देखिए सदर अस्पताल का आलम, एक बाप यूं ले जा रहा अपने जिगर का शव

Share Button

“नालंदा जिला सुशासन बाबू यानि सीएम नीतीश कुमार का गृह जिला माना जाता है। लेकिन यहां उनके चहेते अफसरों ने पूरी व्यवस्था को मजाक बना दिया है। सबाल उठाने पर आला अफसर भी सब थोथी दलील पर उतर आते हैं…….”

नालंदा  (दीपक विश्वकर्मा)। चमकी बुखार को लेकर जहाँ पूरे सूबे के सभी सरकारी अस्पतालों को अलर्ट कर परिजनों को सारी सुविधा निःशुल्क दी जा रही है। वहीं मुख्यमंत्री नीतीश के गृह जिले में एक बार फिर सदर अस्पताल प्रबंधन की बड़ी लापरवाही सामने आई है।

जहाँ सात साल के बेटे की मौत के बाद शव को पिता कंधे पर ले जाने को मजबूर दिखे। अस्पताल परिसर में मृत बच्चे को कंधे पर लेकर बच्चे के पिता काफी देर तक इधर से उधर धूमते रहे, मगर जिम्मेदारी अधिकारी या कर्मियों के से किसी की भी नजर इस पर नही पड़ी।

अंततः थकहार कर लाचार पिता किसी को कुछ बोले अस्पताल से लेकर निकल गए। जबकि सदर अस्पताल को सरकारी शव वाहन उपलब्ध कराए गए है। उस पर तैनात कर्मियों का यही काम होता है कि परिजन से पूछ कर शव वाहन उपलब्ध करवा देना।

दरअसल यह बालक परबलपुर थानां इलाके के सीता बिगहा निवासी सागर कुमार है। परिजनों ने बताया कि वह सुबह साइकिल चला कर घर आया इसके बाद वेहोश होकर गिर गया।

इसके बाद उसे एक निजी किलनिक में ले गए जहाँ चिकित्सक ने सदर अस्पताल रेफर कर दिया। यहाँ लाने पर चिकित्सक ने मृत घोषित कर दिया।

इधर नालंदा के जिलाधिकारी योगेंद्र सिंह ने इस मामले को गंभीरता पूर्वक लेते हुए जाँच के आदेश दिए हैं।

डीएम का कहना है इस कि इस मामले में अस्पताल कर्मियों का कहना है कि बच्चे के परिजन को वाहन उपलब्ध कराने की बात कही गयी थी, चुकि वाहन वर्तमान में अस्पताल में मौजूद नहीं था। उन्हें रुकने के लिए कहा गया मगर वे रुके नहीं और शव को लेकर चले गए।

वहीं अस्पताल उपाधीक्षक डॉ राम कुमार की दलील है कि बच्चे की मौत अस्पताल लाने  के पहले ही हो चुकी थी और जल्दी में बच्चे का शव लेकर चले गए।

मामला चाहे जो भी, मगर सरकार स्वास्थ्य सेवाओं को बेहतर बनाने के लाख दावे कर लें मगर आज भी सिस्टम लचर दिख रही है।

Share Button

Related News:

हिलसा में इस बार 551 फीट के कांवर से हुआ भोलेनाथ का जलाभिषेक
सीएम ने महोत्सव में किया था इस शौचालय का उद्घाटन, अफसरों ने 24 घंटे बाद ही लटका दिया ताला
विकास की रोशनी से कोसो दूर नालंदा का मियाँ बिगहा गाँव
भ्रष्टाचार की यूं भेंट चढ़ रही है सीएम सात निश्चय योजना
बेटी को इलाज कराकर लौट रही मां की सड़क हादसे में मौत
यहाँ कर्मचारियों के रग-रग में बसा हुआ है भ्रष्टाचार
मन-रे-गा-भ्रष्टाचार: नगरनौसा प्रखंड के अफसर का कोई सानी नहीं
निशु के घर खुद किताब लेकर पहुंचे रांची सदर डीएसपी
डायल 100 की रिलॉचिंग में बोले नीतीश- जिलों में DM-SP में नहीं है तालमेल
मितमा लूटकांड का उदभेदनः नगद व वाइक बरामद, लेकिन अपराधी फरार
डॉक्टरों ने कैदी को पहले बताया मृत, फिर परिजनों के बवाल के बाद किया रेफर
घुसखोरी में सस्पेंड माइनिंग अफसर 51 लाख रुपए कैश के साथ धराया
प्रभारी हेडमास्टरों ने यूं बेहाल कर रखी है हाई स्कूलों की शिक्षा व्यवस्था
जिलाधिकारी-सह-जिला निर्वाचन पदाधिकारी ने बैंकर्स प्रतिनिधियों को दिए ये निर्देश
सीएम साहब, राजगीर के ऐतिहासिक धरोहर के प्रति इतने लापरवाह क्यों है राजगीर प्रशासन?
बिहार शरीफ कोर्ट में चीफ जज श्याम किशोर झा ने लहराया तिरंगा
2रा वीडियोः आंगनबाड़ी सेविका-सहायिका के चयनकर्ता की भूमिका में था यह वर्दी वाला ‘गुंडा’
28 हजार की घूस लेते रंगे हाथ धराया परसा कार्यपालक पदाधिकारी
मीडिया बनी CBI डायरेक्टरः राबड़ी, इस्तीफा नहीं देंगे तेजस्वी: लालू
मुआवजा के बजाय उल्टी कार्रवाई की प्रशासनिक तैयारी से सिलाव के लोगों में भारी आक्रोश
छपरा जंक्शन गैंगरेप मामले में प्रभारी समेत 6 RPF के जवान सस्पेंड, FIR भी दर्ज
छात्रों को रिटोटलिंग नहीं पुर्नमूल्याकन चाहिए : उपेन्द्र कुशवाहा
कुज्जू के पास भीषण सड़क हादसाः एक ही परिवार के 10 लोगों की दर्दनाक मौत
नीरज सिंह हत्या के मुख्य आरोपी BJP MLA का सरेंडर
महिला कांस्टेवल ने नालंदा थाना प्रभारी पर लगाये छेड़खानी के आरोप !
हिलसा रेलवे स्टेशन पर देखिये पेयजल-शौचालय का हाल
नगरनौसा प्रखंड मुख्यालय पंचायत हुआ खुले में शौच मुक्त घोषित
नाबालिग छात्रा की छेड़खानी का वायरल वीडियो बनाने वाले सरपंच के बेटा का कोर्ट में सरेंडर
नये कॉलेजों में नये व्यवसायिक पाठ्यक्रमों का करें चयनः मुख्य सचिव
बड़े काले कारनामे हैं बिहारशरीफ में रिश्वत लेते धराये लैंड रजिस्टार की
आज फिर ACB के हत्थे चढ़ा एक घुसखोर अफसर
दनियावां पेट्रोल पंप पर नालंदा के युवक की गोली मारकर हत्या
लो अब बिहार भाजपा प्रवक्ता ने अटल जी के चित्र पर दीप जला दे दी पुष्पाजंलि
अभिराम के अभिमान ने डुबोई जहानाबाद में जदयू की लुटिया
डकैती मामले में पप्पू ने खोले कई राज, केवट गैंग का है अहम सदस्य
निजी ठेकेदारी में खट रहे हैं बिहारशरीफ नगर निगम के ठेला-मजदूर
पार्टी कार्यकारिणी बैठक के पहले शरद करेगें एंटी कम्यूनल सेमीनार
भ्रष्टाचारः साल भर में ही यूं जर्जर हो गई सड़क, लोगों का गुजरना दूभर
मोतिहारी बस हादसा बना रहस्य, आपदा मंत्री बोले- नही हुई कोई मौत
रिश्वतखोर सीओ को लेकर लामबंद सरकारी बाबूओं के खिलाफ हो कड़ी कार्रवाई

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...
Loading...