नूरसराय थाना के जमादार पवन की सड़क हादसे में मौत की उलझी गुत्थी

Share Button

“जैसा कि मीडिया की सुर्खियों में यह बात भी उभर कर सामने आई है कि पवन सिंह एक दिन पहले नूरसराय थाना क्षेत्र में जगदीशपुर-तियारी गांव में हुई छापामारी के दौरान पकड़ी गई शराब की बड़ी कंटेनर खेप के छापामार दल में भी शामिल थे…..” 

बिहारशरीफ (एक्सपर्ट मीडिया न्यूज)। नालंदा जिले के नूरसराय थाना में पदास्थापित जमादार पवन कुमार की सड़क हादसे में हुई मौत कई सबालों के घेरे में आ गया है। पहले सूचना फैली कि वे इलेक्शन ड्यूटी से बाइक से आ रहे थे और इसी बीच एक अनियंत्रित ट्रक ने उसे अपनी चपेट में ले लिया।

इधर घटना के बाद इस हादसे को लेकर बनी मीडिया की सुर्खियां बताती है कि नूरसराय के सरकारी अस्पताल के समीप बुधवार-गुरुवार की मध्य रात्रि घटी।घटना के वक्त पवन सिंह अपने नियमित गश्ती पर थे।

नूरसराय थाना में पदास्थापित जमादार पवन कुमार……

प्रत्यक्षदर्शी पुलिसकर्मियों ने बताया कि पवन पेशाब करने को लेकर गश्ती जीप से नीचे उतर रहे थे। इसी बीच विपरीत दिशा से आ रही एक ट्रक ने उन्हें कुचल दिया।

हादसा इतना भयावह था कि दारोगा के शरीर का निकला भाग बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया। घटना के बाद ट्रक का चालक वाहन सहित फरार हो गया।

इस मामले को लेकर जब एक्सपर्ट मीडिया न्यूज ने नूरसराय थानाध्यक्ष से बात की तो उनके ही स्वर में दो तरह के तत्थ उभरकर सामने आए।

थानाध्यक्ष ने बताया कि वे चुनाव कार्य से लौटने के बाद कुछ नीजि कोर्ट के काम से थाना आए थे और गश्ती दल के साथ हो लिए। इसी बीच गश्ती वाहन रुकवा कर पवन पेशाब करने के लिए सड़क पार करने लगे कि इसी बीच वे ट्रक की चपेट में आ गए।

जब थानाध्यक्ष से पुछा गया कि रात्रि गश्ती दल के साथ कोर्ट के नीजि काम से जाने का मतलब है कि उन्होंने क्या ड्यूटी ज्वाइन नहीं की थी? इस पर उनका कहना था कि वे ड्यूटी ज्वाइन कर ली थी और रात्रि गश्ती दल के साथ थे।

सबाल उठता है कि थानाध्यक्ष का एक तरफ यह कहना कि वे नीजि काम से कोर्ट जा रहे थे और फिर यह कहना कि वे गश्ती दल में थे। हादसे को काफी उलझा जाती है। 

अगर पवन गश्ती दल में थे तो फिर क्या पुलिस वाहन दल में वायरलेस या पुलिस कर्मियों के पास मोबाइल सेट नहीं थे। उन्होंने अपने संसाधनों के जरिए उस अनियंत्रित ट्रक को पकड़वाने की कोशिश क्यों नहीं की गई? जबकि आगे कई हाइटेक थाने मौजूद हैं।

और अगर वे नीजि कोर्ट के काम से वे चुनाव ड्यूटी से आए थे तो फिर उन्हें दो ढाई बजे रात्रि गश्ति दल के साथ जाने की नौबत क्यों आन पड़ी?

हादसे के बाद क्या जिले के विभिन्न थानों के पुलिस तंत्र इतनी लच्चर है कि वे एक अदद ट्रक को न पकड़ सके, जो सबके सामने एक जमादार को रौंद डाले! यह भी कम बड़ा सबाल नहीं है।

जैसा कि मीडिया की सुर्खियों में यह बात भी उभर कर सामने आई है कि पवन सिंह एक दिन पहले नूरसराय थाना क्षेत्र में जगदीशपुर-तियारी गांव में हुई छापामारी के दौरान पकड़ी गई शराब की बड़ी कंटेनर खेप के छापामार दल में भी शामिल थे। 

Share Button

Related News:

भाजपा सांसद शहनवाज हुसैन से कुख्यात शहाबुद्दीन के रहे हैं गहरे ताल्लुकात
राजगीर महोत्सव के नाम पर देखिये प्रशासनिक वेशर्मी की हद
शौचालय निर्माण योजना में एक बड़े घोटाले की तैयारी
......और हत्या के बाद शव को लेकर पुलिस-प्रशासन के पसीने छूट गए
ललमटिया कोल माइंस में दबे करीब 40मजदूर, दर्जन भर शव निकाले गए
सांसद के मकान में संचालित झारखंड ग्रामीण बैंक में लाखों की चोरी
परीक्षक नियंत्रक से मिले छात्र जदयू नेता, मिले आश्वासन से खुश
जांच कमिटि की रिपोर्ट में खुलासा, पूर्व प्रबंधक की सांठगांठ से हुआ लाखों का खेला
मोदी के चार साल के कार्यकाल में देश की प्रतिष्ठा बढ़ीः रघुबर दास
हवा-हवाई बनी सीएम की बहाली घोषणा, डीजीपी यूं बना रहे थाना मैनेजर
आर्थिक तंगी के शिकार टीबी मरीज ने एजीएम अस्पताल के चौथे तल्ले से कूदकर दी जान
नालंदा में चुनावी रंजिशः मारपीट के बाद चली सौ राउंड गोलियां, कई को आई चोटें
'मलमास मेला सैरात बंदोबस्ती अनियमियता के राजगीर एसडीओ हैं माइंड मास्टर !'
ग्रामीण क्षेत्रों को कैशलेस बनाना चुनौती, 3रा डिजिधन मेला धनबाद मेंः सुनील बर्णवाल
जलमीनार कांडः वार्ड को मिले 11 लाख में 7.21 लाख यूं हड़प लिया मुखिया पति
यहां पुलिस प्रोटक्शन में चलता है कुख्यात-सजाफ्ता ‘अलिया’ का सिक्का !
न्यायालय के आदेश को भी धत्ता बता रही है नालंदा पुलिस
शराबबंदी के ईफेक्ट- अमीरों पर करम, गरीबों पर सितम, रहम कीजिये हुजूर
इस बार दो लाख करोड़ का बजट पेश, खुलेगें 11 मेडिकल कॉलेज
तेजस्वी की 'जनादेश अपमान यात्रा' के  निशाने पर नीतीश की अंतरात्मा
पुलिस के यूं हत्थे चढ़ा छात्रा वायरल वीडियो कांड का मुख्य आरोपी ‘बिल्ला’
पत्रकारिता एवं जनसंचार में नामंकन की तिथि बढ़ी
"रघुबर सरकार ने रांची की निर्भया कांड की CBI जांच की अनुशंसा तक नहीं की"
पुलिस लापरवाही से पनप रहे दुःशासन, चंडी वीडियो वायरल कांड है नमुना
दो भ्रष्ट इंजीनियर को 88 हजार की घूस लेते  निगरानी ने दबोचा
नालंदा से दो भ्रष्ट अफसर पकड़ पटना ले गये निगरानी वाले
महंगी पड़ी RJD नेता को BJP नेत्री संग छेड़खानी- पिटाई, जूते चप्पलों की माला, फिर जेल
विस्फोट-हादसा से दहला चुटूपालु घाटी, कई मौतें, दर्जनों घायल, लगा महाजाम
मंत्री सरयू राय का अपनी सरकार को अल्टीमेटम, 15 दिनों के अंदर करें कार्रवाई
लालू यादव दोषी-गये होटरवार जेल, जगन्नाथ मिश्र रिहा, अगले साल होगी सजा का एलान
ACB ने कनीय अभियंता को घुसे लेते रंगे हाथ दबोचा, 3 करोड़ नगद व करोड़ों के कागजात-आभूषण बरामद
अलविदा ! 'सीमाचंल का गांधी' सांसद तस्लीमुद्दीन
यादव सुन डीएसपी को आया गुस्सा, बेवजह वार्ड सचिव को थाना में अधमरा कर छोड़ा !
अफसरशाही और भ्रष्टाचार की पराकाष्ठा पार कर चुके हैं नालंदा डीएम
Ex MP उदय सिंह ने जेल सुधारों की ऐसी महत्वपूर्ण पहल
झारखंड पहुंची 'तितली', भारी बारिश-तूफान की आशंका
भानु कंस्ट्रक्शन का रोचक गोरखधंधा, बैंक DGM  दुष्मंत पंडा का ट्रांसफर
मढ़ौरा में बीच बाजार SIT टीम पर अंधाधुंध फायरिंग, दारोगा और हवलदार की मौत
इंपैक्ट कॉलेज कैंपस प्लेसमेंट में सफल छात्रों के बीच उत्साह का माहौल
उफः दत्तक पिता ही निकला नालंदा की सरस्वती का हत्यारा, अमेरिकी कोर्ट ने दी उम्र कैद की सजा  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...
Loading...