ई कुशासन देख आपके बोल से चिढ़ होने लगी है सुशासन बाबू !

नालंदा जिले का नगरनौसा-चंडी अंचल क्षेत्र सुशासन बाबू के नाम से मशहूर बिहार के सीएम नीतिश कुमार के गृह जिले की राजनीति का एक प्रभावशाली अंग माना जाता है। लेकिन यहां सुशासन का जो ताजा दृश्य सामने है, वह आम जनता की अंतरात्मा को अंदर तक झकझोर जाती है।

chandi polish scandle police_chandi_mukeshऐसे तो यहां सुशसन के ढोल की पोल खोलने वाली सैकड़ों उदाहरण हैं लेकिन, मुझसे जुड़े ताजे मामले सीधे सुशासन बाबू पर ही सबाल खड़ा कर जाता है। क्योंकि मेरे द्वारा सीएम नीतिश कुमार से कई बार हर संभव माध्यमों द्वारा शिकायत भेजी गई लेकिन फोनिक आश्वासनों के सिवा कोई कार्रवाई नहीं हुई।

इन दिनों मैं झारखंड की राजधानी रांची में रह रहा हूं। हमेशा नालंदा अवस्थित गांव घर भी आता जाता रहता हूं। जनवरी,2015 में ही मैंने नगरनौसा अंचल के तात्कालीन सीओ दिव्या आलोक को लिखित आवेदन दिया।

मैनें अपने आवेदन में गांव के असामजिक तत्वों द्वारा अपनी पैत्रिक जमीन पर अतिक्रमण किये जाने की शिकायत करते हुए जमीन मापी करा कर सीमाकंण कराने की मांग की।

लेकिन इधर जैसे ही सीओ की मापी प्रक्रिया शुरु हुई, उधर विरोधियों द्वारा उक्त भूमि के एक हिस्से पर पक्का निर्माण कार्य शुरु कर दिया। इस दौरान मैंने सीओ को बिना नापी के निर्माण कार्य होने की सूचना दी।

हर बार नगरनौसा सीओ ने संबंधित चंडी थाना प्रभारी धर्मेन्द्र कुमार को मापी होने तक वस्तुस्थिति कायम रखने के निर्देश देते रहे और थाना प्रभारी उस हर निर्देश को रद्दी की टोकरी में फेंकते रहे।

करीव 3 माह तक यह सिलसिला चलता रहा। इस दौरान उक्त भूमि पर मकान की पक्की दीवार उठा ली गई। प्रथम एवं अन्य पक्षों के नीजि अमीनों की मौजूदगी में सरकारी अमीन की नापी के सीओ ने सीमांकण की कार्रवाई की गई।

उसके बाद एसडीओ, हिलसा कोर्ट में शिकायत की गई। एसडीओ ने मामले की सुनवाई करते हुए उक्त भूमि पर धारा 144 लगा दी और चंडी थाना प्रभारी को फैसला होने तक वस्तुस्थिति बनाये रखने के निर्देश दिए गए। एसडीओ के इस आदेश का पालन भी थाना प्रभारी ने नहीं किया और उसके हस्ताक्षर से कोर्ट को यह सूचना भेजी गई कि वहां 144 जैसी कोई स्थिति नहीं है और विवादित स्थल पर कोई निर्माण कार्य नहीं किया गया है।

police_chandi_mukesh2जबकि सच्चाई यह है कि धारा 144 लागू होने के दौरान विरोधी पक्ष ने चंडी थाना पुलिस के खुली संरक्षण और गांव के असमाजिक तत्वों की मदद से उक्त भूमि पर पक्का मकान की ढलाई कर ली गई।

उसके बाद मैंने हिलसा एसडीओ कोर्ट में पुलिस की रिपोर्ट को मनगढ़ंत और झूठी होने की चुनौती दी। उसके बाद हिलसा एसडीओ ने चंडी के सीओ राजीव रंजन को घटनास्थल पर जाकर त्वरित जांच रिपोर्ट देने को कहा।

5चंडी सीओ ने न सिर्फ उक्त मकान पर धारा 144 के दौरान पक्का मकान बना डालने की पुष्टि की बल्कि मौके पर निर्माण कार्य रहे कई राजमिस्त्री और मजदूरों को भी पकड़ा और उन्हें बतौर गवाह रिपोर्ट दर्ज की।

चंडी, सीओ के इस रिपोर्ट के बाद विवादित स्थल पर दो चौकीदार तैनात कर दिए गए। फिर भी उक्त स्थल से छेड़छाड़ होते रहे। कई काम किए गए। चंडी सीओ के जांच के वक्त नव ढली मकान मे सेंटिंग के पटरे लगे थे। जिसे थाना प्रभारी ने वगैर किसी लिखित आदेश के अचानक चौकीदार को हटा कर दिनदहाड़े खुलवा दिया।

थाना प्रभारी के खुला संरक्षण का आलम यह है कि तमाम आदेश-निर्देश के बाबजूद समाचार प्रेषण तक उक्त जमीन के वोरिंग पर मनबढ़ू लोगों द्वारा अवैध बिजली के सहारे चोरी के मोटर पम्प चलाए जा रहे हैं।

अब देखना हैं कि नालंदा के डीएम, एसपी से लेकर सीएम तक की इस मामले पर बरती गई उदासीनता की चपेट में सुशासन और मेरे मामले का आलम क्या होता है।

फिलहाल एक तरफ इस प्रक्ररण में एसडीओ कोर्ट से तारीख पर तारीख मिल रही है, वहीं दूसरी तरफ जातीयता की चरम पर एक चंडी थाना प्रभारी की गुंडागर्दी सर चढ़कर बोल रहा है।

मैंने अपने जान माल की रक्षा की गुहार एसपी डीएम तो दूर…सीधे सीएम से की है लेकिन दो-ढाई माह बाद भी उनके कानों में जूं तक नहीं रेंग रहे हैं। .………..मुकेश भारतीय 

Related News:

पुलिस गश्ती दल को ट्रक ने रौंदा, एएसआई कार्तिक कुमार की मौत, 3 जवान घायल
बच्चों के भविष्य के साथ खिलवाड़ कर रहे नालंदा में ऐसे 'जाहिल शिक्षक'
नालंदा में प्रशासनिक अराजकता पैदा करने वालों पर होगी कड़ी कार्रवाईः मंत्री श्रवण कुमार
दलित के दलदल में धंसती बिहार की महागठबंधन सरकार
नालंदा में भ्रष्टाधिकारीः कौन सच्चा कौन झूठा, डायरेक्टर या डीएम?
एक कड़वा सचः छद्म पत्रकारिता और शासन एक भयादोहन
नालंदा के इन बालू माफियाओं के खिलाफ क्यों नहीं हो रही कार्रवाई ?
‘एक्सपर्ट मीडिया न्यूज’ का असर, निगरानी जांच को लेकर डीपीओ ने मांगी नियोजित शिक्षकों का फोल्डर
बाहुबलियों की जंग में कौन होगा मुंगेर का 'सरकार '
काफी धूम-धाम से मना राजगीर केन्द्रीय विद्यालय का वार्षिकोत्सव
...और केन्द्रीय मंत्री गिरिराज सिंह खुद हो गए ‘देशद्रोही’
बोले बिहार शरीफ नगर आयुक्त- अधिवक्ता संघ से वार्ता को तैयार है जिला प्रशासन
सभी 40 लोकसभा सीटों पर एनडीए प्रत्याशी घोषित, देखिए सूची, कौन कहां लड़ेंगे
 मंत्री श्रवण कुमार की गला फांस बनी जीभ, कहा- सिलाव में उपद्रव के पीछे भाजपा-वाभन-राजपूत
पटना पुलिस कांस्टेबल मर्डर के शूटर के ऐसे वायरल फोटो से मची सनसनी
साइकिल से सड़क पर उतरे पटना एसएसपी, की बख्तियारपुर तक पेट्रोलिंग
भूमिहीन और कर्जदार हैं नीतिश, जबकि उनका बेरोजगार बेटा है मालामाल
नालंदा लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी के आचरण को लेकर रोष
नालंदा के रहुई में विवाहिता की हत्या, घर के आंगन में मिली लाश
राजगीर अनुमंडल-प्रखंडों में सीएम के सात निश्चय योजना पर अफसरों का टोटा
नालंदा के बिंद प्रखंड के राजस्व कर्मचारी की चलती बस में गोली मार कर नृशंस हत्या
रालोसपा के मानव श्रृखंला को राजद के मिले साथ से एनडीए में हडकंप
मितमा लूटकांड का उदभेदनः नगद व वाइक बरामद, लेकिन अपराधी फरार
सीवान में ट्रेन की चपेट में आने से 4 लोगों की मौत, 1 की हालत गंभीर
मंत्री की माता के श्राद्ध कार्यक्रम में हेलिकॉप्टर से शामिल हुए सीएम
मेडिकल टूरिज्म को प्रमोट की जरूरतः डॉ. श्याम नारायण
नीतीश कुमार को अपने ही रिकार्ड को तोड़ने की होगी चुनौती
अलविदा ! 'सीमाचंल का गांधी' सांसद तस्लीमुद्दीन
हे राम! सरकारी स्कूल में मिला शराब का ढेर, प्रिंसीपल निकला माफिया
नहीं रहे नालंदा के प्रथम आईएएस केडी सिन्हा
हर राज़ से पर्दा उठा, लेकिन फैसला सुरक्षित, मामला राजगीर मलमास मेला सैरात भूमि का
प्रमंडलीय आयुक्त का बड़ा फैसलाः बक्सर के सारे BRP वर्खास्त, DPO समेत सबों पर राशि वसूल FIR का भी आदे...
अंततः यूं हाथी पर बैठ नालंदा का बेलछी पहुंचना इंदिरा जी को सत्ता दिला दी
मॉब लिंचिंग जागरुकता को लेकर शिक्षकों ने निकाली यूं बाइक रैली
मुठभेड़ के बाद पप्पू यादव को एसटीएफ ने सहरसा में दबोचा
पुलिस का खुलासाः अवैध संबंध में गई प्रदेश छात्र जदयू महासचिव की जान
सीएम नीतीश के काफिले पर खूब चले ईंट-पत्थर, कई लोग जख्मी
11 जिलों में 839 पुलिस इंस्पेक्टर, सब-इंस्पेक्टर,जमादार का रेंज ट्रांसफर, देखें पूरी सूची
पटना निगरानी ने सर्किल इंस्पेक्टर को घूस लेते रंगे हाथ दबोचा
लोकसभा के पांचवें चरण में क्षेत्रीय दलों की प्रतिष्ठा दांव पर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...
Loading...