दवा देकर हत्या किये जाने का प्लान तैयार किया और बड़का गांव में स्थित एक दुकान से कीटनाशक दवा ले आया और रात में उन्हें खाना में मिला कर खिला दिया। जब जहर का असर बढ़ा तो कृष्णा शाही घर से बेतहाशा बाहर भागने लगे, इस क्रम में वे बाहर स्थित कुएं में जाकर गिर गये।” 

पटना (न्यूज ब्यूरो)। बिहार के गोपालगंज में बीजेपी नेता कृष्णा शाही की हत्या के मामले में एसपी रविरंजन कुमार ने बड़ा खुलासा किया है।

गोपालगंज एसपी ने हत्या के 12 घंटों के बाद खुलासा करते हुये बताया कि अवैध संबंध के कारण कृष्णा शाही की हत्या की गयी।

एसपी ने बताया बिजेपी नेता कृष्णा शाही के करीबी आदित्य राय की बहन के साथ उनका अवैध संबंध था।

इस अवैध संबंध की जानकारी आदित्य को लगभग 15 दिन पहले हुई थी। जिसके बाद से ही बदला लेने का प्लेटफार्म तैयार करने लगा।

मंगलवार को उसके दादा जी का श्राद्ध कर्म था जिसमें वह दिन में शामिल होने गये थे। वहाँ से निकलते वक्त उसकी बहन के मोबाईल पर उनका फोन आया और वे रात में पुनः आने की बात कह कर चले गये ।

यह बात आदित्य पर्दा के पीछे से सुन रहा था। रात में आने की बात सुनकर उसकी आंखों में अवचेतना आ गई एवं हत्या की साजिश आदित्य के द्वारा की जाने लगी। आदित्य ने सब्जी में कीटनाशक दवा देकर हत्या किये जाने का प्लान तैयार किया और बड़का गांव में स्थित एक दुकान से कीटनाशक दवा ले आया और रात में उन्हें खाना में मिला कर खिला दिया।

जब जहर का असर बढ़ा तो कृष्णा शाही घर से बेतहाशा बाहर भागने लगे, इस क्रम में वे बाहर स्थित कुएं में जाकर गिर गये।

इसके बाद आदित्य भी अपने घर में आकर सो गया। दूसरे दिन कृष्णा शाही की खोजबीन होने लगी तो आदित्य भी भीड़ में शामिल होकर खोजने लगा लेकिन, पुलिस ने आदित्य को शक के आधार पर हिरासत में लेकर पूछताछ की तो पूरी हत्या का पटाक्षेप हुआ और पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया।

गौरतलब है कि बुधवार को हथुआ के चैनपुर निवासी बीजेपी नेता कृष्णा शाही का शव फुलवरिया के मांझा गांव में कुएं में मिला था।

शव मिलने के बाद आक्रोशित लोगों ने बवाल व हंगामा भी किया था। पुलिस ने उस मामलें में एफआईआर दर्ज कर उसे जेल भेज दिया है तथा आगे अनुसन्धान में जुटी हुई है।

Related Post

61total visits,1visits today

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...