थाना को बना रखा था कलाली, भारी मात्रा में शराब-पैसे के साथ थानेदार धराया

बिहार में शराबबंदी सिर्फ मजाक है। हर जगह बिक रही है। समूचा तंत्र मिला हुआ है। पुलिस तंत्र के लिए तो करोड़पति-अरबपति बनने का लॉटरी साबित है। सीएम नीतीश कुमार मुगालते में हैं कि उन्होंने शराबबंदी की नीति से बड़ी उपलब्धि हासिल की है, लेकिन इस अहं का दूसरा पहलु काफी भयावह है.…………”

एक्सपर्ट मीडिया न्यूज नेटवर्क। बिहार के मुजफ्फरपुर जिलान्तर्गत मीनापुर थाना का थानेदार रजनीश कुमार को भारी मात्रा में शराब बिक्री करने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया गया है। थाना को कलाली बनाने के आरोप में कई अन्य पुलिसकर्मियों को भी गिरफ्तार कर पूछताछ की जा रही है।  

एसएसपी मनोज कुमार को मुजफ्फरपुर के मीनापुर पुलिस स्‍टेशन के थानेदार रजनीश कुमार के बारे में पहले से शराब को लेकर शिकायत मिल रही थी। इसी बीच उस समय अफरातफरी मच गई, जब थानेदार रजनीश कुमार के कमरे से दो बोतल शराब मिली। उसके बाद तलाशी के दौरान आवास के दूसरे कमरे से भी भारी मात्रा में शराब बरामद की गई।

लेकिन, थानेदार रजनीश कुमार की थेथरई तो देखिए कि उसने एसएसपी मनोज कुमार से बोला कि “हां मैं शराब पीता हूं. अपने पीने के लिए घर में शराबा की बोतल भी रखता हूं”।

कहा जाता है कि स्थानीय लोगों ने इसकी शिकायत मुजफ्फरपुर से लेकर पटना में बैठे आलाधिकारियों से की थी। इसके बाद पटना से मुजफ्फरपुर के एसएसपी को निर्दोश दिया गया। तब जाकर आज मीनापुर थाना और थानेदार के घर पर छापेमारी की गयी।

थानेदार के घर पर शराब से भरी एक वैन बरामद की गयी। घर के अंदर भी शराब की कई बोतलें मिली। थानेदार ने कहा कि वो खुद के पीने के लिए शराब की बोतल घर में रखता था।

एसएसपी मनोज कुमार के अनुसार मीनापुर के लोगों ने थानेदार रजनीश के खिलाफ शराब बेचने और शराब के अवैध कारोबारियों को संरक्षण देने की शिकायत मिली थी।

थानेदार पर आरोप था कि उसने एक सप्ताह पहले नेउरा में बड़ी तादाद में शराब पकड़ी लेकिन पैसे लेकर उसे छोड़ दिया। शिकायतों के बाद आज कार्रवाई की गयी। थानेदार के घर पर हुई छापेमारी में बड़ी मात्रा में शराब और नगद पैसे बरामद किये गये हैं।

थानेदार की गिरफ्तारी के बाद मीनापुर थाने की जब्ती सूची और थाने में रखे गये शराब की मिलान की गई। उसमें भी बड़े पैमाने पर गड़बड़झाला सामने आई है।

मीनापुर के थानेदार रजनीश कुमार के कमरे से शराब मिलने के मामले को एसएसपी मनोज कुमार ने गंभीरता से लिया है। वे थानेदार को हिरासत में लेकर लंबी पूछताछ किए। बताया जाता है कि मिलान करने पर सीजर लिस्ट से अधिक शराब बरामद हुआ। जिसके बाद आरोपी थानेदार रजनीश कुमार को गिरफ्तार किया गया है।

उधर दरभंगा जिला के फेकला ओपी प्रभारी बासुदेव सिंह को नशे की हालत में टाउन एसपी योगेंद्र कुमार ने गिरफ्तार कर लिया। उनके खिलाफ स्थानीय लोगों से शिकायत की थी। उसके बाद नशे की हालत में ओपी प्रभारी को गिरफ्तार करने के बाद को सस्‍पेंड कर दिया गया है।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.