पुत्र समेत भाजपा नेता दंपति की गोली मार कर हत्या

Share Button

एक साथ भाजपा नेता सहित तीन की हत्या के बाद खूंटी जिले में दहशत है। अभी कुछ दिन पूर्व अड़की में मुखिया सुखराम मुंडा की हत्या कर दी गई है.…….”

रांची (एक्सपर्ट मीडिया न्यूज नेटवर्क)।  खूंटी जिला मुख्यालय से करीब 30 किमी दूर मुरहू थाना क्षेत्र के हेठगोवा गांव में सोमवार की रात करीब 8.30 बजे वर्दीधारी हमलावरों ने कूदा पंचायत की मुखिया राधा मुंडू के घर में घुसकर ताबड़तोड़ फायरिंग की।

इस दौरान उनके पिता भाजपा नेता मागो मुंडा (65), मां लखमनी मुंडू (60) और भाई लिपराय मुंडा (28) घटनास्थल पर ही मौत हो गई, जबकि उनकी रिश्तेदार नौरी देवी के कमर में गोली लगी है।

मागो मुंडा भाजपा एसटी मोर्चा के खूंटी जिला कार्यसमिति सदस्य थे। हमलावर कौन थे? घरवालों और स्थानीय लोगों ने पहचानने से इन्कार किया है।

मुखिया राधा मुंडू के अनुसार, उनके पिता भाजपा नेता होने के साथ सामाजिक कार्यां से जुड़े थे। आशंका है कि उग्रवादियों ने पुलिस मुखबिरी के संदेह में उनकी हत्या की गई हो। हेठगोवा व आसपास का इलाका पीएलएफआई से प्रभावित है। माओवादी भी इलाके में पैठ बनाने की कोशिश में हैं।

दिसंबर 2018 में इसी तरह वर्दीधारियों ने भाजपा एसटी मोर्चा के जिला महामंत्री भैयाराम मुंडा की हत्या कर थी। वे मागो मुंडा के गहरे दोस्त थे। दोनोंं भाजपा संगठन के साथ सामाजिक कार्यों से जुड़े थे। उनकी हत्या भी अबतक राज है।

हमलावरों की गोली से घायल नौरी मुंडू बताती हैं, ‘रात के साढ़े आठ बजे थे। व घर में खाना बना रही थी। उसी वक्त बाहर पटाखे की आवाज आई। व देखने बाहर निकली तो देखा आठ-दस लोग गोली चला रहे हैं। सारे हमलावर वर्दी पहन रखी थी।

वह आगे कहती हैं, ‘इसके  लखमनी मुंडू और उसने भागने का प्रयास किया। इसी बीच हमलावरों ने लखमनी देवी का पीछा कर उन्हें गोली मार दी। इसी दौरान एक गोली उसकी कमर में लगी और वह गिर गई। हमलावरों ने उसे मरा समझकर छोड़ दिया और चले गए। इसके बाद वह बेहोश हो गई। होश आने पर खुद को अस्पताल में पाई।

फिलहाल, मुरहू में एक साथ भाजपा नेता सहित तीन की हत्या के बाद खूंटी जिले में दहशत है। अभी कुछ दिन पूर्व अड़की में मुखिया सुखराम मुंडा की हत्या कर दी गई है। लोग उस हत्या को अभी तक भूले भी नहीं थे कि मुरहू की यह हत्या दहला गई है। लोग इसके लिए पुलिस प्रशासन की विफलता बता रहे हैं।

गौरतलब हो कि विगत कुछ वर्षो से भाजपा नेताओं व कार्यकर्ताओं की हत्याएं खूंटी में हो चुकी है। इससे भाजपा कार्यकर्ता भी डरे-सहमे हुए हैं। हालांकि अभी हत्या के कारण का पता नहीं लग सका है।

लेकिन कहा जा रहा है कि भाजपा से जुड़ाव ही हत्या का कारण है। पुलिस का कहना है कि जल्द ही हत्या के कारणों का पता चल जाएगा और अपराधियों को भी बहुत जल्द गिरफ्त में ले लिया जाएगा।

मागो मुंडू की क्षेत्र में कर्मठ भाजपा नेता के रूप में पहचान थी। भाजपा नेता होने के कारण उन्हें लंबे समय से लगातार जान से मारने की धमकी दी जा रही थी। वर्दीधारी हमलावर कम उम्र के थे। आशंका जताई जा रही है कि इस हत्याकांड में उग्रवादी संगठन पीएलएफआइ का हाथ है।

Share Button

Related News:

मानपुर थाना क्षेत्र में अवैध बालू ढो रहे ट्रैक्टर ने फिर ली दो मासूम की जान
मानव श्रृखंला का काउंटडाउन शुरू, कितना चमक पायेगा इस बार नीतिश का चेहरा?
बंगाल पुलिस ने जमशेदपुर से दो सुपारी किलर को पकड़ा
मना करने पर आठ फीट उंचे गेट यूं फांद अंदर घुसी रांची एसडीओ की पत्नी !
देखिए सदर अस्पताल का आलम, एक बाप यूं ले जा रहा अपने जिगर का शव
मोदी और नीतिश दोनों पर जमके बरसे रघुवंश
समाज के अंतिम पायदान के लोगों को दिलाएं योजनाओं का लाभ: डॉ. त्यागराजन
सुशासन बाबू तनी देख ली अपन नालंदा में कैसे शौचालय बना रहे हैं अफसर-बिचौलिये
अंततः रौशन ने बिहार परीक्षा बोर्ड और हेडमास्टर को कोर्ट में घसीटा
न्यायः हिलसा कोर्ट ने वादी को दोषी ठहराया, दी 7 साल की सजा
देखिए वीडीयोः यूं सीसीटीवी में कैद हो गए उत्पाती गजराज
पर्यटक नगरी राजगीर में बंद रही दुकानें, पुलिस पर लगे गंभीर आरोप
कल राजगीर गैंगरेप पीड़िता के घर पहुंचेगी राज्य महिला आयोग, अध्यक्ष ने सीएम से लगाई गुहार, डीजीपी से ...
अवैध बालू लाद कर भाग रहे ट्रक ने ऑटो को कुचला, 12 की मौत, 4 घायल
गांवों में छठ पर्व घाटों व रास्तों की सफाई में जुटे युवा
विजातीय प्रेम विवाह पर बवालः हमला, पथराव और फायरिंग
इन बालू माफियाओं के खिलाफ क्यों पंगु है नालंदा पुलिस-प्रशासन?
लकड़ी तस्करों ने राजगीर विपुलगिरी पर्वत पर लगाई आग, प्रशासन खामोश
नालंदा के नगरनौसा में पूर्व मुखिया को मारी गोली
शिक्षकों की दुश्मन है नीतीश सरकार :रौशन कुमार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...
Loading...