देखिए सदर अस्पताल का आलम, एक बाप यूं ले जा रहा अपने जिगर का शव

Share Button

“नालंदा जिला सुशासन बाबू यानि सीएम नीतीश कुमार का गृह जिला माना जाता है। लेकिन यहां उनके चहेते अफसरों ने पूरी व्यवस्था को मजाक बना दिया है। सबाल उठाने पर आला अफसर भी सब थोथी दलील पर उतर आते हैं…….”

नालंदा  (दीपक विश्वकर्मा)। चमकी बुखार को लेकर जहाँ पूरे सूबे के सभी सरकारी अस्पतालों को अलर्ट कर परिजनों को सारी सुविधा निःशुल्क दी जा रही है। वहीं मुख्यमंत्री नीतीश के गृह जिले में एक बार फिर सदर अस्पताल प्रबंधन की बड़ी लापरवाही सामने आई है।

जहाँ सात साल के बेटे की मौत के बाद शव को पिता कंधे पर ले जाने को मजबूर दिखे। अस्पताल परिसर में मृत बच्चे को कंधे पर लेकर बच्चे के पिता काफी देर तक इधर से उधर धूमते रहे, मगर जिम्मेदारी अधिकारी या कर्मियों के से किसी की भी नजर इस पर नही पड़ी।

अंततः थकहार कर लाचार पिता किसी को कुछ बोले अस्पताल से लेकर निकल गए। जबकि सदर अस्पताल को सरकारी शव वाहन उपलब्ध कराए गए है। उस पर तैनात कर्मियों का यही काम होता है कि परिजन से पूछ कर शव वाहन उपलब्ध करवा देना।

दरअसल यह बालक परबलपुर थानां इलाके के सीता बिगहा निवासी सागर कुमार है। परिजनों ने बताया कि वह सुबह साइकिल चला कर घर आया इसके बाद वेहोश होकर गिर गया।

इसके बाद उसे एक निजी किलनिक में ले गए जहाँ चिकित्सक ने सदर अस्पताल रेफर कर दिया। यहाँ लाने पर चिकित्सक ने मृत घोषित कर दिया।

इधर नालंदा के जिलाधिकारी योगेंद्र सिंह ने इस मामले को गंभीरता पूर्वक लेते हुए जाँच के आदेश दिए हैं।

डीएम का कहना है इस कि इस मामले में अस्पताल कर्मियों का कहना है कि बच्चे के परिजन को वाहन उपलब्ध कराने की बात कही गयी थी, चुकि वाहन वर्तमान में अस्पताल में मौजूद नहीं था। उन्हें रुकने के लिए कहा गया मगर वे रुके नहीं और शव को लेकर चले गए।

वहीं अस्पताल उपाधीक्षक डॉ राम कुमार की दलील है कि बच्चे की मौत अस्पताल लाने  के पहले ही हो चुकी थी और जल्दी में बच्चे का शव लेकर चले गए।

मामला चाहे जो भी, मगर सरकार स्वास्थ्य सेवाओं को बेहतर बनाने के लाख दावे कर लें मगर आज भी सिस्टम लचर दिख रही है।

Share Button

Related News:

‘SP के सामने थाना में DSP-INSPECTOR ने कुर्सी से बांध पैर फैलवा पूरे शरीर को चूर दिया’
घूस लेते रंगे हाथ निगरानी के हत्थे चढ़ा एकंगरसराय का दारोगा
ऐसी घटिया जलमीनार बनाने वालों पर हुआ FIR
पुलिस ने शराब-हथियार के साथ तीन बदमाशों को पकड़ा
पुरुषोतम ने लगाई जान-माल की सुरक्षा की गुहार, एसपी नालंदा ने किया आश्वस्त
सीएम के पड़ोसी गांव के इस हेड मास्टर ने शराब के नशे में खूब किया हंगामा
रांची बीएनआर होटल में फैशन फेस्टिवल और फैशन फेस्टिवल में सन्नाटा
नालंदा में शिक्षा का हालः कहीं 16 छात्र पर 5 शिक्षक तो कहीं 250 छात्र पर 2 शिक्षक
नहीं बख्शे जायेंगे महौल बिगाड़ने वाले उपद्रवीः एसडीओ
10 दिवसीय पारा विधिक स्वयं सेवकों के प्रशिक्षण कार्यक्रम का शुभारंभ
कोडरमा नागरिक मंच की बैठक में कार्यों की रिपोर्ट पेश
शांति और सुखदायक है पावापुरी की धरतीः गोविंद
पीएम मोदी के बयान पर नालंदा में भड़के 'धरती के भगवान', निकाला कैंडल मार्च
सीएम के नालंदा में भ्रष्टाचार से बने सिंचाई मंत्री के गांव का जलमीनार धाराशाही
राजगीर में पुलिस की हैवानियत, 5 लोगों को यूं अधमरा किया
पूर्व मंत्री मंजू वर्मा के घर से CBI को मिले 40 कारतूस समेत अहम सुराग
शर्मनाकः सदर अस्पताल से मोटरसाइकिल पर बेटी की लाश ढोते दिखा मजबूर बाप
बर्निंग बस के दर्दनाक हादसे पर हरनौत के विधायक हरिनारायण सिंह की संवेदनहीनता तो देखिये....
अब सीबीआइ सुलझायेगी रांची निर्भया कांड की गुत्थी
खुले में शौच जा रही लड़की को नोंच-नोंच कर खा गये कुत्ते, ओडीएफ घोषित था गांव

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

loading...
Loading...