पत्रकार संतोष के पक्ष में उतरा एमनेस्टी इंटरनेशनल

Share Button

एमनेस्टी इंटरनेशनल ने छत्तीसगढ़ के पत्रकार संतोष यादव की रिहाई की मांग की है. बस्तर के पत्रकार संतोष यादव को पुलिस ने माओवादी होने का आरोप लगा कर पिछले महीने गिरफ्तार किया था. मानवाधिकार संगठन एमनेस्टी इंटरनेशनल का कहना है कि इस तरह की गिरफ्तारियों का विरोध किया जाना चाहिये.

amnesty-internationalसंतोष यादव के वकीलों के हवाले से एमनेस्टी इंटरनेशनल ने कहा है कि संतोष को फर्जी तरीके से फंसाया गया है. संतोष उस इलाके में पुलिस की गलत कार्रवाइयों का विरोध करते रहे हैं, इसलिये उन्हें निशाना बनाया गया है.

एमनेस्टी ने संतोष की रिहाई के लिये अभियान चलाने का आह्वान किया है और इसके लिये राज्य के मुख्यमंत्री रमन सिंह और बस्तर के आईजी को पत्र लिखने की भी अपील की है.

राजस्थान पत्रिका पत्र समूह के दरभा इलाके के प्रतिनिधि को पुलिस ने माओवादियों के साथ कथित संपर्क के आरोप में टाडा और पोटा से भी ख़तरनाक माने जाने वाले ‘छत्तीसगढ़ जनसुरक्षा क़ानून’ के तहत गिरफ्तार किया है.

बस्तर के पुलिस अधीक्षक का दावा है कि संतोष पर लगातार नज़र रखी जा रही थी और पुख्ता प्रमाण के बाद ही उन्हें गिरफ्तार किया गया है.

हालांकि संतोष के परिजन, स्थानीय पत्रकार और मानवाधिकार संगठन इसे ग़लत बता रहे हैं.

शनिवार को ही इस मामले को लेकर राज्य भर के पत्रकारों ने रायपुर में एक बैठक कर पुलिस की इस कार्रवाई का विरोध किया था. अब मानवाधिकार संगठन एमनेस्टी इंटरनेशनल ने इस मामले में हस्तक्षेप किया है.

Share Button

Related News:

बहुत जरुरी है 'प्रेस' के ऐसे कुकृत्य का खुलासा
युवक की हत्या के बाद आगजनी, तोड़फोड़, पुलिस छावनी बना चौकीटांड़
हिलसा में चावल घोटाले का असर, एसएफसी गोदाम में लटका ताला, बंद हुई सप्लाई
ट्रैक्टर से कुचलकर मौत, अस्पताल की कुव्यवस्था को लेकर सड़क जाम
हर शहर में दादा-दादी पार्क का होगा जल्द निर्माणः सीएम
हिलसा शौचालय घोटालाः आज हुआ एक और एफआईआर
कोल्हान DIG कुलदीप द्विवेदी ने सरायकेला SDPO ऑफिस का किया निरीक्षण
विस्फोट-हादसा से दहला चुटूपालु घाटी, कई मौतें, दर्जनों घायल, लगा महाजाम
मिड डे मिल के चावल की कालाबाजारी करते ट्रैक्टर समेत 3 धराये
फेसबुक पोस्ट को लेकर जमकर बवाल, धारा 144 लागू
2 बाइक की सीधी टक्कर में 1 युवक की मौत, 3 घायल
सीएम जल योजना की बोरिंग के दौरान मकान ध्वस्त
भाजपा के 'शत्रु-सिन्हा' को नही मिला न्योता, बोले 'गईल सरकार तोहार"
बंदूक से निकलता है केवल खून, समाधान नहीं
मलमास मेला की रौनक बनी थियेटरों में अश्लीलता-शराब, हंगामा करते फिर धराये 11 शराबी
ऑन ड्यूटी नवादा डीएम की जेब यूं काट लिया पॉकेटमार
....और पटना में एक मंच पर दिखेगा लालू, नीतिश और मोदी का रोमांच
नालंदाः 'जहाँ बेदर्द डीएम-सीएम हो, वहाँ फरियाद क्या करना'
गुंडागर्दी के बीच नालंदा इंजीनियरिंग कॉलेज में पढ़ाई 31 मार्च तक स्थगित
खुद रोग ग्रस्त है सरमेरा पीएचसी, लोग का ईलाज खाक करेगा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

loading...
Loading...