तालाब में डूबने से एक साथ 7 बच्चों की मौत, 3 गंभीर

Share Button

दोपहर करीब 12 बजे डोइला गांव गांव के 10 बच्चे तालाब में नहाने गए थे। नहाने के दौरान एक बच्चा डूबने लगा। उसे बचाने के चक्कर अन्य 9 बच्चे तालाब में कूद गए। इसके बाद सभी डूबने लगे……”

एक्सपर्ट मीडिया न्यूज नेटवर्क। बिहार के छपरा जिले में रविवार दोपहर तालाब में नहाने गए 7 बच्चों की डूबने से मौत हो गई। तीन बच्चों की हालत गंभीर है। जिन्हें प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया है।

यह हादसा जिले के इसुआपुर प्रखंड के डोइला गांव की है। जहां नहाने के दौरान 7 बच्चों की डूबकर मौत हो गई है। इस हादसे के बाद इलाके में मातमी सन्नाटा पसर गया है।

जानकारी के मुताबिक, दोपहर करीब 12 बजे डोइला गांव गांव के 10 बच्चे तालाब में नहाने गए थे। नहाने के दौरान एक बच्चा डूबने लगा। उसे बचाने के चक्कर 10 बच्चे तालाब में कूद गए। इसके बाद सभी डूबने लगे।

स्थानीय लोगों ने सभी बच्चों को बाहर निकाला और हॉस्पिटल ले गए। जहां डॉक्टरों ने सात बच्चों को मृत घोषित कर दिया। 7 बच्चों की मौत के बाद पूरा गांव सदमे में है।

बता दें कि छपरा में पिछले दो दिनों से भारी बारिश हो रही है जिसकी वजह से सारे नदी-तालाब उफान पर हैं। मौसम विभाग ने तीन से चार दिनों तक बारिश को लेकर अलर्ट किया है।

Share Button

Related News:

ऐसे अनस्कील्ड चला रहे हैं बिहार स्कील डेवलपमेंट मिशन
तारिक अनवर ने राफाएल पर सांसदी छोड़ एक तीर से यूं साधे कई निशाने
'राजगीर मलमास मेला सैरात भूमि से 17-18 जुलाई को हटेगा अतिक्रमण'
शिक्षक के शव के साथ ऐसे पुलिस व्यवहार की हो रही तीखी आलोचना
नालंदा में चरमराई शिक्षा व्यवस्था, सड़क पर यूं उतरे छात्र-अभिभावक, मचा बबाल
नीमगंज टीओपी प्रभारी की हीटर पर खाना बनाते करंट लगने से मौत, लेकिन मामला काफी संदिग्ध
बागवानी मिशन की योजनाओं का करें व्यापक प्रचारः डीएम
श्रावणी मेला: पुलिस की निष्क्रियता से कांवरिया पथ पर चोर उचक्के की चांदी
सांप्रदायिक दंगा रोकने जब नेहरु जी पहुंचे नगरनौसा, बिनोबा जी ने कहा- 'लोकदेव'
6वीं कक्षा की नाबालिग छात्रा के साथ रेप, कार्रवाई में जुटी पुलिस
दो फरार शराब धंधेबाज को नालंदा पुलिस ने दबोचा
पुलिस की सक्रियता से एक बड़ा बलवा यूं टला
भष्ट है गौरॉर मुखिया, गरीब-असहायों से यूं डकारता है बड़ी कमीशन
पेड़ों को राखी बांधकर लेंगे सुरक्षा और पर्यावरण बचाने का संकल्प
भू जल के दोहन को रोकने के लिए शोध जरूरी : प्रो. सुनैना
दैनिक भास्कर रोहतक के एडीटोरियल हेड जितेंद्र श्रीवास्तव ने ट्रेन से कटकर की आत्महत्या
हैट्रिक लगाने उतरे कौशलेन्द्र सुने यूं खरी-खोटी
सीट बंटबारे के बाद यूं खिलखिला रहे महागठबंधन के नेता
डॉ सुनील कुमार दुबे को मिला प्रदेश का बेस्‍ट आयुर्वेदाचार्य अवार्ड
जिला परिषद-प्रशासन के लिये चुनौती बना थाना का अदद पुलिस कांस्टेबल

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

loading...
Loading...